class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

प्रिय, परिवार और परिवेश पर सलोनी सरना का सार्थक कविता संग्रह 'आबशार'

आबशार

आबशार नाम से प्रकाशित कविता संग्रह नयी, उभरती, युवा लेखिका "सलोनी कपूर सरना" की पहली कृति है| इस संग्रह में लिखी कविताएं "आबशार" शीर्षक को पूर्णतः सार्थक करती हैं | कविताओं को पढ़ते हुआ प्रतीत होता मनो सहज, सरल व् सुन्दर शब्दों का झरना सा बह रहा हो | लेखिका ने इन कविताओं के माध्यम से मर्मस्पर्शी भावनाओं को बड़े सुन्दर तरीके से व्यक्त किया है|

कवितायेँ इतने सरल तरीके से लिखी गयी हैं की कोई भी भाव मन को बिना छुए नहीं गुज़रता | इस संग्रह ने  जीवन के हर पहलु को छुआ है | एक तरफ जहां मनुष्य के प्रिय संबंधों , माता-पिता, बहन, बेटी व् साथी का जीवन में महत्त्व दर्शाया है, वहीँ समाज में पनप रही कुरीतियों पर भी प्रकाश डाला है | "मत मार मुझे माँ " कविता कन्या भ्रूण हत्या जैसे विचारणीय विषय का बड़ा ही ह्रदय स्पर्शिक वर्णन करती है | "मज़हब " कविता द्वारा लेखिका ने हमारे समझ में पनप रही जातिवाद की ज्वलंत समस्या का बड़े ही सुन्दर  व् मार्मिक शब्दों में व्याख्यान किया है|

कुछ कवितायेँ एक स्त्री के अलग अलग पहलुओं को दर्शाती हैं | "मैं बेटी हूँ ", "विनती" कवितायेँ हमारे समाज में बेटी के अस्तित्व की सच्चाई बताती हैं | बड़ी हो जब वह अपना मयिका छोड़ एक नए घर जाती है, तब उसके मन की उलझनों को "बेटी" तथा अपने सपनो के पूरे ना हो पाने का खालीपन "मैं क्या क्या बनना चाहती थी " कविता में लेखिका ने बहुत सरल व् सुन्दर शब्दों में बयां किया  है| अपने जीवन साथी के साथ एक नयी दुनिया में कदम रखते हुए, उसका सुन्दर व् आदर्श जीवन जीने का सपना "आशियाँ" कविता में सजीव हो उठा है |

माँ, बेटी, पत्नी बनते हुए अक्सर एक स्त्री अपना असली अस्तित्व भूल जाती है अपनी कई कविताओं में लेखिका ने अपने अंदर की उस स्त्री की खोज को बहुत खूबसूरती से दर्शाया है | इस उभरती हुई कवित्री का यह प्रथम प्रयास अत्यंत प्रशंसनीय  है | एक युवा कवित्री की इतनी गहरी सोच सराहनीय  है और इन्होने इन कविताओं के माध्यम से सबके ह्रदय में छुपे हुए उदगारों को एक अभिव्यक्ति दी है |हर कोई न सिर्फ इन कविताओं से एक रिश्ता महसूस करेगा बल्कि इन्हे बार बार  पढ़ने की इच्छा रखेगा | सलोनी कपूर सरना से भविष्य में और भी कई ह्रदय को छू जाने वाली व् जीवंत विषयों पर प्रकाश डालने वाली कविताओं की आशा रखते हैं और "आबशार" की सफलता के लिए शुभकामनाएँ  देते हैं |

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:saloni kapoor sarnas aabshaar book review
सावधान: आपकी रसोई में मौजूद ये चीजें हैं बीमारियों का खजानाकीमोथेरेपी के दुष्प्रभाव को कम करेगा अदरक!