class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

चेहरे का निखार: ऐसे चुनें अपने लिए परफेक्ट facial

चेहरे का निखार: ऐसे चुनें अपने लिए परफेक्ट facial

हमारी त्वचा की सतह हर 28 दिन के बाद फिर से बनती है। मतलब त्वचा की सबसे ऊपरी सतह मृत त्वचा के रूप में निकल जाती है और नई कोशिकाएं निर्मित होती हैं, जिससे त्वचा में निखार आता है। उम्र बढ़ने के साथ यह प्रक्रिया थोड़ी धीमी हो जाती है, इसलिए त्वचा में निखार लाने के लिए हमें कृत्रिम सपोर्ट की जरूरत होती है। यही वजह है कि मृत त्वचा से छुटकारा पाने के लिए नियमित रूप से स्क्रब का इस्तेमाल करने की सलाह दी जाती है। जो महिलाएं नियमित रूप से ऐसा नहीं कर पाती हैं, उनके लिए नियमित क्लींजिंग व फेशियल बहुत जरूरी होता है। फेशियल से त्वचा को पोषण मिलता है और त्वचा चमक उठती है। 

सबसे पहले यह जानना जरूरी है कि आपकी त्वचा की प्रकृति कैसी है और कौन-सा फेशियल उसके अनुरूप होगा। सिर्फ फेशियल का नाम व कीमत सुनकर फेशियल करवाने से कोई लाभ नहीं मिलता। फेशियल में सबसे पहले त्वचा की सफाई की जाती है। उसके बाद स्क्रब की मदद से मृत त्वचा को निकाला जाता है। स्क्रब का इस्तेमाल करने के बाद स्टीम देकर चेहरे की गंदगी जैसे ब्लैकहेड्स आदि निकाले जाते हैं और फिर त्वचा की प्रकृति के मुताबिक जेल व क्रीम की मदद से चेहरे का मसाज किया जाता है। सबसे अंत में फेस मास्क लगाकर रोमछिद्रों को बंद किया जाता है ताकि चेहरे को दिए गए पोषण को लॉक किया जा सके। ऐसा नहीं करने से खुले रोमछिद्र में फिर से गंदगी जम जाती है। फेशियल कब और कितने दिन में करवाया जाए, यह आपकी उम्र पर निर्भर करता है। यदि आपकी उम्र 20 से 30 साल के बीच है तो महीने में एक बार फेशियल करवाना पर्याप्त होगा। इससे ज्यादा उम्र होने पर आपको हर 3 सप्ताह पर फेशियल करवाना चाहिए। यदि आपको लगता है कि 15 दिन के बाद आपकी त्वचा मुरझा गई है तो आप 15 दिन के बाद भी फेशियल करवा सकती हैं। अगर आपके चेहरे पर मुंहासे हैं तो महीने में एक बार ही फेशियल कराएं। अगर आपका चेहरा तैलीय है तो महीने में दो बार क्लीनअप जरूर करवाएं।

ऐसे चुनें फेशियल
अकसर पार्लर में कई तरह का फेशियल देखकर आप इस दुविधा में पड़ जाती होंगी कि कौन-सा फेशियल कराएं। आइए, हम आपकी इस दुविधा को दूर करें:

सामान्य से रूखी त्वचा वालों के लिए
सामान्य से रूखी त्वचा वाली महिलाओं को पोषण युक्त ऐसा फेशियल करवाना चाहिए, जिसमें नमी की मात्रा अधिक हो:
अल्फा हाइड्रॉक्सी एसिड फेशियल: यह फेशियल मृत त्वचा को हटा कर त्वचा में नई ऊर्जा भर देता है। इस फेशियल को करवाने के बाद त्वचा रूखी नजर नहीं आती है। सामान्य त्वचा वाली महिलाएं भी यह फेशियल करवा सकती हैं।
 

प्लांट स्टेम सेल फेशियल: इस फेशियल से त्वचा में नई कोशिकाओं का निर्माण होता है और त्वचा जवां नजर आती है। इस फेशियल में पौधों की स्टेम सेल से त्वचा की मसाज की जाती है, जिसकी वजह से त्वचा की खोई चमक तेजी से वापस आती है। 

तैलीय त्वचा वालों के लिए
तैलीय त्वचा वालों को कील व मुंहासों की शिकायत अधिक होती है, इसलिए उन्हें क्रीम से मसाज की सलाह नहीं दी जाती है। ऐसी त्वचा की एक्फॉलिएटर व टोनर की मदद से गहराई से सफाई की जाती है और फिर मास्क की मदद से त्वचा में कसाव लाया जाता है।
 

फ्रूट बायोपील: तैलीय त्वचा वालों के लिए यह फेशियल काफी उपयोगी होता है। इसमें तमाम तरह के फलों के अलावा पपीते के एंजाइम्स का इस्तेमाल किया जाता है, जिससे त्वचा की रंगत भी निखरती है। इस फेशियल से बढ़ती उम्र के लक्षण भी हल्के हो जाते हैं।
 

पर्ल फेशियल: इस फेशियल से त्वचा की टैनिंग भी खत्म हो जाती है और त्वचा पूरी तरह से साफ और चमकदार भी हो जाती है। इससे त्वचा में नमी भी बरकरार रहती है।
 

ओजोन फेशियल: यह फेशियल एक्ने और मुंहासे वाली त्वचा के लिए सही है। इसमें त्वचा को ओजोन स्टीम देकर पूरी तरह से नमी प्रदान की जाती है।

मिलीजुली त्वचा वालों के लिए
मिलीजुली त्वचा का फेशियल करते वक्त खास ध्यान देने की जरूरत होती है, क्योंकि चेहरे का कुछ हिस्सा रूखा होता है और कुछ तैलीय। इस त्वचा में फेशियल के दौरान चेहरे की सफाई के बाद चेहरे के रूखे हिस्से में मसाज किया जाता है और गुलाब वाला स्किन टॉनिक लगाया जाता है।
 

प्लैटिनम फेशियल: प्लैटिनम फेशियल से त्वचा रिचार्ज हो जाती है और उसे नई ऊर्जा मिलती है। यह त्वचा की कोशिकाओं पर एंटी आक्सीडेंट प्रभाव डालता है, जिससे त्वचा में चमक आती है।
 

गोल्ड फेशियल: इस फेशियल में स्किन पर गोल्ड का  ट्रीटमेंट देकर निखार लाया जाता है। इस फेशियल में इस्तेमाल होने वाले अधिकतर प्रोडक्ट्स में 22 कैरेट सोना होता है। इस फेशियल का असर लंबे समय तक रहता है।

स्किन पॉलिशिंग फेशियल: इस फेशियल में ऐसी क्रीम का इस्तेमाल किया जाता है, जिसमें खास तरह के कॉलिजन होते हैं। इसमें चेहरे की सफाई के बाद उसकी परत भी निकलने लगती है। यह फेशियल लगातार करवाने से चेहरे के दाग-धब्बे भी हल्के पड़ने लगते हैं और रंगत भी बेहतर हो जाती है।

मिनरल फेशियल: इस फेशियल के जरिये चेहरे की त्वचा के अंदर मिनरल्स की कमियों को पूरा किया जाता है। नियमित रूप से यह फेशियल करवाने से चेहरे की त्वचा को पोषण मिलता है और चेहरे की मृत त्वचा हट जाती है। इस फेशियल को करवाने से चेहरा निखरा हुआ और स्वस्थ नजर आता हैं।
 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:how to choose facial according to your skin type