Image Loading Daughter and her lover beaten in Agra - LiveHindustan.com
मंगलवार, 06 दिसम्बर, 2016 | 06:16 | IST
Mobile Offers Flipkart Mobiles Snapdeal Mobiles Amazon Mobiles Shopclues Mobiles
खोजें
ब्रेकिंग
  • तमिलानाडु: पन्नीरसेल्वम ने मुख्यमंत्री पद की शपथ ली
  • पीएम मोदी ने जयललिता के निधन पर दुख जताया, कहा- देश की राजनीति में बड़ी क्षति
  • तमिलनाडु की मुख्यमंत्री जयललिता का निधन
  • दिल्ली: आईजीआई एयरपोर्ट के टी-3 की पार्किंग के वाशरूम में 12 जिंदा कारतूस मिले
  • बहते मिले लाखों रुपये के नोट तो नहर में यूं कूद पड़े लोग, क्लिक कर देखें वीडियो
  • पढ़ें मिंट के संपादक आर सुकुमार का ब्लॉग, 'नए मानकों की तलाश करते कारोबार'

करवाचौथ पर बेटी की आशिक सहित धुनाई

एत्मादुद्दौला (आगरा), हिन्दुस्तान संवाद First Published:19-10-2016 10:10:28 PMLast Updated:19-10-2016 10:20:11 PM

सीतानगर में बुधवार को करवाचौथ पर प्रेमिका से मिलने आए आशिक की जान पर बन आई। युवती के घरवालों ने उसे बंधक बना लिया। बेरहमी से पीटा। बेटी ने विरोध किया तो उसके साथ भी मारपीट की गई। आरोप है कि दोनों को जिंदा जलाने का प्रयास किया गया। पुलिस ने पहुंचकर उन्हें मुक्त कराया। वहीं माता-पिता यह आरोप लगा रहे हैं कि उन्हें जलाने का प्रयास हुआ।

एसओ एत्मादुद्दौला ने बताया कि बेटी के प्रेम संबंधों की घरवालों को पहले से जानकारी है। उन्होंने उस पर पाबंदी लगा रखी हैं। घर में सीसीटीवी कैमरे लगवा दिए हैं। युवती ने बुधवार को व्रत रखा था। वह बाथरूम में छिपकर अपने प्रेमी से मोबाइल पर बातचीत कर रही थी। घरवालों ने उसकी बातचीत सुन ली। बेटी से मोबाइल छीन लिया। बातचीत के अनुसार प्रेमी को प्रेमिका से मिलने आना था। घरवालों ने उसके आने का इंतजार किया। जैसे ही वह आया उसे दबोच लिया। बेटी और उसके प्रेमी से घेरकर पीटा।

युवती ने पुलिस को बताया कि पिता ने वार्निश डालकर जलाने का प्रयास किया। उसके बाल चिपक गए हैं। काटने पड़ेंगे। युवती के परिजन खुद थाने पहुंचे थे। बेटी और उसके प्रेमी को घर में बंद कर आए थे। पुलिस ने आकर दोनों को मुक्त कराया। बातचीत के बाद पुलिस उन्हें थाने ले गई। एसओ ने बताया कि युवती के कोर्ट में बयान दर्ज कराए जाएंगे। वह माता-पिता के साथ नहीं जाना चाहती। वहीं दूसरी तरफ युवती के पिता का आरोप है कि युवक लाखों के जेवरात बेटी को गुमराह करके ले चुका है। उनके पड़ोस में उसकी घड़ी की दुकान है। वह बेटी से प्यार नहीं करता। उसकी नजर उनके पैसों पर है।

सुहाग के दीदार को पुलिस की शरण में

आगरा। वेलेंटाइन डे पर मंदिर में रचाई गई शादी टूटने के कगार पर है। पति बदल जाएगा। इस आस के साथ महिला ने बुधवार को करवाचौथ का व्रत रखा। पति मिल जाए। पुलिस ही उसे लेकर आ जाए। इस आस वे वह आईजी ऑफिस आ गई। प्रार्थना पत्र दिया। आरोप लगाया कि पति बेवफा हो गया है। को ही मानने को तैयार नहीं है।

गाजियाबाद निवासी शीतल (बदला हुआ नाम) हाथों में सुहाग की मेहंदी लगाकर पहले एसपी सिटी ऑफिस आई थी। यहां से आईजी ऑफिस पहुंची। पुलिस को बताया कि आगरा निवासी मयंक सोनी ने उसे धोखा दिया है। उसकी पहली शादी संजय के साथ हुई थी। एक्सीडेंट में पति की मौत हो गई। उसे नौकरी करनी पड़ी। इसी दौरान मयंक से मुलाकात हुई। उसने उसे प्यास के जाल में फंसा लिया। 14 फरवरी 2015 को मंदिर में शादी रचाई।

कोर्ट में शादी रजिस्टर्ड कराई मगर चालाकी से तारीख गलत लिखा दी। उस तारीख की शादी दिखा दी जब उसके पति जिंदा थे। अब छह माह से मयंक ने फोन बंद कर रखा है। उसे सिर्फ ईमेल भेजता है। कहता है कि उसका पीछा छोड़ दे। वह परेशान है। समझ नहीं पा रही है कि क्या करे। शादी के वह आधा दर्जन से अधिक जगह पति-पत्नी बनकर गए। होटलों में इसी रिश्ते से कमरा लिया। उसके पास तारीख और रिकार्ड है। वह मयंक के खिलाफ कानूनी कार्रवाई नहीं अपना हक चाहती है। उसका व्रत है। पुलिस पति को ले आए तो उसका आना सार्थक हो जाएगा। शीतल को मयंक के घर का सही पता नहीं मालूम था। उसकी शिकायत पर जांच कर कानूनी कार्रवाई के आदेश दिए गए हैं।

जरूर पढ़ें

 
Hindi News से जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
Web Title: Daughter and her lover beaten in Agra
 
 
 
अन्य खबरें
 
From around the Web
जरूर पढ़ें
Rupees
क्रिकेट स्कोरबोर्ड