class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

लाटरी के नाम पर ठगी, दोनाइजीरियाई के साथ तीन गिरफ्तार

नई दिल्ली कार्यालय संवाददातासदर बाजार पुलिस ने लाटरी के नाम पर ठगी करने के मामले में एक व्यक्ति को उसके दो नाइजीरियाई साथी के साथ गिरफ्तार किया है। इनके कब्जे से करीब चार लाख रुपये, 25 पैन कार्ड, 26 एटीएम कार्ड और अलग-अलग बैंकों की 32-32 पासबुक और चेकबुक बरामद हुई हैं।डीसीपी जतिन नरवाल ने बताया कि 12 जुलाई को भूपेंद्र सिंह ने इस बाबत धोखाधड़ी की शिकायत दर्ज कराई। शिकायत में कहा गया कि उन्हें 29 जून को मोबाइल पर एसएमएस आया जिसमें सैमसंग कम्पनी की तरफ से पांच लाख डालर लाटरी निकलने की सूचना दी गई थी। इसके बाद सीमा शुल्क एवं अन्य करों के नाम पर पीड़ित से करीब 3 लाख 81 हजार रुपये अलग अलग समय में विभिन्न बैंक खातों में जमा कराए। बाद में शक होने पर भूपेंद्र ने पुलिस को सूचना दी। एसएचओ रमेश दहिया के नेतृत्व में टीम का गठन किया गया। हेडकांस्टेबल संदीप चावला ने तकनीकी सर्विलांस के जरिए मालूम किया कि आरोपी जामिया नगर इलाके में 14 जुलाई को आने वाले हैं। इसके बाद टीम ने जाल बिछाकर वारिस खान और उसके नाइजीरियाई साथी किंग्सले एवं फ्रैंक को गिरफ्तार कर लिया।पूछताछ में वारिस ने बताया कि वह नाइजीरियाई नागरिकों से दिल्ली में मिला था। वह इन्हें ठगी की राशि जमा कराने के लिए बैंक खाते उपलब्ध कराता था। जांच में मालूम हुआ कि वारिस बरेली का रहने वाला है और अशिक्षित है। उसने अपने गांव के गरीबों के पहचान पत्र को सरकारी योजनाओं का लाभ दिलाने के नाम पर ले लिए। फिर इन्हीं कागजातों के आधार पर उसने बैंक खाते खोल लिए।
  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:fraud
सौ के पार हुई मलेरिया-चिकनगुनिया के मरीजों की संख्याजीएसटी के विरोध में आज संसद घेरेगी कांग्रेस