Image Loading strike paralyzed half a million quintals of foodgrain offtake - LiveHindustan.com
मंगलवार, 27 सितम्बर, 2016 | 02:12 | IST
Mobile Offers Flipkart Mobiles Snapdeal Mobiles Amazon Mobiles Shopclues Mobiles
खोजें
ब्रेकिंग
  • झारखंड: खूंटी के अड़की में नक्सलियों ने की तीन लोगों की हत्या, दो अन्य घायल
  • हमने दोस्ती चाही, पाकिस्तान ने उरी और पठानकोट दिया: सुषमा स्वराज
  • पाकिस्तान के प्रधानमंत्री नवाज शरीफ को सुषमा का जवाब, जिनके घर शीशे के हों वो...
  • सयुंक्त राष्ट्र में विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने हिंदी में भाषण शुरू किया
  • अमेरिका: हयूस्टन के एक मॉल में गोलीबारी, कई लोग घायल, संदिग्ध मारा गया: अमेरिकी...
  • सिंधु जल समझौते पर सख्त हुई सरकार, पाकिस्तान को पानी रोका जा सकता है: TV Reports
  • सेंसेक्स 373.94 अंकों की गिरावट के साथ 28294.28 पर हुआ बंद
  • जम्मू-कश्मीर के अनंतनाग में ग्रेनेड हमला, CRPF के पांच जवान घायल
  • सीतापुर में रोड शो के दौरान कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी पर जूता फेंका गया।
  • कानपुर टेस्ट जीत भारत ने पाकिस्तान से छीना नंबर-1 का ताज
  • KANPUR TEST: भारत ने जीता 500वां टेस्ट मैच, अश्विन ने झटके छह विकेट
  • 'ANTI-INDIAN TWEETS' करने पर PAK एक्टर मार्क अनवर को ब्रिटिश सीरियल से बाहर कर दिया गया। ऐसी ही...
  • इसरो का बड़ा मिशन: श्रीहरिकोटा से PSLV-35 आठ उपग्रहों को लेकर अंतरिक्ष के लिए हुआ...
  • सुबह की शुरुआत करने से पहले पढ़िए अपना भविष्यफल, जानें आज का दिन आपके लिए कैसा...
  • हिन्दुस्तान सुविचार: मैं ऐसे धर्म को मानता हूँ जो स्वतंत्रता , समानता और ...

हड़ताल से डेढ़ लाख कुंटल खाद्यान का उठान ठप

मुख्य संवाददाता वाराणसी First Published:23-09-2016 10:06:00 PMLast Updated:23-09-2016 10:08:12 PM

राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा अधिनियम के नियमों को लागू करने की मांग को लेकर खाद्य रसद विभाग में चल रही हड़ताल का असर अब दिखने लगा है। पिछले तीन दिनों मंे वाराणसी मंडल मंे डेढ़ लाख कुंटल खाद्यान का उठान एवं वितरण नहंी हो पाया है। जिसके चलते बनारस जिले मंे डेढ़ हजार कोटेदारों के सामने खाद्यान का संकट खड़ा हो गया है। कोटेदारों का कहना है कि 21 से 30 तारीख के बीच एफसीआई से खाद्यान का उठान होता है। मगर अधिकारियों एवं कर्मचारियों के हड़ताल के चलते एफसीआई पर ताला लटका हुआ है। यदि जल्द हड़ताल वापस नहीं हुआ तो इस बार खाद्यान वितरण में समस्या आएगी।

शुक्रवार को लगातार तीसरे दिन यूपी फूड एंड सिविल सप्लाईज इंस्पेक्टर/ आफिसर्स एसोसिएशन से जुड़े अधिकारी-कर्मचारी हड़ताल पर रहे। नदेसर स्थित धरना प्रदर्शन के दौरान मंडल अध्यक्ष अखिलेश सिंह ने आरोप लगाया कि केन्द्र सरकार ने आवश्यक वस्तु अधिनियम 2016 के सभी इंस्पेक्टर रैंक तक के अधिकारी को जांच के अधिकार दिए हैें मगर प्रदेश सरकार यह अधिकार केवल आपूर्ति अधिकारियों को देना चाह रही है। इससे 1300 अधिकारी-कर्मचारी बेकार हो जाएंगे। उन्होंने सरकार को चेतावनी दी कि यदि उनकी मांगे नहीं मानी गई तो अनिश्चितकालीन अनशन पर बैठेंगे। धरने पर संयुक्त कर्मचारी परिषद के उपाध्यक्ष एनपी सिंह, दुर्गेश प्रसाद, रामप्रवेश यादव, विकास पाण्डेय, शैलेश यादव, अमित शर्मा, धु्रपाल सिंह, प्रियरंजन राजीव, संजीव राय आदि मौजूद थे।

लाइव हिन्दुस्तान जरूर पढ़ें

 
Hindi News से जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
Web Title: strike paralyzed half a million quintals of foodgrain offtake
 
 
 
अन्य खबरें
 
From around the Web
जरूर पढ़ें
क्रिकेट स्कोरबोर्ड