class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

मथुरा में एक दिन में पुलिस ने किए तीन खुलासे, 12 पकड़े

दीपावली पर्व से पूर्व जिले में अपराध व अपराधियों पर प्रभावी अंकुश लगाए जाने को लेकर एसएसपी मोहित गुप्ता के निर्देशन में पुलिस टीमें लगी हुई हैं। मुखबिर की सूचना पर स्वाट टीम ने वृंदावन पुलिस के साथ मिलकर मृत फौजी की पत्नी की हत्या की सुपारी लेकर मारने की फिराक में घूम रहे चार युवकों को पकड़ा, तो कोतवाली पुलिस ने लुटेरे गैंग के सरगना समेत छह को पकड़ा। इनकी दीपावली से पूर्व दो तीन स्थानों पर लूट की योजना थी।

देवर ने ही दी थी भाभी की हत्या की सुपारी

एसपी सिटी आलोक प्रियदर्शी ने बुधवार को जानकारी देते हुए बताया कि स्वाट टीम प्रभारी हरीशवर्धन ने मुखबिर की सूचना पर वृंदावन प्रभारी निरीक्षक मुनीश चंद्र व जैंत प्रभारी राकेश यादव के साथ आझई कट के पास से मंगलवार की रात चार युवकों को पकड़ा। पकड़े गए युवक रामवीर निवासी ठेका वाली गली चौमुंहा,जगवीर निवासी महरौली गोवर्धन, हाल मायापुरम हाईवे, तेजपाल निवासी मारुफ थोक चौमुंहा, मोनू शर्मा निवासी मोहल्ला ब्रह्मनगर चौमुंहा ने पूछताछ में बताया कि उन्हें चौमुंहा निवासी अनिल उर्फ तोता ने फौजी भाई पीताम्बर उर्फ प्रीतम की मौत के बाद चालीस लाख भाभी खाते में आएंगे।

रुपये हड़पने के लिए उसने अपनी भाभी की हत्या की सुपारी आठ लाख रुपये में दी थी। पकड़े गए शातिरों ने छाता हाईवे पर पांच सितंबर की रात कार सवार दिल्ली शाहपुर निवासी भोपाल व उसकी पत्नी से लूटी गयी नगदी,जेवर,एक जुलाई को चौमुंहा के समीप आश्रम से लूट,वृन्दावन से बाइक लूट व एक बाइक चोरी की घटना भी स्वीकारी। इनके कब्जे से दो सबमर्सिबल, एक इन्वर्टर, दो बाइक, सोने की चेन, अंगूठी, कानों के टॉप्स, तमंचा व कारतूस बरामद किए हैं, जबकि हरिओम व अनिल उर्फ तोता फरार हैं। एसएसपी ने पांच हजार का इनाम दिया है।

लूट की योजना बनाते छह शातिर दबोचे

एसपी सिटी आलोक प्रियदर्शी ने बुधवार को जानकारी देते हुए बताया कि कोतवाली प्रभारी निरीक्षक संजय जायसवाल ने मुखबिर की सूचना पर मंगलवार की रात छह शातिर लुटेरों को मालगोदाम रोड पर रेलवे लाइन के समीप से पकड़ा। तलाशी के दौरान इनके कब्जे से पूर्व में की गयी लूट के 60 हजार रुपये,नशीला पाउडर साढ़े चार किलो,दो तमंचा व कारतूस बरामद किया। पूछताछ पकड़े गये युवकों ने अपने नाम मन्नू बाल्मीकि उर्फ मंजीत निवासी बाल्मीकि बस्ती वृन्दावन हाल निवासी उत्तम नगर, अजय निवासी हरदाया अछनेरा, प्रमोद निवासी लखनपुरा सिकंदरा, मन्नू उर्फ अनूप निवासी रेलवे कॉलोनी गोपाल नगर कोतवाली मथुरा, कृष्णा बघेल रसूलपुर चांदहट पलवल व लक्ष्मन निवासी छरौरा बताया।

एसपी सिटी ने बताया कि लूट गैंग के सरगना मन्नू वाल्मीकि पर 12 मुकदमे हैं। यह पहली बार पुलिस की पकड़ में आया है। इसका साथी प्रमोद पर लूट,हत्या के 22 मुकदमें है। दोनों शातिर हिस्ट्रीशीटर हैं। इन्होंने इससे पूर्व उन्नाव में मथुरा के व्यापारी से पांच किलो सोना व 55 लाख रुपये की कन्नौज में दो किलो सोना व 19 लाख रुपये की लूट की थी,तो फरह में भी लूट की घटना में शामिल थे। मथुरा में स्कूटी सवार सराफ से मालगोदाम रोड से सवा क्विंटल चांदी,कृष्णानगर में किसी सराफ के यहां तो वृंदावन में भी लूट की घटना को अंजाम देने की योजना थी। एसएसपी मोहित गुप्ता की ओर से पांच हजार रुपये इनाम घोषित किया गया।

मोबाइल छीनने वाले दबोचे

मथुरा। एसपी सिटी आलोक प्रियदर्शी ने बताया कि मंगलवार की रात सवा आठ बजे राधिका विहार के समीप से सर्विलांस प्रभारी सत्यवीर सिंह व रिपोर्टिंग पुलिस चौकी कृष्णानगर प्रभारी विनोद कुमार ने मुखबिर की सूचना पर दो शातिरों को पकड़ा। पूछताछ में पकड़े गये मोहित व गोपाल निवासीगण ज्योति नगर ने बताया कि वह आम राहगीरों से अपने किसी परिचित को मोबाइल से बात करने की कहकर मोबाइल मांगते थे। जैसे ही वह मोबाइल देता था बाइक से लेकर भाग जाते थे। पुलिस ने इनके कब्जे से सात मोबाइकल सैमसंग, जियोनी, माइक्रोमैक्स के बरामद किये हैं। एसएसपी की ओर से पुलिस टीम को पांच हजार रुपये इनाम दिया है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:One day, three revelations of police, 12 arrested
From around the web