class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

गोरखपुर हादसाः बीआरडी मेडिकल कॉलेज के प्रिंसिपल आरके मिश्रा को सरकार ने किया सस्पेंड

स्वास्थय मंत्री सिद्धार्थ नाथ ने कहा ऑक्सीजन की कमी से नहीं हुई किसी भी बच्चे की मौत

1/4 स्वास्थय मंत्री सिद्धार्थ नाथ ने कहा ऑक्सीजन की कमी से नहीं हुई किसी भी बच्चे की मौत

गोरखपुर के बीआरडी मेडिकल कॉलेज में ऑक्सीजन के चलते हुई 36 बच्चों की मौत के बाद कॉलेज के प्रिंसिपल आके मिश्रा को सस्पेंड कर दिया गया है। शनिवार को स्वास्थय मंत्री सिद्धार्थ नाथ सिंह और चिकित्सा शिक्षा मंत्री आशुतोष टंडन मेडिकल कॉलेज पहुंच थे। जिसके बाद उन्होंने प्रेस कांफ्रेंस कर कहा कि अस्पताल में बच्चों की मौत ऑक्सीजन की कमी से नहीं हुई है। उन्होंने ये भी बताया कि अगस्त 2014 में 567, अगस्त 2015 में 558 और अगस्त 2016 में 587 बच्चों की मौत हुई है।

प्रेस कांफ्रेंस के बाद चिकित्सा शिक्षा मंत्री आशुतोष टंडन ने बीआरडी मेडिकल कालेज के प्रिंसिपल आके मिश्रा को सस्पेंड कर दिया। लेकिन दावा किया गया कि आके मिश्रा ने नैतिकता के आधार पर पहले ही प्रिंसिपल के पद से इस्‍तीफा दे दिया था।

गोरखपुर के बाबा राघव दास (बीआरडी) मेडिकल कॉलेज में पिछले छह दिनों में 63 लोगों की मौत हो गई। जान गंवाने वालों में नवजात बच्चे भी शामिल हैं। आज सुबह भी एक बच्चे की मौत हो गई। ये बच्चा इंसेफेलाइटिस से पीड़ित था। यूपी सरकार ने इस मामले मेजिस्ट्रियल जांच के आदेश दिए हैं।  बाल चिकित्सा केंद्र में बच्चों की मौतों के लिए इंफेक्शन और ऑक्सीजन की सप्लाई में दिक्कत को जिम्मेदार ठहराया गया है, लेकिन अस्पताल और जिला प्रशासन ने ऑक्सीजन की कमी को मौत का कारण मानने से इनकार किया है। सीएम ने अपने दो मंत्रियों को भेज मामले की जांच रिपोर्ट मांगी है। 

स्वास्थय मंत्री सिद्धार्थ नाथ सिंह और चिकित्सा शिक्षा मंत्री आशुतोष टंडन मेडिकल कॉलेज पहुंचे। वहीं दूसरी तरफ गोरखपुर की राजनीति काफी तेज हो गई है। विपक्ष सरकार पर तीखे हमले कर रहा है। इस दुर्घटना के लिए पूरी तरह से प्रशासन को जिम्मेदार ठहराया गया है। 

उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने शनिवार सुबह पत्रकारों से बातचीत में कहा कि "गोरखपुर के बाबा राव दास मेडिकल कालेज में हुई इस दुखद घटना में जो भी दोषी पाया जाएगा उसके खिलाफ निश्चित तौर पर कड़ी कावार्ई की जाएगी।"

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के आधिकारिक टिवटर एकाउंट से आज ट्वीट किया गया कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने मामले की गहन जांच कर सख्त कावार्ई सुनिश्चित करने के निर्देश दिये। 

Next
  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:sixty three kids die in six days in gorakhpur BRD medical hospital tragedy and cm yogi seeks investigation report
गठबंधन को मजबूती; नीतीश को NDA में शामिल होने का न्योता डोकलाम विवाद: भारत-चीन की फ्लैग मीटिंग रही बेनतीजा, भारत ने बढ़ाई सेना