class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

मोदी-शिंजो मीट Day 1: भव्य रोड शो से लेकर शानदार डिनर तक, दिन भर की 10 खास बातें

मोदी-शिंजो मीट

जापान के प्रधानमंत्री शिंजो अबे बुधवार को दो दिवसीय भारत दौरे पर गुजरात के अहमदाबाद पहुंचे। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने एयरपोर्ट पर उनका जोरदार स्वागत किया। मोदी ने अबे और उनकी पत्नी अकई के साथ खुली जीप में एक भव्य रोड शो किया। मोदी और शिंजो अबे की ये 11वीं मुलाकात है। पिछले तीन साल के दौरान मोदी और अबे 10 बार मुलाकात कर चुके हैं।

यहां जानें दिन भर की 10 खास बातें... 

japanese pm arrives in ahmedabad1. प्रोटोकॉल तोड़ आगवानी
टोक्यो से विशेष विमान से सीधे अहमदाबाद पहुंचे अबे का प्रधानमंत्री मोदी ने प्रोटोकॉल तोड़ कर खुद एयरपोर्ट पर उनकी आगवानी की। दोनों नेताओं ने एक दूसरे से हाथ मिलाया और फिर गले लगे। चीन के साथ डोका ला विवाद में मजबूत समर्थन की पृष्ठभूमि में भारत आए अबे और मोदी के बीच काफी गर्मजोशी दिखी। एयरपोर्ट पर जापानी प्रधानमंत्री को पारंपरिक गार्ड ऑफ ऑनर दिया गया। एयरपोर्ट पर स्थानीय कलाकारों ने रास गरबा से अबे का स्वागत किया। रोड शो

2. भव्य रोडशो और देसी परिधान
करीब आधे घंटे के आठ किलोमीटर लंबे रोड शो के दौरान एयरपोर्ट से साबरमती आश्रम तक हजारों लोगों ने उनका अभिवादन किया। इस दौरान अबे दंपति देसी परिधान में दिखे। शिंजो अबे ने नीले रंग की नेहरू जैकेट और मलाईनुमा उजले रंग का कुर्ता पायजामा पहना हुआ था जबकि उनकी पत्नी ने दुपट्टे के साथ मेरुननुमा लाल रंग का कुर्ता और सलवार पहना हुआ था। संभवत: देश में किसी विदेशी प्रधानमंत्री का यह पहला रोड शो है। 
 
3. साबरमती आश्रम दिखाया
रोड शो साबरमती रिवरफ्रंट तथा सुभाष ब्रिज और आरटीओ सर्किल होते हुए साबरमती आश्रम पहुंचा। महात्मा गांधी के प्रिय भजनों के बीच उन्होंने बापू की प्रतिमा पर पुष्प चढ़ाए। रोड शो और आश्रम में प्रधानमंत्री मोदी अबे दंपति को खुद कई चीजों के बारे में जानकारी देते दिखे। उन्होंने आश्रम में गांधीजी के चरखे के साथ तस्वीर भी खिंचाई। साबरमती रिवरफ्रंट के हिस्से की तरफ एक चबूतरे पर थोड़ी देर तक वे कुर्सियों पर भी बैठे। अबे दंपति ने आगंतुक पुस्तिका में हस्ताक्षर भी किए। 

4. कड़ी सुरक्षा व्यवस्था
अहमदाबाद में जापानी प्रधानमंत्री के स्वागत होर्डिंग एवं बैनर लगाए गए थे। सड़कों और इमारतों पर लाइटिंग की खास व्यवस्था भी की गई है। रोड शो के लिए तीन स्तरीय सुरक्षा व्यवस्था की गई थी। इस दौरान 15 हजार सुरक्षाकर्मियों की तैनाती की गई। रोड शो के दौरान सड़क के दोनों ओर करीब 1 लाख लोग मौजूद रहे। पूरे रास्ते में 19 स्टेज बनाए गए थे जहां विभिन्न राज्यों की झांकियां प्रस्तुत की गईं।       

5. मोदी, अबे ने 16वीं शताब्दी की मस्जिद का दौरा किया
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और उनके जापानी समकक्ष शिंजो अबे ने अहमदाबाद के पुराने शहर स्थित 16वीं सदी की मस्जिद सिद्दी सैयद का दौरा किया। प्रधानमंत्री बनने के बाद मोदी पहली बार देश की किसी मस्जिद में गए हैं। 

