class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

उपराष्ट्रपति चुनावः NDA उम्मीदवार वेंकैया नायडू और UPA के गोपाल कृष्ण ने गांधी किया नामांकन

Venkaiah Naidu

1 / 2Venkaiah Naidu

Presidential election

2 / 2Venkaiah Naidu and Gopalakrishna Gandhi

PreviousNext

भाजपा के वरिष्ठ नेता वेंकैया नायडू ने एनडीए की ओर से उपराष्ट्रपति पद के लिए अपना नामांकन दाखिल कर दिया है। उनके नामांकन में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, भाजपा अध्यक्ष अमित शाह, वरिष्ठ नेता लाल कृष्ण आडवाणी, मुरली मनोहर जोशी समेत कई नेता मौजूद थे। उधर विपक्ष के उपराष्ट्रपति उम्मीदवार गोपालकृष्ण गांधी ने भी कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी और राहुल गांधी की मौजूदगी में अपना नामांकन पत्र दाखिल किया। 

इससे पहले सोमवार की रात अमित शाह ने की इसकी घोषणा की थी। उन्होंने एनडीए के सभी सहयोगी दलों की इसकी सूचना दी, जिसका सभी ने स्वागत किया। भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने नायडू से इस बारे में रविवार को चर्चा की थी और सोमवार सुबह प्रधानमंत्री ने उनसे बात की थी। संसदीय बोर्ड की बैठक के बाद शाह ने नायडू को उम्मीदवार बनाए जाने का ऐलान किया। नायडू के नाम की घोषणा के बाद रात को ही उन्होंने केंद्रीय मंत्री पद से इस्तीफा दे दिया।

वेंकैया नायडू:छात्र नेता से NDA के उपराष्ट्रपति उम्मीदवार तक का सफर

उन्होंने कहा कि 68 वर्षीय नायडू देश के व भाजपा के वरिष्ठ नेताओं में एक हैं। संसदीय बोर्ड की बैठक में नायडू खुद मौजूद थे। बैठक में उनका नाम करते ही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी व अन्य सभी सदस्यों ने उनको बधाई दी। शाह ने कहा कि नायडू ने किसान परिवार से निकल कर 25 साल के संसदीय जीवन में देश की सेवा की है। 

वहीं प्रधानमंत्री  नरेंद्र मोदी ने कहा कि किसान के बेटे वेंकैया नायडू के पास लंबा संसदीय अनुभव है जो राज्यसभा के सभापति के रूप में महत्वपूर्ण भूमिका निभाने में उनकी मदद करेगा। पूरी राजनीतिक बिरादरी में उन्हें सराहा जाता है। वह उपराष्ट्रपति पद के लिए उपयुक्त उम्मीदवार हैं। 

उपराष्ट्रपति चुनाव:इन 5 कारणों से RSS और BJP की पसंद बने वेंकैया नायडू

विपक्ष के उम्मीदवार हैं गोपालकृष्ण गांधी 

उपराष्ट्रपति चुनाव के लिए विपक्ष के उम्मीदवार और राष्ट्रपिता महात्मा गांधी के पौत्र गोपालकृष्ण गांधी ने कहा है कि ये चुनाव एकतरफा नहीं होगा।  
पूर्व आईएएस अधिकारी रहे गोपालकृष्ण गांधी राष्ट्रपिता महात्मा गांधी के पौत्र हैं। उन्होंने कहा कि हमारा राष्ट्रीय चिन्ह अशोक स्तंभ और सत्यमेव जयते का काफी महत्व है। ये देश का आईना है। उन्होंने कहा कि सत्य का हमेशा महत्व है। सत्य की हमेशा जीत होती है। गौरलतब है कि कांग्रेस समेत 18 विपक्षी दलों की बैठक में गोपालकृष्ण गांधी को उपराष्ट्रपति पद के लिए विपक्षी उम्मीदवार बनाने का ऐलान किया गया था।

बापू के पोते हैं विपक्ष के उपराष्ट्रपति प्रत्याशी गोपालकृष्ण गांधी, पढें उनके बारे में

कौन हैं गोपालकृष्ण गांधी
71 वर्षीय गोपालकृष्ण गांधी रिटायर्ड आईएएस अधिकारी हैं। वे बंगाल के पूर्व गवर्नर भी रह चुके हैं। वे बंगाल के 22 वें गवर्नर थे। 2004 से 2009 तक इस पद पर कार्यरत रहे। वह राष्ट्रपिता महात्मा गांधी के पोते हैं। इनका जन्म 22 अप्रैल 1945 को हुआ था। भारतीय प्रशासनिक सेवा के पूर्व सदस्य के रूप में उन्होंने अन्य प्रशासनिक और कूटनीतिक पदों के बीच भारत के राष्ट्रपति के सचिव के रूप में सेवा दी। वे दक्षिण अफ्रीका और श्रीलंका में उच्चायुक्त के रूप में भी कार्यरत रहे। 

उप राष्ट्रपति चुनावः विपक्ष के उम्मीदवार गोपालकृष्ण गांधी के बारे में जानें 10 खास बातें

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: NDA candidate Venkaiah Naidu and UPA candidate Gopalakrishna Gandhi will nominate today for Vice Presidential Election
जम्मू-कश्मीर: LOC पर सेना ने मार गिराए 2 आतंकी, अनंतनाग में इंटरनेट बैनजम्मू-कश्मीर: आपसी कहासुनी के बाद जवान ने मेजर को मारी गोली, मौके पर मौत