class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

आगरा में यमुना किनारे एक और शव मिला, हत्या की आशंका

यमुना किनारे झाड़ियों में एक और युवक की हत्या कर दी गई। एक महीने के अंदर यह तीसरी हत्या है। गुरुवार सुबह फैक्ट्रीकर्मी का शव लिंक रोड पर मिला। चेहरा और सिर पत्थर से कुचला हुआ है। पर्स गायब है। परिजनों पर लुटेरों पर शक है। पुलिस पड़ताल में जुट गई है।

कोटली की बगीची(ताजगंज) निवासी विनय सिंह (50) फ्रीगंज स्थित जूता फैक्टरी में काम करते थे। तीन बेटी और दो बेटे हैं। बुधवार सुबह नौ बजे वह पत्नी मंजू से फैक्टरी जाने की कहकर निकले थे। शाम सात बजे ड्यूटी खत्म हो जाती थी। रात आठ बजे तक वह घर पहुंच जाते थे लेकिन वह घर नहीं पहुंचे तो परिजनों को चिंता सताने लगी। तलाश शुरू कर दी। गुरुवार सुबह राहगीरों की नजर हाथीघाट के लिंक रोड पर झाड़ियों में पड़े शव पर गई। चेहरा पूरी तरह से कुचला हुआ था। सिर में भी चोट के निशान थे। शव मिलने की जानकारी पर परिजन वहां पहुंच गए। कपड़ों के आधार पर शिनाख्त करा दी। घर में कोहराम मच गया। सूचना पर रकाबगंज पुलिस पहुंच गई। पुलिस ने पड़ताल के बाद शव पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। पुलिस का कहना है कि पड़ताल की जा रही है। बेटे हरेश ने पर्स गायब होने की जानकारी दी है। किसी से रंजिश नहीं जताई है।

27 और 29 नवम्बर को मिले थे शव

लिंक रोड पर 27 और 29 नवम्बर की सुबह दो युवकों की लाश मिल चुकी हैं। उनके चेहरे कुचले हुए थे। शव को जला दिया गया था। 29 नवम्बर को मिले शव की शिनाख्त धांधुपुरा के युवक के रूप में हुई थी। पुलिस इन हत्याओं का भी खुलासा नहीं कर सकी है। हत्या का शक इलाके में सक्रिय समलैंगिक गिरोह पर है लेकिन अभी तक एक भी आरोपी नहीं पकड़ा जा सका है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:One more body found at the bank of Yamuna