class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

GOPALGANJ:रोज होती छापेमारी, फिर भी अवैध शराब का धंधा जारी

अवैध शराब के धंधेबाजों पर नकेल कसने में पुलिस व उत्पाद विभाग की टीम विफल साबित हो रही है। लगातार छापेमारी के बाद भी अवैध शराब की तस्करी व बेचने का धंधा जारी है। छापेमारी में धंधेबाज दबोचे जा रहे हैं। अवैध शराब भी बरामद की जा रही है। लेकिन, धंधा रुकने का नाम नहीं ले रहा है। पूर्ण शराबबंदी के बाद अवैध शराब के कारोबारियों पर नकेल कसने के लिए एसपी रवि रंजन कुमार सभी थानेदारों को निर्देश दे रखा है। वहीं उत्पाद अधीक्षक प्रियरंजन ने भी धंधेबाजों पर लगाम लगाने के लिए उत्पाद इंस्पेक्टर समेत अन्य कर्मियों को हर क्षेत्र में गश्ती करने का आदेश दिया है। बावजूद इसके शराब की तस्करी जिले में नहीं रुक रही है।

एक फोन कॉल पर होम डिलेवरी की जा रही शराब

पूर्ण शराबबंदी के बाद शराब के शौकीन लोगों के लिए ज्यादा परेशानी नहीं हो रही है। शराब पीने वाले लोगों के पास एक फोन कॉल पर शराब के धंधेबाज होम डिलेवरी दे रहे हैं। इसलिए उन्हें ज्यादा परेशान नहीं होना पड़ रहा है। शराब के धंधेबाज कोड भाषा में शराब के खरीदार से बातकर उनके पास शराब उपलब्ध करा दे रहे हैं।

शहर से गांव तक जमकर हो रही शराब की बिक्री

पूर्ण शराबबंदी के बाद अवैध शराब के धंधे से जुड़े कारोबारियों की इनदिनों चांदी कट रही है। धंधेबाज यूपी, पंजाब और हरियाणा में अपनी सेटिंग कर शराब की बड़ी खेप गोपालगंज जिले में मंगवा रहे हैं। सस्ते दामों में शराब लाकर यहां महंगे दामों में बेच रहे हैं।

खजूरबानी कांड के दोहराने की है आशंका

जिले में पहुंचने वाली शराब कहीं जहरीली तो नहीं! पंजाब, हरियाणा व यूपी से जो शराब गोपालगंज में आ रही है वह सरकारी दुकान से खरीदकर आ रही है कि वहां के धंधेबाज अलग से इसको बनाकर भेज रहे हैं। इसकी जानकारी शराब पीने वालों को नहीं है। ऐसे में गोपालगंज में फिर से खजूरबानी कांड के दोहराने की पूरी आशंका है। कभी भी जहरीली शराब से मौत का तांडव मच सकता है।

कहते हैं अधिकारी

शराब की तस्करी व बिक्री पर रोक लगाने के लिए उत्पाद विभाग की पुलिस हर रोज छापेमारी करती है। छापेमारी के दौरान कई धंधेबाज भी पकड़ जाते हैं। पकड़े धंधेबाजों को न्यायिक हिरासत में भेज दिया जाता है। इनदिनों बॉर्डर इलाकों में पुलिस नजर रख रही है। इसके साथ ही जहां शराब बेचने व रखने की सूचना मिलती है तो स्थानीय थानों की मदद से कार्रवाई की जाती है। प्रियरंजन, उत्पाद अधीक्षक, गोपालगंज।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Illegal trade of liquor not stopping
From around the web