6. मोदी ने अबे को बताया मस्जिद का इतिहास 
मोदी ने खुद अबे दंपति को सिद्दी मस्जिद की अहमियत और इतिहास की जानकारी दी। यह मस्जिद अपनी जाली खिड़कियों के लिए मशहूर है। गुजरात सल्तनत के अंतिम सुल्तान शम्स-उद-दीन मुजफ्फर शाह तृतीय की सेना के एक जनरल अहमद शाह बिलाल झजर खान के अनुयायियों ने 1573 में इस मस्जिद का निर्माण कराया था। यह मस्जिद संस्कृति और खूबसूरती का मिश्रण है। इस मस्जिद को हिंदू-मुस्लिम एकता की मिसाल माना जाता है। इस मस्जिद की खास बात यह है कि शाम के वक्त जब ढलते सूरज की किरणें मस्जिद की जाली से निकलती हैं तो अद्भुत नजारा होता है। इस मस्जिद की जालियों में कल्पवृक्ष और खजूर के पेड़ एक साथ बने हैं। प्रधानमंत्री मोदी ने 2015 में अबूधाबी की मशहूर शेख जायद मस्जिद का दौरा किया था। 


7. भारत के साथ संबंध बेहद विशेष : शिंजो अबे
भारत के दो दिवसीय यात्रा की शुरुआत करते हुए जापान के प्रधानमंत्री शिंजो अबे ने भारत के साथ अपने देश के संबंधों को बेहद महत्वपूर्ण और विशेष करार दिया। उन्होंने कहा कि जापान, भारत के तीव्र आर्थिक विकास में सहयोग के तौर पर अपना प्रौद्योगिकी समर्थन जारी रखेगा। 


8. 100 जापानी कंपनियां कारोबार के लिए भारत आ रही हैं 
शिंजो अबे ने कहा कि प्रति वर्ष करीब 100 जापानी कंपनियां कारोबार के लिए भारत आ रही हैं। अक्तूबर 2016 में 1305 जापानी कंपनियां काम कर रही थीं। भारत और जापान के तकनीशियन विनिर्माण इकाइयों में साथ मिलकर काम कर रहे हैं और इस तरह से भारत-जापान आर्थिक संबंधों को जमीनी स्तर पर मजबूत बनाने में योगदान कर रहे हैं।

9. बढ़ सकता है परमाणु ऊर्जा से जुड़े गैर-ऊर्जा क्षेत्रों में सहयोग
भारत और जापान के प्रधानमंत्रियों के बीच प्रतिनिधिमंडल स्तर की बातचीत के पहले सरकार के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि दोनों देश परमाणु ऊर्जा से जुड़े गैर-ऊर्जा क्षेत्रों में अपना सहयोग बढ़ा सकते हैं। अधिकारी ने हालांकि कहा कि देश में परमाणु बिजली घर बनाने के लिए जापान से उपकरणों की खरीद के लिए समझौता होने की संभावना कम ही है क्योंकि फ्रेंच कंपनी ईडीएफ और अमेरिकी कंपनी वेस्टिंगहाउस इलेक्ट्रिक कंपनी से बातचीत जारी है।

10. डिनर में गुजराती और जापानी व्यंजन
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने जापानी समकक्ष शिंजो अबे और उनकी पत्नी के साथ शहर के प्रसिद्ध अगाशिये टैरेस रेस्टोरेंट में डिनर किया। यह रेस्टोरेंट अपने शानदार नजारे और गुजराती जायके लिए प्रसिद्ध है। यह होटल मंगलदास हैरिटेज होटल समूह का हिस्सा है। इससे शहर की धरोहरों को देखा जा सकता है। यहां से सिद्दी सैयद मस्जिद भी दिखाई देती है। सूत्रों के अनुसार, पूरी थाली शाकाहारी थी। खिचड़ी और कढ़ी के साथ मोदी की पसंदीदा डिश हांडवो भी थी। वेजिटेबल केक भी शामिल रहा। इसके अलावा कुछ जापानी पकवानों को भी इसमें शामिल किया गया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:PM Modi, Abe display India-Japan bonhomie in Gujarat; visit Sabarmati Ashram, historic mosque- 10 points
Bullet Train:शहरों को रफ्तार के साथ लाखों रोजगार भी देगी ये ट्रेन, जानें इसकी 10 खास बातें नया खुलासा: डेरे के 10,000 चेलों से खुदकुशी कराने की थी तैयारी