class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

अयोध्या विवाद: शिया धर्मगुरु कल्बे सादिक ने कहा बाबरी मस्जिद पर फैसला पक्ष में न आने पर हिंदुओं को जमीन दे दें मुसलमान

Babri Masjid verdict

शियाओं के धर्मगुरु मौलाना कल्बे सादिक ने राम जन्मभूमि विवाद पर एक अहम बयान दिया है। उन्होंने कहा है कि बाबरी मस्जिद पर फैसला अगर मुसलमानों के हक में हों तो उसे शांतिपूर्वक स्वीकार करें। उन्होंने यह बात एक कार्यक्रम के दौरान कही। 

जहां उन्होंने मुसमलानों से उनके पक्ष में आए फैसले को शांतिपूर्वक स्वीकार करने के लिए कहा तो दूसरी ओर उन्होंने हिंदुओं को जमीन देने की बात भी कही। कल्बे सादिक ने कहा कि अगर फैसला मुसलमानों के हक में न हो तो भी वे खुशी-खुशी जमीन हिंदुओं को दे दें। केंद्रीय मंत्री हर्षवर्धन ने कल्बे सादिक के बयान की तारीफ की। उन्होंने कहा कि यह बात कह कर मौलाना साहब ने सबका दिल जीत लिया है। हर्षवर्धन के मुताबिक भगवान श्रीराम न हिंदुओं के और न मुसलमानों के बल्कि वह तो भारत की आत्मा हैं। आपको बता दें कि राम जन्मभूमि-बाबरी मस्जिद विवाद में शुक्रवार को सुप्रीम कोर्ट ने सभी पक्षों को ऐतिहासिक दस्तावेजों के अनुवाद के लिए 3 महीने का समय दिया है। इस मामले की अगली सुनवाई पांच दिसंबर को तय की गई है। सुप्रीम कोर्ट ने कहा है कि पहले वह दो मुख्य पक्षों को चुनेगा इसलिए सभी पक्ष अपने कागजात तैयार रखें।  
 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Shia cleric Maulana Kalbe Sadiq talks about Babri Masjid verdict
जम्मू-कश्मीरः शोपियां में आतंकियों ने तीनों आतंकियों को मार गिराया, दो जवान भी शहीद टॉप 10 न्यूजः पढ़ें 9 बजे तक की देश-दुनिया की बड़ी खबरें एक नजर में