class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

आयकर विभाग की कार्रवाई: मीसा, तेजस्वी, तेजप्रताप की संपत्ति जब्त

File Photo of Misa Bharti

आयकर विभाग ने बेनामी संपत्ति मामले में राजद अध्यक्ष लालू यादव के बेटी-बेटों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की है। विभाग ने मीसा भारती, तेजस्वी यादव और तेजप्रताप यादव की संपत्तियों को अस्थाई तौर पर जब्त कर लिया है। 

90 दिन में जवाब मांगा
तीनों को बेनामी कानून के प्रावधानों के तहत 90 दिनों के भीतर आयकर विभाग को जवाब देना होगा। अगर कोई जवाब नहीं दिया जाता है तो विभाग संपत्तियों को स्थाई तौर पर जब्त करने का कदम उठा सकता है। 

सूत्रों की माने तो विभाग ने लालू की पुत्री और राज्यसभा सांसद मीसा भारती को जुलाई के पहले सप्ताह में जवाब देने का तीसरा मौका दिया है। साथ ही बिहार के उप मुख्यमंत्री तेजस्वी यादव और शिक्षामंत्री तेजप्रताप यादव की संपत्तियों की अस्थाई संबद्धता की कार्रवाई की है। विभाग यह कार्रवाई ‘कारण बताओ’ नोटिस के साथ करने में सक्षम है। हालांकि विभाग द्वारा तीनों को पेश होने के लिए दी गई तारीख को पूरी तरह से गुप्त रखा गया है, क्योंकि मीसा ने पेश नहीं होने की वजह अपनी सुरक्षा बताई थी। 

दिल्ली समेत कई जगह कार्रवाई
सूत्रों की मानें तो दिल्ली, गुरुग्राम और नोएडा समेत कई शहरों में स्थित तीनों भाई-बहनों की संपत्तियों को अस्थाई तौर पर जब्त किया गया है। माना जा रहा है कि दिल्ली और पटना समेत अन्य स्थानों पर डेढ़ दर्जन से ज्यादा संपत्तियों के मामले में यह कदम विभाग ने उठाया है।

अस्थाई जब्ती के मायने
संपत्तियों को बेचा नहीं जा सकता है
इसमें बैंक खाते भी आते हैं
विभाग के निर्देश पर उनके लेन-देन पर रोक लगा दी जाती है

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:IT attaches assets in Misa Bharti benami land deal case