Image Loading Police suspect murder Ranjan rajdev Kaif will remand - LiveHindustan.com
रविवार, 25 सितम्बर, 2016 | 09:13 | IST
Mobile Offers Flipkart Mobiles Snapdeal Mobiles Amazon Mobiles Shopclues Mobiles
खोजें
ब्रेकिंग
  • #INDvsNZ: कानपुर टेस्ट के तीसरे दिन के 5 टर्निंग प्वाइंट्स, खेल की दुनिया की टॉप 5 खबरें...
  • मौसम अलर्ट: दिल्ली-NCR में गर्म रहेगा मौसम। लखनऊ, पटना और रांची में बारिश की...
  • सुबह की शुरुआत करने से पहले जानिए अपना भविष्यफल, जानिए आज कैसा रहेगा आपका दिन
  • सुविचार: मनुष्य का स्वाभाव है कि जब वह दूसरों के दोष देख कर हंसता है, तब उसे अपने...
  • Good Morning: पाक को PM का करारा जबाव, बदहाल यूपी पर क्या बोले राहुल, और भी बड़ी खबरें जानने...

राजदेव रंजन हत्याकांड के संदिग्ध कैफ को पुलिस लेगी रिमांड पर

हिन्दुस्तान टीम First Published:23-09-2016 06:13:00 PMLast Updated:23-09-2016 10:08:19 PM

सीवान। हिन्दुस्तान के पत्रकार राजदेव रंजन हत्याकांड में संदिग्ध व शहर के दक्खिन टोला के मो. कैफ उर्फ बंटी को पुलिस रिमांड पर लेगी। इसके लिए टाउन थाने की पुलिस ने शुक्रवार को सीजेएम कोर्ट में आवेदन दिया। हालांकि यह मामला इंजीनियरिंग कॉलेज के क्लर्क फिरोज साई से जुड़ा हुआ है। कैफ पर फिरोज साइंर् से टाउन थाना क्षेत्र में मारपीट करने व रंगदारी मांगने की एफआईआर दर्ज कराई है। इसी मामले में कैफ जेल में बंद है।

उसने बुधवार को कोर्ट में बुर्का पहन कर सरेंडर किया था। पुलिस उसकी गिरफ्तारी के लिए प्रयास कर रही थी, लेकिन पुलिस को चकमा देने के लिए उसने बुर्का पहन कर सरेंडर कर दिया। इससे पुलिस चकमा खा गई। हालांकि इसी मामले में पुलिस उसके घर की कुर्की जब्ती भी कर चुकी है।

कुर्की-जब्ती के खिलाफ उसके परिजनों व अन्य लोगों ने शहर के डीएवी कॉलेज मोड़ पर सड़क जामकर पुलिस के खिलाफ नारेबाजी की थी। इस मामले में भी कैफ, उसकी मां व तीन बहन आरोपित हैें। इस मामले में भी कैफ समेत सभी आरोपितों पर वारंट जारी है।

राजदेव रंजन हत्याकांड में भी पुलिस कैफ की भूमिका की जांच कर रही थी। राजदेव रंजन हत्याकांड में शामिल शूटर रोहित व अन्य अपराधियों ने पुलिस को बताया था कि राजदेव की हत्या के समय कैफ रेलवे ओवरब्रिज के नीचे खड़ा था। मो. कैफ का पहले से ही आपराधिक इतिहास रहा है। उस पर टाउन थाने में ही एक दर्जन मामले दर्ज हंै। मो. कैफ पहले भी जेल जा चुका है।

पत्रकार राजदेव रंजन हत्याकांड में संदिग्ध जावेद भांट उर्फ जावेद मियां पर भी टाउन थाने में छह मामले दर्ज हैं। इसमें गोली मारकर हत्या करने का प्रयास, लूट व चोरी के मामले शामिल हैं। उस पर पहली एफआईआर टाउन थाने में सात नवम्बर 2006 को दर्ज हुई थी। यह मामला लूट से संबंधित है। इसके बाद इस पर 2010 में हत्या का प्रयास का मामला दर्ज है। राजदेव रंजन हत्याकांड में संदिग्ध होने पर पुलिस उसकी तलाश कर रही थी। इसी दौरान सीबीआई की टीम गुरुवार की शाम उसके घर धमक गई थी। हालांकि इस दौरान वह घर पर नहीं मिला, लेकिन सीबीआई ने उसके बारे में परिजनों से पूछताछ की थी।

लाइव हिन्दुस्तान जरूर पढ़ें

 
Hindi News से जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
Web Title: Police suspect murder Ranjan rajdev Kaif will remand
 
 
 
अन्य खबरें
 
From around the Web
जरूर पढ़ें
क्रिकेट स्कोरबोर्ड