मंगलवार, 04 अगस्त, 2015 | 04:52 | IST
 |  Site Image Loading Image Loading
Image Loading    अगला बिहार विधानसभा चुनाव नहीं लड़ेंगी राबड़ी देवी कांवड़ यात्रा से बरेली के कई पंपों पर डीजल-पेट्रोल खत्‍म  आखिर यूं ही नहीं बनती 'बाहुबली', जानिए 10 बेहद खास राज  भारत से प्रभावित होकर अंग्रेजों ने ब्रिटेन में भी बसा दिया 'पटना'  तृणमूल ने दिखाई कांग्रेस के साथ एकजुटता, लोकसभा की कार्यवाही का पांच दिनों तक करेगी बहिष्कार 14 साल से पाकिस्तान में फंसी भारतीय लड़की को बजरंगी भाईजान की जरूरत श्रीलंका में जीत के लिए ये है कोहली का मास्टर प्लान राफेल नडाल ने जीता हैम्बर्ग ओपन खिताब चेल्सी बीते सत्र में ही ईपीएल खिताब का हकदार था: कोम्पेनी साध्वी प्राची को अस्पताल से डिस्चार्ज किए जाने पर हंगामा
हमारी प्यारी बार्बी डॉल
कमलेश First Published:02-08-2011 12:08:19 PMLast Updated:02-08-2011 12:12:13 PM
Image Loading

आज तुम सबके पास लेटेस्ट खिलौने हैं, जिन पर तुम डिजिटल गेम खेलते हो, लेकिन इसके बावजूद भी गुड्डे-गुड़ियों को देखकर उनसे खेलने का मन तो करता ही है। और अगर गुड़िया बार्बी डॉल हो तो कहना ही क्या। उसे तो किसी शोरूम में देखते ही तुम्हारा मन खरीदने के लिए मचलने लगता है।

दरअसल बार्बी ही वह पहली गुड़िया है, जिसने खिलौनों की दुनिया में तहलका मचा दिया। बार्बी हमेशा ही बच्चों की पहली पसंद रही। अपनी सुंदरता और इंसानी रूप-रंग से मेल के चलते बार्बी ने बच्चे हों या बड़े सभी को लुभाया है।

बार्बी डॉल का आज भी उतना ही क्रेज है, जितना इसके जन्म पर था। बच्चे जैसा चाहे इसे मनपंसद रूप दे सकते हैं। इस डॉल के साथ बहुत सुंदर और ट्रेंडी कपड़े, हैंड बैग्स, क्लिप्स और कई तरह की एक्सेसरीज भी आती हैं। इतना ही नहीं, बार्बी के बालों को गुलाबी, सफेद, काला, सिल्वर कैसा भी रंग दिया जा सकता है।
बाजार में यह कई वैराइटी में है। तुम चाहो तो सिंगल बार्बी ले सकते हो। बार्बी के साथ उसका घर भी आता है। एक सपनों जैसा घर, जिसमें बेडरूम, बाथरूम, ड्रॉइंगरूम और रसोई सब कुछ होता है।

हर बार्बी डॉल एक नए अंदाज के साथ बाजार में आती है। कभी वह एक कामकाजी लड़की नजर आती है। कभी स्टाइलिश टीनेज लड़की, कभी शेफ, कल्पनाओं की परी या कभी कोई राजकुमारी। बार्बी इतनी लोकप्रिय हुई है कि इस पर कार्टून फिल्म और गेम्स भी बन गए हैं। बच्चों ने इनको भी बहुत पसंद किया। कनॉट प्लेस में माया स्पोर्ट्स टॉय स्टोर के मालिक का कहना है कि बाजार में बार्बी जैसी कई गुड़िया मिलती हैं, लेकिन बच्चे सबसे ज्यादा बार्बी को ही पसंद करते हैं। इस डॉल की कीमत 299 रुपए से लेकर 2000 रुपए तक है। स्टाइल बार्बी और हेयर टेस्टिक बार्बी को ज्यादा पसंद किया जा रहा है। इसे इलियोईट हैंडलर ने बनाया था।

 
 
 
 
जरूर पढ़ें
क्रिकेट
Image Loadingश्रीलंका में जीत के लिए ये है कोहली का मास्टर प्लान
टेस्ट कप्तान के तौर पर अपनी पहली संपूर्ण तीन मैचों की सीरीज के लिये श्रीलंका दौरे पर भारतीय टीम का नेतृत्व कर रहे विराट कोहली ने कहा है कि उनकी योजना श्रीलंका में पांच गेंदबाजों को उतारने की रहेगी।
 
क्रिकेट स्कोरबोर्ड
 
Image Loading

जब बीमार पड़ा संता...
जीतो बीमार पति से: जानवर के डॉक्टर को मिलो तब आराम मिलेगा!
संता: वो क्यों?
जीतो: रोज़ सुबह मुर्गे की तरह जल्दी उठ जाते हो, घोड़े की तरह भाग के ऑफिस जाते हो, गधे की तरह दिनभर काम करते हो, घर आकर परिवार पर कुत्ते की तरह भोंकते हो, और रात को खाकर भैंस की तरह सो जाते हो, बेचारा इंसानों का डॉक्टर आपका क्या इलाज करेगा?