Image Loading Highway jammed on note ban in Firozabad - LiveHindustan.com
सोमवार, 05 दिसम्बर, 2016 | 09:53 | IST
Mobile Offers Flipkart Mobiles Snapdeal Mobiles Amazon Mobiles Shopclues Mobiles
खोजें
ब्रेकिंग
  • पढ़ें वरिष्ठ हिंदी लेखक महेंद्र राजा जैन का ये लेख, 'उनके लिए तो नाम में ही सब कुछ...
  • पढ़ें मिंट के संपादक आर सुकुमार का ब्लॉग, 'नए मानकों की तलाश करते कारोबार'
  • चेन्नईः जयललिता की सलामती के लिए समर्थक कर रहे हैं दुआ, अपोलो अस्पताल के बाहर...
  • एक ही नजर में शिखर धवन को भा गई थीं आयशा, भज्जी बने थे लव गुरु। क्लिक करके पढ़ें...
  • भविष्यफल: धनु राशिवाले आज आत्मविश्वास से परिपूर्ण रहेंगे और परिवार का सहयोग...
  • हेल्थ टिप्स: ये हैं हेल्दी लाइफस्टाइल के 5 RULE, डाइट में शामिल करने से पेट रहेगा फिट
  • GOOD MORNING: जयललिता को दिल का दौरा पड़ा, अस्पताल के बाहर जुटे हजारों समर्थक, अन्य बड़ी...

फिरोजाबाद में कैश न मिलने पर हाईवे जाम, हंगामा काटा

फिरोजाबाद हिन्दुस्तान संवाद First Published:01-12-2016 09:55:16 PMLast Updated:01-12-2016 10:00:35 PM

राजा का ताल में कैश की समस्या और फिर ऊपर से बैंक न खोले जाने से गुस्साए लोगों ने जमकर हंगामा किया। लोगों ने बैंक के सामने ही जाम नहीं लगाया बल्कि एकत्रित होकर हाईवे पर जाम लगा दिया। गुस्साए लोगों ने वाहनों पर तोड़फोड़ का भी प्रयास किया। करीब 20 मिनट तक लगे जाम की वजह से वाहनों की लंबी कतार लग गई। मौके पर पहुंची पुलिस ने लोगों को समझा-बुझाकर जाम खुलवा दिया।

राजा का ताल में अली नगर केंजरा स्थित सिंडीकेट बैंक गुरुवार दोपहर तक नहीं खुली। तड़के चार बजे से लोग कैश की आस में बैंक के बाहर लाइन में खड़े हो गए थे। तमाम लोग चादर लेकर पहुंचे थे। ताकि थक जाएं तो फिर आराम भी कर लें। सुबह दस बजे तक जब बैंक नहीं खुली तो फिर लोगों ने नारेबाजी करना शुरू कर दी। साढ़े दस बजे तक भी बैंक न खुलने पर लोगों के सब्र का बांध टूट गया। लोग एकत्रित होकर राजा का ताल सड़क पर आ गए और जाम लगा दिया। जमकर नारेबाजी की। तमाम लोग सड़क पर बैठ गए। करीब आधे घंटे तक जाम लगाए रखा।

महिलाओं ने जमकर नारेबाजी की। उसके बाद लोग एकत्रित होकर हाईवे पर पहुंच गए। महिलाएं हाईवे पर जाम लगाकर बैठ गईं। नारेबाजी करने लगीं। गुस्साए लोगों ने वाहनों पर तोड़फोड़ का भी प्रयास किया लेकिन उन्हीं में से कुछ लोगों के समझाने पर तोड़फोड़ नहीं की गई। हाईवे के दोनों मार्गों पर लोगों ने जाम लगा दिया। तमाम लोगों ने निकलने का प्रयास किया तो लोगों के गुस्से का शिकार होना पड़ा। मांग थी कि बैंक खुलवाई जाए और कैश दिलवाया जाए।

हर रोज यही हो रहा है कि कैश नहीं है। आखिरकार कैश देने में क्यों टालमटोली की जा रही है जबकि चहेतों को खूब कैश दिया जा रहा है। इस बीच राहगीरों में जमकर झड़पें भी हुईं। मौके पर पहुंची पुलिस ने लोगों को समझा-बुझाकर जाम खुलवा दिया। आवागमन सुचारू हुआ।

चालकों ने खेतों से निकाली कारें

फिरोजाबाद। राजा का ताल पर जाम की वजह से तमाम लोगों ने कारें खेतों से निकालीं। दोनों तरफसे जब वाहनों का आना-जाना शुरू हुआ तो वहां भी व्यवस्था लड़खड़ाई, मशक्कत के बाद मेढ़ पर चढ़ाकर लोगों ने कारें निकालीं।

हमारी ट्रेन निकल जाएगी, हमें जाने दो

फिरोजाबाद। एक टवेरा में करीब आधा दर्जन लोग सवार थे, जिन्होंने जाम लगाने वालों से ट्रेन निकल जाने की बात कहते हुए निकलने की बात कही, हालांकि उनको भी नहीं निकलने दिया गया। जाम के चलते तमाम लोगों ने राजा का ताल से वाहन निकाले और फिर उसायनी पर निकले। बताते चलें कि राजा का ताल चौराहा और उसायनी चौराहा के बीच जाम लगाया गया।

रोडवेज यात्री उतरे बसों से

फिरोजाबाद। तमाम रोडवेज बसयात्री बसों से उतर कर आ गए। लोग जाम खुलने का इंतजार कर रहे थे। जाम में खड़े लोग परेशान हो रहे थे। कोहरे के बीच वे बाहर आकर खड़े थे और हंगामा करने वालों का विरोध करने का साहस नहीं जुटा पा रहे थे।

जरूर पढ़ें

 
Hindi News से जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
Web Title: Highway jammed on note ban in Firozabad
 
 
 
अन्य खबरें
 
From around the Web
जरूर पढ़ें
Rupees
क्रिकेट स्कोरबोर्ड