class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

किसानों के हित में काम करती रहेगी सरकार:केजरीवाल

नई दिल्ली। प्रमुख संवाददातासरकार किसानों के हक के लिए हमेशा लड़ती रहेगी। हम लोग ग्रामीणों को 74/4 और जमीन के ज्यादा मुआवजे के लिए प्रयासरत हैं। यह बात आम आदमी पाटीर् के राष्ट्रीय संयोजक और सीएम अरविंद केजरीवाल ने बवाना में आयोजित महापंचायत में कही। उन्होंने कहा कि सरकार किसान और उनके हितों के लिए दिन-रात काम कर रही है। उन्होंने केंद्र सरकार के साथ पैंडिंग मामलों में दिल्ली के सांसदों पर सवाल भी उठाए। मुख्यमंत्री महापंचायत के दौरान किसानों को साधते दिखाई दिए। बवाना इलाके गांवोंकी महापंचायत का आयोजन किया गया। इसमे सीएम केजरीवाल ने कहा कि पूरे देश में दिल्ली एकमात्र राज्य है जहां बीस सूत्रीय कार्यक्रम के तहत गरीबों को जमीन पर मालीकाना हक नहीं मिला। इसकी फाइल सरकार ने केंद्र को भेज दी है। वहां से हस्ताक्षर होते ही मालिकाना हक लागू हो जाएगा। उन्होंने सांसदों की भूमिका पर सवाल उठाते हुए कहा कि उन्होंने इस बारे में क्या किया? बीजेपी-कांग्रेस काम पर राजनीति करते हैं, लेकिन हमे काम करना आता है। मुआवजे पर लुभायाकेजरीवाल ने ग्रामीणों को मुआवजे पर लुभाया। उन्होंने कहा कि सरकार गठन के समय एक एकड़ जमीन का मुआवजा 53 लाख मिलता था। इसे बढ़ाकर तीन करोड़ कर दिया गया था, लेकिन एलडी ने आदेश रद्द कर दिया। हमने जनता के हक में उस आदेश को रद्द कर दिया। अब मामला कोर्ट में है। सरकारी स्कूलों में सुधारी शिक्षाउन्होंने कहा कि हमने सरकारी स्कूलों में शिक्षा का स्तर सुधार दिया है। इस बार दिल्ली सरकार के स्कूलों का रिजल्ट 88 फीसदी था, जबकि प्राइवेट स्कूलों का रिजल्ट 79 फीसदी था। दिल्ली के बच्चों को विश्वस्तरीय शिक्षा के लिए हम प्रतिबद्ध हैं। उन्होंने सरकारी स्कूलों में शिक्षा के बदलते स्तर को सराहा और कहा कि दिल्ली में स्कालरशिप स्कीम लागू की गई है। इससे पैसे के अभाव में कोई छात्र पढ़ाई से नहीं रुकेगा।
  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:bavana panchayat Government will continue to work for the benefit of farmers: Kejriwal
एनसीवेब में दाखिले का अंतिम मौका आजअरबिंदो कॉलेज में एनसीवेब का ओरिएंटेशन कार्यक्रम