बुधवार, 01 जुलाई, 2015 | 18:19 | IST
 |  Site Image Loading Image Loading
ब्रेकिंग
हमें समय के इस बदलाव का समझना होगा नहीं तो हम पीछे रह जाएंगे: पीएम मोदीभारत के भविष्य को बदलने का खाका खींचा गया: पीएम मोदीडिजीटल इंडिया से देश का सपना सच होगा: पीएम मोदीआज बच्चा भी चश्मे की जगह मोबाइल छीनता है, बच्चे भी डिजीटल ताकत को समझ रहे हैं: पीएम मोदीपीएम मोदी ने कहा, आज साढे चार लाख करोड रुपये का निवेश और करीब 18 लाख नौकरियों का ऐलान हुआलखीमपुर में बाढ़ के पानी में डूबने से छह बच्‍चों की मौत, बुखारीटोला में खेत में भरे पानी में डूबे चार बच्‍च्‍ो, नरेन्‍द्र नगर में बाढ़ से उफनाए नाले में दो बच्‍चे डूबे250 हजार करोड निवेश करेंगे, पांच लाख से ज्यादा लोगों को मिलेगी नौकरी: मुकेश अंबानीमुकेश अंबानी ने कहा, पीएम की सोच हमारी प्रेरणा, लोगों की जिंदगी बदलेगीडिजीटल इंडिया वीक की शुरूआत, कार्यक्रम में मौजूद हैं कई बडे उद्योगपति
आईओए के निलंबन का प्रस्ताव रखेगा आईओसी
नई दिल्ली, एजेंसी First Published:28-11-12 07:41 PM

अंतरराष्ट्रीय ओलंपिक समिति ने बुधवार को साफ किया कि अगर भारतीय ओलंपिक संघ के चुनाव सरकार की खेल संहिता के तहत हुए तो वह अगले महीने की शुरुआत में अपने कार्यकारी बोर्ड की बैठक में आईओए को निलंबित करने का प्रस्ताव रखेगा।

आईओसी के महानिदेशक क्रिस्टोफ डि कीपर ने आईओए के कार्यवाहक प्रमुख वीके मल्होत्रा को लिखे पत्र में इस मुददे को सुलझाने के लिए अंतरराष्ट्रीय प्रतिनिधिमंडल को भेजने की मांग को ठुकरा दिया है और भारतीय खेल संस्था को निलंबित करने की प्रक्रिया शुरू करने की धमकी दी है। आईओसी ने आईओए को अपने 23 नवंबर को लिखे पत्र के निर्देशों को एक बार फिर दोहराया जिसमें आईओए को 30 नवंबर तक अपनी स्थिति स्पष्ट करने या निलंबन का सामना करने के लिए तैयार रहने को कहा गया था।

वैश्विक संस्था ने इससे पहले जो पत्र लिखा था उसमें उसके प्रमुख जाक रोगे और एशियाई ओलंपिक परिषद के अध्यक्ष शेख अहमद अल सबाह के हस्ताक्षर थे। इसमें चेतावनी दी गई थी कि अगर पांच दिसंबर को होने वाले चुनाव सरकार की खेल संहिता के तहत होते हैं और ओलंपिक चार्टर की अनदेखी होती है तो भारत को निलंबित किया जा सकता है।

 
 
 
 
जरूर पढ़ें
क्रिकेट
क्रिकेट स्कोरबोर्ड