class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

नॉन कॉलेजिएट की चौथी कटऑफ 8 फीसदी तक गिरी

दिल्ली विश्वविद्यालय के नॉन कॉलेजिएट वुमेन्स एजुकेशन बोर्ड (एनसीवेब) ने सोमवार को चौथी कटऑफ जारी कर दी है। चौथी कटऑफ में 8 फीसदी तक की गिरावट दर्ज हुई है। चौथी कटऑफ के आधार पर मंगलवार से दाखिले शुरू होंगे और 19 जुलाई तक चलेंगे। एनसीवेब के 26 केंद्रों में से अधिकतरों में एसटी वर्ग की छात्राएं बीए और बीकॉम में केवल 33 फीसदी अंकों पर दाखिला ले सकती हैं। चौथी कटऑफ के आधार पर आज से एडमिशन शुरू होंगे जो कल तक चलेंगे। बोर्ड की चौथी कटऑफ में बीए और बीकॉम दोनों में 6 से लेकर 8 फीसदी की कमी आई है। हंसराज कॉलेज में बीए में सामान्य वर्ग की छात्राओं को 77 प्रतिशत पर दाखिला मिल जाएगा। वहीं बीकॉम में छात्राएं 78 पर दाखिला ले सकती हैं। मिरांडा हाउस केंद्र में सामान्य श्रेणी की छात्राएं बीए और बीकॉम में 80 प्रतिशत अंकों पर दाखिला ले सकती हैं। वहीं बीकॉम में एसटी श्रेणी की छात्राओं को हंसराज और मिरांडा कॉलेज को छोड़कर सभी 24 कॉलेजों में 33 फीसदी पर दाखिला मिल जाएगा। सामान्य वर्ग के छात्राओं को अदिती महाविद्यालय और भगिनी निवेदिता कॉलेज में बीए में 60 व बीकॉम में 69 फीसदी अंकों पर दाखिले मिलेगा। छात्राओं के लिए इस कटऑफ के तहत दाखिला लेने के लिए केवल दो दिन का वक्त मिला है। ऐसे मे एनसीवेब के सभी 26 केद्रों पर दाखिले के लिए काफी भीड़ इकट्ठा हो सकती है। नॉन कॉलेजिएट स्नातक स्तर पर दो पाठ्यक्रम बीए प्रोग्राम और बीकॉम हैं। इन दोनों पाठ्यक्रमों में कुल 12,200 सीटें उपलब्ध हैं। एनसीवेब के दाखिले डीयू के 26 कॉलेजों में मौजूद केंद्रो के लिए होते हैं। दिल्ली की कोई भी छात्रा जिसने दिल्ली विश्वविद्यालय का बीए और बीकॉम का फॉर्म भरा है वे भी एनसीवेब में दाखिला ले सकती हूं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:ncweb 4th cutoff dips upto 8 %
जामिया में काली पट्टी बांधकर भीड़ की हिंसा का विरोधनजीब गुमशुदगी: सीलबंद लिफाफे में रिपोर्ट पेश, जांच के लिए सीबीआई ने मांगा और वक्त