class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

नास्तिक सम्मेलन के आयोजक पर लगाए बिन्दुवार छह आरोप, कार्रवाई की मांग

नास्तिक सम्मेलन के आयोजक द्वारा सभी धर्मों के विरोध में भड़काऊ टिप्पणी करने पर नगर वासियों को आक्रोश बना हुआ है। उत्तरप्रदेश उपभोक्ता कल्याण परिषद ने आयोजक पर छह बिंदूवार आरोप लगाते हुए जिला प्रशासन से उसके विरुद्ध रिपोर्ट दर्ज कर सख्त कार्रवाई की मांग की है।

स्वामी मोहनानन्द लाल बाबा की अध्यक्षता में रमणरेती क्षेत्र स्थित कैम्प कार्यालय पर बैठक की गई। जिसमें स्वामी मोहनानन्द ने कहा कि आयोजक ने धार्मिक उन्माद फैलाना, नास्तिक सम्मेलन करके ब्रज वृंदावन की पावन भूमि केा दूषित करना, सभी धर्मग्रंथों का अपमान करना, ब्रज सीमा के अन्दर अमर्यादित आयोजन करना, ब्रज वृंदावन की संस्कृति और सभ्यता का हनन करना, शांत वृंदावन को अशांत करने का आरोप हैं।

रविन्द्र चौधरी एवं बालकृष्ण अग्रवाल ने कहा कि धर्मनगरी में नास्तिक सम्मेलन और आयोजक द्वारा सभी धर्मों पर प्रश्नचिह्न लगाते हुए भड़काऊ बयान देने के मामले को गंभीरता लेते हुए आयोजक के विरुद्ध संख्त कार्रवाई करनी चाहिए। ताकि भविष्य में इस तरह के आयोजन और बयानबाजी ना हो और जनभावनाओं से खेला ना जाए।

उन्होंने जिला प्रशासन को चेतावनी दी है कि यदि प्रशासनिक अधिकारी एवं पुलिस द्वारा आयोजक के विरुद्ध कार्रवाई नहंी की गई तो वह फिर से जनान्दोलन करेंगे। इसके लिए आयोजक और जिला प्रशासन जिम्मेदार होगा। रोष व्यक्त करने वालों में रविन्द्र चौधरी, आसा अग्रवाल, तुलसी चौधरी, राजीव मित्तल, विजय पाठक आदि उपस्थित थे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:6 Charges on athiest conference organiser in Vrindavan