शुक्रवार, 31 अक्टूबर, 2014 | 04:26 | IST
  RSS |    Site Image Loading Image Loading
Image Loading    नौकरानी की हत्या: धनंजय को जमानत, जागृति के रिकार्ड मांगे अमर सिंह के समाजवादी पार्टी में प्रवेश पर उठेगा पर्दा योगी आदित्य नाथ ने दी उमा भारती को चुनौती देश में मौजूद कालेधन पर रखें नजर : अरुण जेटली शिक्षा को लेकर मोदी सरकार पर आरएसएस का दबाव कोयला घोटाला: सीबीआई को और जांच की अनुमति सिख दंगा पीड़ितों के परिजनों को पांच लाख देगा केंद्र अपमान से आहत शिवसेना ने किया फडणवीस के शपथ ग्रहण का बहिष्कार सरकार का कटौती अभियान शुरू, प्रथम श्रेणी यात्रा पर प्रतिबंध बेटे की दस्तारबंदी के लिए बुखारी का शरीफ को न्यौता, मोदी को नहीं
भारत ने इंग्लैंड को 3-1 से हराया
मेलबर्न, एजेंसी First Published:01-12-12 01:08 PMLast Updated:01-12-12 04:00 PM
Image Loading

भारत ने 34वें अंतर्राष्ट्रीय पुरुष हॉकी चैम्पियंस ट्रॉफी में विजयी शुरुआत की है। लंदन ओलम्पिक में निराशाजनक प्रदर्शन करने वाली भारतीय टीम ने शनिवार को खेले गए अपने पहले मुकाबले में इंग्लैंड को 3-1 से पराजित कर इस प्रतिष्ठित टूर्नामेंट में शानदार शुरुआत की है।

इस जीत से भारत को तीन अंक मिले। भारतीय टीम तीन अंकों के साथ पूल-ए में शीर्ष पर है। भारत की ओर से दानिश मुज्तबा, युवराज वालमीकि और कप्तान सरदार सिंह ने एक-एक गोल किया। इंग्लैंड की ओर से एकमात्र गोल रिचर्ड स्मिथ ने किया।

 

लंदन ओलम्पिक के बाद यह पहला मौका है जब भारतीय टीम किसी बड़ी प्रतियोगिता में भाग ले रही है, जहां उसके अनुभवहीन खिलाड़ियों की मानसिक मजबूती, शारीरिक क्षमता और खेल सम्बंधी कौशल की अग्नि परीक्षा होनी है। भारत ने छह साल बाद इस प्रतियोगिता में वापसी की है।

एक से नौ दिसम्बर तक ऑस्ट्रेलिया के मेलबर्न शहर में आयोजित होने वाले इस प्रतिष्ठित टूर्नामेंट में आठ टीमें हिस्सा लेंगी। भारत को इंग्लैंड, जर्मनी और न्यूजीलैंड के साथ पूल-ए में रखा गया है जबकि पूल-बी में मेजबान ऑस्ट्रेलिया, बेल्जियम, नीदरलैंड्स और पाकिस्तान की टीमें हैं।

चैम्पियंस ट्रॉफी में भारतीय टीम छह वर्ष बाद वापसी कर रही है। इससे पहले, भारत ने अंतिम बार वर्ष 2005 में इस प्रतिष्ठित टूर्नामेंट में हिस्सा लिया था।

हाल में ऑस्ट्रेलिया के पर्थ में आयोजित नाइन-ए-साइड लैंको सुपर सीरीज में भारत ने हिस्सा लिया था। सुपर सीरीज में भारत ने लीग मैचों में अपने चिर-प्रतिद्वंद्वी पाकिस्तान को 5-2 से पराजित किया था।

भारतीय टीम में अनुभवी खिलाड़ियों के अनुपस्थिति के बावजूद कोच माइकल नॉब्स और कप्तान सरदार सिंह अच्छे प्रदर्शन के प्रति आश्वस्त हैं।

भारतीय टीम अपने दूसरे मुकाबले में रविवार को न्यूजीलैंड से जबकि तीसरे मुकाबले में चार दिसम्बर को जर्मनी से भिड़ेगी। नॉब्स ने कहा कि गुरमेल सिंह राइट हाफ जबकि मनप्रीत सिंह और कोथाजीत लेफ्ट हाफ सम्भालेंगे। इन सभी युवा खिलाड़ियों ने हाल में सुल्तान जोहोर कप में अपनी काबिलियत साबित कि थी।

 
 
 
टिप्पणियाँ