Image Loading akhilesh cabinet - LiveHindustan.com
सोमवार, 26 सितम्बर, 2016 | 09:09 | IST
Mobile Offers Flipkart Mobiles Snapdeal Mobiles Amazon Mobiles Shopclues Mobiles
खोजें
ब्रेकिंग
  • मौसम अलर्ट: दिल्ली-NCR में मौसम गर्म रहेगा। पटना और रांची में बारिश का अनुमान।...
  • सुबह की शुरुआत करने से पहले पढ़िए अपना भविष्यफल, जानें आज का दिन आपके लिए कैसा...
  • हिन्दुस्तान सुविचार: मैं ऐसे धर्म को मानता हूँ जो स्वतंत्रता , समानता और ...
  • भारत तोड़ सकता है सिंधु जल समझौता, यूएन में सुषमा पाक को देंगी जबाव, अन्य बड़ी...

UP: अखिलेश मंत्रिमंडल में बढ़ सकती है मंत्रियों की तादाद

राज्य मुख्यालय। विशेष संवाददाता First Published:23-09-2016 09:46:00 PMLast Updated:24-09-2016 03:25:21 PM
UP: अखिलेश मंत्रिमंडल में बढ़ सकती है मंत्रियों की तादाद

सपा परिवार में मची उथल-पुथल के साए में अखिलेश मंत्रिमंडल का विस्तार होने जा रहा है। इसमें गायत्री प्रजापति व जियाउद़्दीन रिजवी की शपथ लेना तो तय है। पर, माना जा रहा है कि राजकिशोर की वापसी भी हो सकती है।

इसके अलावा शिवाकांत ओझा को दोबारा मंत्रिमंडल में लिया जा सकता है। ब्राह्मणों को लुभाने की विरोधी दलों की कोशिश के मद्देनजर मनोज पांडेय की भी वापसी हो सकती है। इतना जरूर है कि जगह बनाने के लिए एक दो मंत्रियों की छुट्टी भी करनी होगी।

सपा मुखिया मुलायम सिंह यादव अब इन सब मसले पर प्रदेश अध्यक्ष शिवपाल व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव से सलाह कर अन्तिम फैसला ले सकते हैं। मुलायम सिंह यादव शुक्रवार को लखनऊ पहुंच गए हैं। संभवत: वह एक दो दिन में दावेदारों के नामों पर हरी झंडी देंगे। सूत्रों के मुताबिक शिवकांत ओझा व राजकिशोर की पैरवी शिवपाल यादव की ओर से है।

मनोज पांडेय को मुलायम सिंह का करीबी माना जाता है। बताया जा रहा है कि एक दो मंत्री हटाए जा सकते हैं। इसमें पश्चिमी यूपी से आने वाले अल्पसंख्यक वर्ग के मंत्री शामिल हैं तो एक और मंत्री का संबंध अवध क्षेत्र से है। इस तरह देखा जाए जिन मंत्रियों की वापसी होनी है, वह अखिलेश सरकार में पहले भी मंत्री रह चुके हैं। संयोगवश गायत्री प्रजापति तो इसी सरकार में चौथी बार शपथ लेंगे।

हाल में मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने दो मंत्रियों को बर्खास्त कर दिया था। मुलायम के दखल के बाद गायत्री की मंत्रिमंडल में वापसी का ऐलान हुआ। राजकिशोर की वापसी की प्रबल संभावना बनी हुई है। विस्तार के साथ ही विभागों में भी फेरबदल होगा। मंत्रिमंडल में मुख्यमंत्री को मिलाकर वर्तमान में 57 सदस्य हैं। तीन और को मंत्री बनाया जा सकता है। चौथे दावेदार को मंत्री बनाने के लिए कम से कम एक मंत्री को तो हटाना ही पड़ेगा।

लाइव हिन्दुस्तान जरूर पढ़ें

 
Hindi News से जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
Web Title: akhilesh cabinet
 
 
 
अन्य खबरें
 
From around the Web
जरूर पढ़ें
क्रिकेट स्कोरबोर्ड