class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सरकारी फ्लैट खाली के मामले में दे परिवारों को फौरी राहत :अरविंद केजरीवाल

नई दिल्ली, प्रमुख संवाददाता सरोजनी नगर के फ्लैट मालिको को कुछ और समय के लिए फौरी राहत दी जानी चाहिए। इस हटाने की वजह से यहां रह रहे परिवारों में बच्चों की शिक्षा समेत अन्य कई परेशानियां खड़ी हो जाएंगी। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने इस मामले में केंद्रीय शहरी विकास मंत्री को पत्र भेजा है। सरोजनी नगर को जरनल पूल रजिडेंशियल एकोमोडिएशन (जीपीआरए) आरडब्ल्यूए ने दिल्ली सरकार से इस दिशाथा।मामले में सरकार को जानकारी दी गई में पहल करने की सिफारिश की थी और सामने आने वाली परेशानियों का हवाला भी दिया है कि जल्द ही किदवई नगर, नारौजी नगर, नेताजी नगर, मोहम्मदपुर व श्रीनिवासपुरी को खाली कराया जाना है। ये पहल नए फ्लैट बनाने के लिए होना है और इसके लिए सरकार की नीति भी तैयार है। इन कॉलोनियों से बड़ी संख्या में कर्मचारी शिफ्ट हो चुके है लेकिन अभी भी यहां पर लोग रह रहे हैं। इस मामले में हाल ही में एक सलाह भी जारी की गई है। इससे इन घरों में रह रहे बच्चों का भविष्य खतरे में है। इसलिए इन परिवार को राहत दी जानी चाहिए।बताया गया है कि बच्चों का शिक्षा सत्र मध्य में हैं और यदि इन परिवारों को तत्काल हटाया जाता है तो इससे इनकी शिक्षा पर सीधा असर होगा। इन परिवारों के 100 से अधिक बच्चे नजदीक के विभिन्न स्कूलों में शिक्षा ग्रहण कर रहे हैं। इन बच्चों को शैक्षिक सत्र तक इन परिवारों को हटाए जाने की योजना स्थगित किया जाए। मुख्यमंत्री ने कहा है कि उन्होंने भी जनता से आग्रह किया है कि वे 2018 तक इस जगह को खाली करने के लिए तैयार रहें।
  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:give more time to govt colonys : arvind
नालों की साफ-सफाई पर सरकार व नगर निगम से मांगा जवाबअब ऑन लाइन तलाशे अपने लिए रोजगार