Image Loading आरक्षणबचाओसंघर्षसमितिनेबीबीएयूगेटपरकियाप्रदर्शन - LiveHindustan.com
गुरुवार, 29 सितम्बर, 2016 | 02:00 | IST
Mobile Offers Flipkart Mobiles Snapdeal Mobiles Amazon Mobiles Shopclues Mobiles
खोजें
ब्रेकिंग
  • पाकिस्तानी कलाकारों फवाद, माहिरा और अली जफर के भारत छोड़ने पर बॉलीवुड सितारों...
  • टीम इंडिया में गंभीर की वापसी, भारत-न्यूजीलैंड टेस्ट के टिकट होंगे सस्ते। इसके...
  • भविष्यफल: तुला राशि वालों को आज परिवार का भरपूर सहयोग मिलेगा, मन प्रसन्न रहेगा।...
  • हिन्दुस्तान सुविचार: जीवन के बुरे हादसे या असफलताओं को वरदान में बदलने की ताकत...
  • सार्क में हिस्सा नहीं लेंगे पीएम मोदी, गंभीर की दो साल बाद टीम इंडिया में वापसी,...
  • क्रिकेटर बालाजी 'रजनीकांत' के फैन हैं, आज बर्थडे है उनका। उनकी जिंदगी से जुड़े...

आरक्षण बचाओ संघर्ष समिति ने बीबीएयू गेट पर किया प्रदर्शन

लखनऊ। निज संवाददाता First Published:23-09-2016 07:36:00 PMLast Updated:23-09-2016 07:16:16 PM

आरक्षण बचाओ संघर्ष समिति ने आठ दलित छात्रों का निष्कासन वापस लेने की मांग को लेकर बाबा साहेब भीमराव अम्बेडकर केन्द्रीय विश्वविद्यालय के गेट नम्बर एक पर प्रदर्शन किया। कुलपति के प्रतिनिधि प्रो. आरबी राम द्वारा दलित छात्रों को तीन-चार दिन में न्याय मिलने का भरोसा दिए जाने के बाद प्रदर्शन समाप्त हुआ। संघर्ष समिति ने ऐलान किया कि अगर दलित छात्रों को न्याय नहीं मिला तो बीबीएयू का चक्का जाम कर दिया जाएगा। साथ ही एमएचआरडी मंत्री सहित अन्य भाजपा मंत्रियों का घेराव होगा।

बाबा साहेब भीमराव अम्बेडकर विश्वविद्यालय (बीबीएयू)के गेट नम्बर एक पर करीब पौने तीन बजे आरक्षण बचाओ संघर्ष समिति के प्रदेश संयोजक अवधेश वर्मा के नेतृत्व में प्रदर्शन शुरु हुआ। इस दौरान आरक्षण समर्थकों ने प्रो. कमल जायवाल को बर्खास्त करो, कुलपति इस्तीफा दो, दलित छात्रों का निष्कासन वापस लो आदि नारे लगाए। उन्होंने कहा कि प्रो. कमल जायसवाल के दबाव में आठ दलित छात्रों को गलत तरीके से निष्कासित किया गया। जिस प्रकार से कुलपति प्रो. सोबती प्रो. कमल के दबाव में बाबा साहब का नाम बदनाम कर रहे हैं। वह बहुत ही दुर्भाग्य है जिससे विश्वविद्यालय का शैक्षणिक माहौल लगातार खराब हो रहा है। करीब चार बजे कुलपति के प्रतिनिधि के रूप में प्रो. आरवी राम ने प्रदर्शनकारियों के बीच पहुंचकर उनकी बात सुनी और ज्ञापन लिया। उन्होंने बताया कि कुलपति ने कहा है कि सभी छात्रों को तीन से चार में न्याय दे दिया जाएगा। अवधेश वर्मा ने दावा किया कि प्राक्टर प्रो. राम चन्द्र ने भी संघर्ष समिति संयोजकों को फोन पर जल्द ही आठ दलित छात्रों के निष्कासन को वापस लेने की बात कही। विरोध प्रदर्शन में बनी सिंह, प्रेम चन्द्र, जितेन्द्र कुमार, श्रीनिवास राव, राजेश पासवान, अंजली गौतम, रेनू, कृपा शंकर, दिनेश कुमार, चमन लाल भारती, रामेन्द्र कुमार, जगदीश कुमार गौतम, योगेन्द्र रावत, सुशील कुमार, राम बरन, राधेश्याम, पीपी सिंह, राम निवास राम, अजय कुमार, राम औतार, प्रतोष कुमार, डीके वर्मा, आरके राव भी शामिल हुए।

लाइव हिन्दुस्तान जरूर पढ़ें

 
Hindi News से जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
Web Title: आरक्षणबचाओसंघर्षसमितिनेबीबीएयूगेटपरकियाप्रदर्शन
 
 
 
अन्य खबरें
 
From around the Web
जरूर पढ़ें
क्रिकेट स्कोरबोर्ड
संबंधित ख़बरें