class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

हिमाचल हादसा: चलती बसों पर मंडी में फटा बादल, 46 लोगों की मौत

हिमाचल हादसा

1 / 2हिमाचल हादसा

Landslide

2 / 2Landslide

PreviousNext

हिमाचल प्रदेश में मंडी-पठानकोट राष्ट्रीय राजमार्ग पर हुए भीषण भूस्खलन की चपेट में हिमाचल रोडवेज की दो बसों के आने से कम से कम 46 लोगों की मौत हो गई और कई अन्य घायल हो गए। अधिकारियों का कहना है कि मरने वालों की संख्या बढ़ सकती है क्योंकि दोनों बसों में 50 से अधिक लोग सवार थे। बादल फटने से यह भीषण भूस्खलन हुआ। एक अधिकारी ने बताया कि अब तक 46 शव बरामद किए गए हैं और इनमें से 23 की पहचान कर ली गई है। 

रविवार शाम को राहत एवं बचाव अभियान रोक दिया गया क्योंकि और भूस्खलन होने की आशंका थी। बचाव अभियान सोमवार सुबह फिर शुरू होगा। रक्षा विभाग के एक प्रवक्ता ने बताया कि सेना की दो टुकड़ि़यों को बचाव कार्य में लगाया गया है। एनडीआरफ, सेना और पुलिस के दल मौके पर पहुंच गए हैं और वहां जेसीबी मशीन भी तैनात की गईं हैं। राज्य के मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह ने घटनास्थल का दौरा किया और कहा कि सभी शव बरामद किए जाने तक बचाव अभियान जारी रहेगा।
      
उन्होंने कहा कि मनाली-कटरा बस में आठ लोग यात्रा कर रहे थे, जिनमें तीन लोगों की मौत हो गई और पांच लोगों को बचा लिया गया और उनको मंडी के अस्पताल में भर्ती कराया गया है। मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य सरकार घायलों के इलाज का पूरा खर्च वहन करेगी। उन्होंने पीडि़त परिवारों से मुलाकात कर संवेदना प्रकट की। एक अधिकारी ने कहा कि दूसरी बस में 47 यात्री थे और यह बस मनाली से चम्बा जा रही थी। 

स्वास्थ और परिवहन मंत्रालय ने किया मुआवजे का ऐलान
स्वास्थ्य मंत्री कौल सिंह ठाकुर, परिवहन मंत्री जी एस बाली और ग्रामीण विकास एवं पंचायती राज मंत्री अनिल शर्मा ने भी मौके का दौरा किया। ठाकुर ने कहा कि मारे गए लोगों के परिजनों को चार-चार लाख रूपये की सहायता राशि दी जाएगी, जबकि बाली ने ऐलान किया कि हिमाचल परिवहन निगम की ओर से इन परिवारों को एक-एक लाख रूपये दिए जाएंगे।

बाढ़ की तबाही: बिहार में 12 जिलों की स्थिति गंभीर, सेना से मदद मांगी

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:46 people died in Mandi-Pathankot National Highway due to landslide in Himanchal Pradesh
टॉप 10 न्यूजः पढ़ें 9 बजे तक की देश-दुनिया की बड़ी खबरें एक नजर में आजादी के 70 साल: खेल के मैदान के वो सितारे जिनके कंधों पर सजे हैं 'सितारे'