class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

कैबिनेट सेक्रेटेरिएट के नाम का फर्जी आदेश पत्र सोशल मीडिया पर जारी, मामला दर्ज

जाली हस्ताक्षर के आधार पर एक फर्जी आदेश पारित करने और उसे सोशल मीडिया पर जारी करने का सनसनीखेज मामला सामने आया है। यह आदेश पत्र कैबिनेट सेक्रेटेरिएट के नाम पर जारी किया गया है। इस फर्जीवाड़े की शिकायत राष्ट्रपति भवन के कैबिनेट सेक्रेटेरिएट में तैनात अंडर सेक्रेटरी शिव नाथ सिंह ने सोमवार को राजधानी के नॉर्थ एवेन्यू थाने में की है। जिसके आधार पर पुलिस ने इस संबंध में फर्जीवाड़े का मामला दर्ज कर जांच आरंभ कर दी है। यह जानकारी सोमवार रात करीब पौने ग्यारह बजे डीसीपी मधुर वर्मा ने दी। 

उन्होंने पत्र का हवाला देते हुए यह बताया कि इस फर्जी पत्र में 15 जून की तारीख अंकित है। इस पत्र का इस्तेमाल धड़ल्ले से विभिन्न सोशल नेटवर्किंग साइट पर किया जा रहा था।  इसमें लैंड रिकॉर्ड के डिजिटाइेशन और उसे आधार से लिंक करने संबंधित सरकारी सूचना जारी करने संबंधित बात एक जिम्मेदार सरकारी विभाग के आधार पर लिखी गई है, जबकि इस तरह का कोई आदेश विभाग की तरफ से जारी किया ही नहीं गया है। 

सोमवार पता चला फर्जीवाड़े का पुलिस को दी गई शिकायत में अंडर सेक्रेटरी ने यह लिखा है कि जब वह कार्यालय पहुंचे तो उनके पास से इस पत्र से संबंधित कई टेलीफोन कॉल आए। इस पर उन्होंने जब कार्यालय से जानकारी हासिल की कि क्या इस तरह के कोई आदेश कैबिनेट सेक्रेटेरिएट के नाम पर जारी हुआ है तो पता चला कि ऐसा कुछ भी नही है। फिर अंडर सेक्रेटरी ने इस बारे में पुलिस को शिकायत दी। पुलिस ने फिर इस संबंध में अज्ञात शख्स के खिलाफ फर्जीवाड़ा करने का मामला आईपीसी की धारा- 469/471/465/466/505 के तहत दर्ज किया है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Fake order in cabinet secretarys name issued on social media