Image Loading 13 health workers were absent in Azamgarh - LiveHindustan.com
शनिवार, 01 अक्टूबर, 2016 | 12:28 | IST
Mobile Offers Flipkart Mobiles Snapdeal Mobiles Amazon Mobiles Shopclues Mobiles
खोजें
ब्रेकिंग
  • KOLKATA TEST: कीवी टीम को लगा तीसरा झटका, भुवी ने निकोल्स को किया आउट
  • KOLKATA TEST: न्यूजीलैंड को लगातार दो झटके, ओपनर्स लौटे पवेलियन। स्कोर- 18/2
  • KOLKATA TEST: टीम इंडिया की पहली पारी 316 रनों पर सिमटी, साहा ने जड़ा पचासा
  • उरी आतंकी हमले की जांच पूरी होने तक ब्रिगेड कमांडर को हटाया गया: TV Reports
  • मां शैलपुत्री आज वो सबकुछ देंगी जो आप उनसे मांगेंगे, मां की ये कहानी जानकर आपको...
  • KOLKATA TEST: भारत को लगा आठवां झटका, जडेजा लौटे पवेलियन
  • KOLKATA TEST: भारत-न्यूजीलैंड के बीच दूसरे दिन का खेल शुरू
  • मौसम अलर्ट: दिल्ली-NCR में आज गर्मी रहेगी। पटना, रांची और लखनऊ में मौसम साफ रहेगा।...
  • इस नवरात्रि आपको क्या होगा लाभ और कितनी होगी तरक्की, अपना राशिफल पढ़ने के लिए...
  • जम्मू-कश्मीर: पाकिस्तान की ओर से अखनूर सेक्टर में सीजफायर का उल्लंघन, सुबह 4 बजे...
  • नवरात्रि: आज होगी मां शैलपुत्री की पूजा, जानिए आरती और पूजन विधि-विधान
  • सर्जिकल स्ट्राइक के बाद देशभर में हाई अलर्ट, नीतीश सरकार को बड़ा झटका,...

आजमगढ़ में 13 स्वास्थ्य कर्मचारी मिले अनुपस्थित

फूलपुर (आजमगढ़)। हिन्दुस्तान संवाद First Published:23-09-2016 02:55:00 PMLast Updated:23-09-2016 02:56:12 PM

एसडीएम और नायब तहसीलदार द्वारा शुक्रवार को किये गये औचक निरीक्षण में सामुदायिक स्वास्थ केन्द्र की पोल खुल गयी है। निरीक्षण के दौरान कुल 13 कर्मचारी अनुपस्थित मिले। वहीं पैथालॉजी, दंत कक्ष और वार्डो में गंदगी का अंबार पाया गया। उपजिलाधिकारी ने कार्रवाई हेतु जिलाधिकारी एवं मुख्य चिकित्साधिकारी को रिपोर्ट भेजी है।

सीएचसी और पीएचसी में व्याप्त दुर्व्यवस्थाओं का नजारा देखना है तो सामुदायिक स्वास्थ केन्द्र फूलपुर से उचित जगह नहीं मिलेगी। यहां पर डॉक्टरों ने मन बना लिया है कि वे समय से ओपीडी में नहीं बैठेंगे। वहीं जिन कक्षों में वे बैठते है उनकी साफ सफाई भी नहीं कराई जाती है। पैथालॉजी, दंत कक्ष, एक्सरे कक्ष में लगी कीमती मशीनों की देख रेख भी नहीं की जाती है। मरीजों को जांच कराने के लिए बाहर निजी पैथालॉजी में भेजा जा रहा है। ये बाते खुद पैथालॉजिस्ट ने एसडीएम की जांच में कबूली है। बताया कि यहां पर केवल एचबी और टायफाइड की जांच की जाती है। वहीं आपरेशन थियेटर में लगा लैम्प फ्यूज मिला उसकी जगह पर एलईडी का प्रयोग पाया गया है।

ये लोग रहे अनुपस्थित

फूलपुर। सुबह 8:10 बजे के निरीक्षण के दौरान सीएचसी पर कार्यरत नियमित कर्मचारियों में शारदा प्रसाद तिवारी, दिलीप कुमार मौर्य, दिनेश मौर्य, राजबहादुर वर्मा, रामअवध, अनन्त कुमार राय, सलमान फैसल तथा मिथलेश कुमार अनुपस्थित रहे। इसके अलावा 5 संविदा कर्मचारी नगमा बानो, रमेश चन्द दूबे, सतीश यादव, शिवप्रसाद, विनित राय भी अनुपस्थित रहे।

क्या कहते है एसडीएम फूलपुर

उपजिलाधिकारी प्रशांत कुमार ने बताया कि सुबह 8:10 बजे तक कोई भी डॉक्टर ओपीडी में उपस्थित नहीं मिला। रजिस्ट्रेशन काउन्टर बंद पाया गया। पैथालॉजी, डेन्टल कक्ष, वार्डो में गंदगी पायी गयी है। सीएचसी पर प्रतिदिन लगभग 300 मरीज इलाज के लिए आते है, लेकिन सीएचसी पर मात्र 3 से 4 लोगों का एक्सरे और खून जांच की जाती है। मरीजों से पूछने पर पाया गया कि डॉक्टरों द्वारा जांच बाहर से लिखी जाती है। रिपोर्ट उच्चाधिकारियों को भेज दी गयी है।

लाइव हिन्दुस्तान जरूर पढ़ें

 
Hindi News से जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
Web Title: 13 health workers were absent in Azamgarh
 
 
 
अन्य खबरें
 
From around the Web
जरूर पढ़ें
क्रिकेट स्कोरबोर्ड