class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

अनौपचारिक शिक्षा अनुदेशकों का समायोजन होगा, मानदेय मिलेगा

अनौपचारिक शिक्षा प्रशिक्षित अनुदेशकों ने मंगलवार को शिक्षा सचिव और निदेशक से वार्ता के बाद सामूहिक आत्मदाह के कार्यक्रम को स्थगित कर दिया। इनकी मांगों में सेवा समायोजन और बकाये मानदेय का भुगतान शामिल हैं। पूर्व निर्धारित कार्यक्रम के तहत राज्यभर के अनुदेशक विधानसभा स्थित बिरसा चौक के निकट धरना दिया। दिन के दो बजे सामूहिक आत्मदाह करने का कार्यक्रम तय था। इससे पहले ही प्रशासन की आेर से वार्ता की पहल की गयी।ड्ढr धरनास्थल पर दंडाधिकारी के रूप में प्रतिनियुक्त बेड़ो सीआे परवेज इब्राहिम ने एक प्रतिनिधिमंडल को लेकर सचिवालय गये। वहां शिक्षा सचिव जेवी तुबिद और निदेशक पीसी मिश्रा के साथ प्रतिनिधिमंडल की अलग-अलग वार्ता हुई। वार्ता से लौटने के बाद प्रतिनिधिमंडल में शामिल अनुदेशकों ने बताया कि सचिव और निदेशक ने अप्रैल तक उनकी समस्याआें के समाधान का आश्वासन दिया है। सचिव ने कहा कि सरकार के पास अनुदेशकों की सूची उपलब्ध नहीं है। इसके लिए उपायुक्तों को पत्र लिखा जायेगा। उन्होंने प्रतिनिधिमंडल को उपायुक्तों को सूची उपलब्ध कराने का निर्देश दिया है, ताकि उस पर अग्रेत्तर कार्रवाई की जा सके।ड्ढr प्रतिनिधिमंडल ने कहा कि सरकार से इतनी सौहाद्र्रपूर्ण वार्ता इससे पहले कभी नहीं हुई थी। सचिवालय की घटना को ध्यान में रख कर सीटी एसपी रिचर्ड लकड़ा, एसडीआे मनोज कुमार, हटिया डीएसपी चंद्रशेखर प्रसाद और पुलिस के अन्य पदाधिकारी धरनास्थल पर लगातार कैंप किये हुए थे। सुरक्षा की दृष्टिकोण से बड़ी संख्या में पुलिस बल तैनात थे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: अनौपचारिक शिक्षा अनुदेशकों का समायोजन होगा, मानदेय मिलेगा