Image Loading coal saply risen to Anpara powerhouse from NCL mines - LiveHindustan.com
शनिवार, 01 अक्टूबर, 2016 | 00:02 | IST
Mobile Offers Flipkart Mobiles Snapdeal Mobiles Amazon Mobiles Shopclues Mobiles
खोजें
ब्रेकिंग
  • पेट्रोल प्रति लीटर 28 पैसे हुआ महंगा, डीजल 6 पैसे हुआ सस्ता
  • श्रीलंका ने भी किया सार्क सम्मेलन का बहिष्कार, इस्लामाबाद में होना था सार्क...
  • पाकिस्तानी कलाकारों पर बोले सलमान, कलाकार आतंकवादी नहीं होते
  • सुप्रीम कोर्ट से जमानत रद्द होने के बाद शहाबुद्दीन ने किया सरेंडरः टीवी...
  • शहाबुद्दीन फिर जाएगा जेल, सुप्रीम कोर्ट ने जमानत रद्द की
  • शराबबंदी पर पटना हाई कोर्ट ने नोटिफिकेशन रद्द कर संशोधन को गैरसंवैधानिक कहा
  • KOLKATA TEST: पहले दिन लंच तक टीम इंडिया का स्कोर 57/3, पुजारा-रहाणे क्रीज पर मौजूद
  • INDOSAN कार्यक्रम में पीएम मोदी ने NCC को स्वच्छता अवॉर्ड से सम्मानित किया
  • कोलकाता टेस्ट से पहले कीवी टीम को बड़ा झटका, इसके अलावा पढ़ें क्रिकेट और अन्य...
  • भविष्यफल: मेष राशि वालों के लिए आज है मांगलिक योग। आपकी राशि क्या कहती है जानने...
  • कल से शुरू हो रहे हैं नवरात्रि, आज ही कर लें ये तैयारियां
  • PoK में भारतीय सेना के ऑपरेशन में 38 आतंकी ढेर, पाक का 1 भारतीय सैनिक को पकड़ने का...

एनसीएल की खदानों से अनपरा बिजलीघर को बढ़ायी गयी कोयले की आपूर्ति

अनपरा (सोनभद्र)। निज संवाददाता First Published:23-09-2016 06:17:00 PMLast Updated:23-09-2016 06:20:14 PM

शासन के हरकत में आने के बाद बीते डेढ़ महीने से कोयला किल्लत से बुरी तरह जूझ रहे अनपरा बिजलीघर को राहत मिली है। गुरुवार को लगभग दो महीने बाद बिजलीघर को एनसीएल खदानों से 29 हजार टन कोयले की आपूर्ति से बिजली उत्पादन में थोड़ा सुधार हुआ है। एनसीएल की लिंकेज खदानों खड़िया और ककरी में उत्पादन में कमी की भरपायी कृष्णशीला और गोरबी परियोजनाओं से करने पर एनसीएल प्रबंधन से सहमति बनी है। रेलवे से भी सात अतिरिक्त रैक मिलने पर सहमति बनी है, जिससे शीघ्र ही रोजाना 35 हजार टन कोयले की आपूर्ति पहुंचने का अनुमान है। कोयला आपूर्ति को लेकर कोयला सचिव केंद्र सरकार के साथ लखनऊ में 29 सितम्बर को ऊर्जा विभाग की उच्च स्तरीय बैठक भी होगी, जिसमें भविष्य में अनपरा में कोयला किल्लत न हो यह मुद्दा शामिल है।

अनपरा की कोयला किल्लत को लेकर कैम्प कर रहे उत्पादन निगम के निदेशक तकनीकी इं. बीएस तिवारी व सीजीएम इं. त्रिभुवन तिवारी ने बताया कि कोयला आपूर्ति बढ़ाने के लिये कई कदम उठाये गये है। हरदुआगंज और पारीछा बिजलीघर के एफएसए के तहत सरप्लस 60 हजार टन कोयले को सीसीएल कोल फील्ड्स से अनपरा डाइवर्ट किया जा रहा है। ओबरा की बंद इकाईयों का लगभग चार लाख टन कोयला लिंकेज भी अनपरा के लिये शिफ्ट कराया जा रहा है। हालत सुधरने पर सर्वप्रथम अनपरा अ और अनपरा ब की कम लोड पर चलायी जा रही इकाइयों को पूर्ण क्षमता से चलाकर लगभग 400 मेगावाट उत्पादन बढ़ाने का लक्ष्य है जिसके उपरांत अनपरा डी की बंद 500 मेगावाट की पहली इकाई को उत्पादनरत कर दिया जायेगा। इस दौरान महाप्रबंधक अनपरा अ परियोजना एके सिंह समेत कई वरिष्ठ अधिकारी मौजूद रहे।

लाइव हिन्दुस्तान जरूर पढ़ें

 
Hindi News से जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
Web Title: coal saply risen to Anpara powerhouse from NCL mines
 
 
 
अन्य खबरें
 
From around the Web
जरूर पढ़ें
क्रिकेट स्कोरबोर्ड