बुधवार, 29 जुलाई, 2015 | 18:57 | IST
 |  Site Image Loading Image Loading
ब्रेकिंग
याकूब के परिवार को शव सौंपा जाएगा, कल सुबह 7 बजे नागपुर जेल में दी जाएगी याकूब को फांसी
सोचा नहीं था कि इतना महंगा बिकूंगा: रघुनाथ
नई दिल्ली, एजेंसी First Published:16-12-2012 05:04:32 PMLast Updated:00-00-0000 12:00:00 AM
Image Loading

हॉकी इंडिया लीग की नीलामी से पहले वीआर रघुनाथ ने सोचा भी नहीं था कि उन्हें इतने महंगे दामों पर खरीदा जाएगा लेकिन भारतीय टीम के इस ड्रैग फ्लिकर को खुशी है कि हॉकी खिलाड़ियों को भी पैसा मिल रहा है।

रघुनाथ को सहारा समूह की यूपी विजाडर्स टीम ने 76000 डालर यानी करीब 42 लाख रूपये में खरीदा। यह करार तीन साल के लिए किया गया है। चैम्पियंस ट्राफी में चौथे स्थान पर रही भारतीय टीम के लिए बेहतरीन प्रदर्शन करने वाले इस फुलबैक ने कहा कि मुझे लगा था कि 50000 डालर से ज्यादा मिलेंगे लेकिन इतना नहीं सोचा था। शायद ड्रैग फ्लिकरों की मांग ज्यादा होने का फायदा मिला। इसके अलावा मैं मौजूदा टीम में हूं और चैम्पियंस ट्राफी में अच्छा खेलने का फायदा भी मिला।

उन्होंने कहा कि यह खुशी की बात है कि हॉकी में भी पैसा और ग्लैमर आ रहा है। हम पर जिम्मेदारी बढ़ गई है और इस लीग के जरिये हम भारतीय हॉकी को और आगे ले जाएंगे। हालैंड के स्टार और उप्र के आइकन खिलाड़ी टोन डे नूयेर ने कहा कि यह लीग भारतीय खिलाड़ियों के लिए अधिक फायदेमंद होगी। उन्होंने कहा कि सभी खिलाड़ी कीमतों से खुश हैं और यह अच्छी बात है कि हॉकी में इतना पैसा आ रहा है।

यह पूछने पर कि अलग अलग देशों के खिलाड़ी आपस में तालमेल कैसे बनाएंगे तो उन्होंने कहा कि हमारे पास अभी काफी समय है। एक साथ अभ्यास करने, होटल में रहने, एक बस में सफर करने से तालमेल बन ही जाता है।

 

 
 
 
 
जरूर पढ़ें
क्रिकेट
Image Loadingहितों के टकराव के करार में कोई परेशानी नहीं होनी चाहिए: गांगुली
भारत के पूर्व कप्तान सौरव गांगुली ने कहा है कि हितों के टकराव के करार पर हस्ताक्षर करने से डरने की कोई वजह नहीं है और क्रिकेट को साफ सुथरा बनाने के लिए बीसीसीआई के इस कदम को सकारात्मक लिया जाना चाहिए।
 
क्रिकेट स्कोरबोर्ड