class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

आजमगढ़ : नहर के ओवरफ्लो होने से कछरा गांव में घुसा पानी

पवई ब्लाक कछरा गांव में मंगलवार की रात बिन बरसात ही बाढ़ आ गई है। गांव से होकर गुजरी शारदा सहायक खंड 32 नहर में ओवरफ्लो के चलते गांव के खेत, खलिहान के साथ आबादी में भी नहर का पानी घुस गया है। जलजमाव से गुस्साए ग्रामीण गांव के पास ही चक्काजाम कर प्रदर्शन कर रहे है।

आजमगढ़-अंबेडकर नगर जनपद की सीमा से होकर गुजरने वाली शारदा सहायक खंड नहर की एक सहायक नहर पवई ब्लाक के कछरा गांव से होकर गुजरी है। मंगलवार की देर रात गांव के लोग घरों में सो रहे थे कि इसी दौरान नहर गांव के पास ही ओवरफ्लो हो गई। गांव वालो को जब तक इस बात की जानकारी होती तब नहर का पानी खेत, खलिहान से होता हुआ लोगो के घरों तक पहुंच गया। गांव के लगभग पचास घर नहर के पानी के चलते आई बाढ़ से प्रभावित हुए है तो वहीं चार सौ बीघा फसल भी जलमग्न हो गई है। आक्रोशित ग्रामीण पवई-माहुल मार्ग पर गांव के पास ही चक्काजाम कर सुबह सात बजे से ही प्रदर्शन कर रहे है। चक्काजाम की जानकारी होने पर तहसीलदार मनोज तिवारी लगभग 10 बजे मौके पर पहुंचे और ग्रामीणों को समझा बुझा कर जाम खत्म कराने का प्रयास किया। लेकिन ग्रामीण नहर अन्य क्षेत्रों में गए मइनरों के फाटक खोलने और ओवरफ्लो हो रहे पानी को तत्काल रोके जाने की मांग पर अड़े थे। जाम कर प्रदर्शन करने वालों में नरायन सिंह, अमर सिंह, कृपाशंकर सिंह, विश्राम राजभर, अनिल, शेषनाथ, ओंकार यादव आदि शामिल रहे।

जलजमाव के चलते प्राइमरी स्कूल में नहीं हुई परीक्षा

मिल्कीपुर। नहर के ओवरफ्लो हो जाने से प्राथमिक विद्यालय परिसर पूरी तरह से जलमग्न हो गया है। परिसर में पानी भर जाने से बुधवार को होने वाली परिषदीय विद्यालय की परीक्षा नहीं शुरू हो सकी। जिसके चलते बच्चों ने विद्यालय के बाहर प्रदर्शन कर नारेबाजी की। बच्चों के आक्रोश को देखते हुए बीआरसी पवई पर बच्चों की परीक्षा संपन्न कराई गई। खंड शिक्षाधिकारी ने बताया कि जब तक विद्यालय परिसर में पानी भरा रहेगा तब तक बच्चों की परीक्षा बीआरसी परिसर पर ही संपन्न कराई जाएगी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Azamgarh: garbage village entered the water from the canal to overflow