class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

पुलिस को थी तलाश, फिर भी एक ही इलाके में कर दीं दो दर्जन वारदातें

loot

गीता कॉलोनी में कई लोगों से लूट के आरोपियों की तलाश पुलिस कर रही थी, लेकिन ये बेखौफ बदमाश फिर भी इसी इलाके में लगातार लूटपाट करते रहे। मगर पुलिस इनका पता नहीं लगा सकी। 27 अप्रैल को यहीं एक कारोबारी को भी इन्होंने लूट लिया। कारोबारी द्वारा बताए गए हुलिए के आधार पर पुलिस ने चार लुटेरों को गिरफ्तार कर लिया। कड़कड़डूमा स्थित अतिरक्ति सत्र न्यायाधीश रविंद्र डुडेजा की अदालत में इस मामले की जांच रिपोर्ट पेश करते हुए पुलिस ने बताया कि पिछले कुछ महीनों में इन आरोपियों ने 24 से ज्यादा लूट की हैं, जिनमें उनकी तलाश थी। आरोपी पहले शिकार की रेकी करते थे और फिर मौका देखकर उसे लूट लेते थे। अदालत ने आरोपियों को राहत न देते हुए कहा कि राजधानी में इस समय लूटपाट और झपटमारी सबसे ज्यादा हैं। अब तो बदमाश हथियारों के बल पर दिनदहाड़े वारदात करने लगे हैं। ऐसा प्रतीत होता है कि कोई भी यहां सुरक्षित नहीं हैं। रास्ता पूछने के बहाने लूट गीता कॉलोनी में रहने वाला कारोबारी 27 अप्रैल की सुबह सैर के लिए निकले थे। तभी बाइक सवार दो लड़कों ने उनसे रास्ता पूछा। जब कारोबारी रास्ता बताने लगे तो एक और बाइक वहां आ गई। दूसरी बाइक पर आए युवकों ने पिस्तौल निकालकर उनसे सोने का ब्रेस्लेट और अंगूठी सहित लाखों के जेवर लूट लिए। सुबह सैर पर निकलने वाले निशाना आरोपी सुबह की सैर पर निकलने वाले लोगों को निशाना बनाते थे, क्योंकि उस समय सड़कें सुनसान रहती हैं और सैर पर निकलने वाले अधिकांश बुर्जुग ही होते हैं। ऐसे में विरोध की संभावना होती है। एक ही इलाके में वारदात चौंकाने वाली बात यह भी है कि आरोपी एक ही इलाके में ही वारदात करते हैं। इस मामले में पकड़े गए आरोपियों से पूछताछ में पता चला कि वह महीनों से गीता कॉलोनी और उसके आसपास ही वारदात कर रहे थे, क्योंकि वह इलाके से भलीभांति परिचित हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:fraud
आम्रपाली के फ्लैट खरीदार बेमियादी अनशन परउपलब्धि : भसीन परिवार के पांच सदस्यों ने 100 वर्ष तक विमान उड़ाए