class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

मंदिर पर जबरन कब्जा करने की याचिका पर पुलिस उपायुक्त को नोटिस

उत्तर-पूर्वी दिल्ली में एक मंदिर पर निजी व्यक्ति द्वारा कब्जा कर इसे रिहायश में तब्दील करने के मामले में अदालत में एक याचिका दायर की गई है। इस याचिका पर कड़कड़डूमा अदालत ने उत्तर-पूर्वी दिल्ली के पुलिस उपायुक्त को नोटिस जारी कर जवाब-तलब किया है। मुख्य मेट्रोपोलिटन मजिस्ट्रेट अजय गर्ग की अदालत ने इस मामले में पुलिस से 18 सितंबर को प्रगति रिपोर्ट तलब की है। पेश मामले में मंदिर के पुजारी श्याम भारदद्धाज की तरफ से अधिवक्ता एन के भदौरिया ने अदालत में याचिका दायर की है। उनका कहना है कि 40 साल पहले एक महिला ने बलबीर नगर एक्स्टेंशन की गली नम्बर 10 में चंदा इकठ्ठा कर मंदिर बनवाया था। तभी से श्याम भारद्धाज इस मंदिर में पुजारी हैं। एक साल पहले इस महिला की मौत हो गई। अब इस महिला की बेटी ज्योति इस मंदिर पर गैरकानूनी तरीके से कब्जा करना चाहती है। उसने बीते पांच सितंबर को मंदिर के भीतर कब्जे का प्रयास किया। इस याचिका में यह भी कहा गया है कि जब स्थानीय लोगों ने इसका विरोध किया। उन्होंने पुलिस को बुलाया। मौके पर पहुंचे स्थानीय थानाध्यक्ष ने लोगों के साथ बदतमीजी की। इतना ही नहीं पुरुष पुलिसकर्मियों ने वहां कीर्तन कर रही महिलाओं के साथ बदसलूकी की और उनके कपड़े भी फाड़ दिए। इस याचिका में धार्मिक भावनाओं को क्षति पहुंचाने, मंदिर की संपत्ति पर कब्जा करने एवं पुलिस द्वारा बदसलूकी जैसे गंभीर आरेाप लगाए गए हैं। बहरहाल अदालत ने मंदिर के पुजारी व स्थानीय लोगों की इस याचिका पर पुलिस से जवाब मांगा है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Mandir Mandir
हादसा टला VIDEO : नई दिल्ली स्टेशन पर जम्मू राजधानी एक्स बेपटरी,कोई हताहत नहींकारोबारी को जमानत देने से इनकार