class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

खूंटी आजादी के बाद भी आदिवासी समाज है पिछड़ा : स्वामी अग्निवेश

खूंटी  आजादी के बाद भी आदिवासी समाज  है  पिछड़ा  : स्वामी अग्निवेश
कर्रा प्रखंड के मसमानो मैदान में बुधवार को विश्व आदिवासी दिवस मनाया गया। इस अवसर पर मुख्य अतिथि के रूप में बंधुआ मजदूर मुक्ति मोर्चा के संस्थापक स्वामी अग्निवेश शामिल हुए। उन्होंने कहा कि आदिवासियों का अस्तित्व जल, जंगल, जमीन और प्राकृतिक संरचना के साथ जुड़ी है। उन्होंने बिरसा मुंडा के साथ-साथ पूरी दुनिया में आदिवासियों के संघर्ष को बताया। उन्होंने कहा कि देश में आजादी के बाद भी आदिवासी समाज पिछड़ा हुआ है। झारखंड राज्य खनिज संपदा से परिपूर्ण होने के बाद भी यहां के आदिवासी गरीब तथा बेरोजगार हैं। झारखंड के लोगों को रोजगार के लिए दूसरे प्रदेशों में पलायन करना पड़ रहा है। भाजपा सरकार आदिवासियों का शोषक उन्होंने प्रदेश की भाजपा सरकार को आदिवासी विरोधी बताते हुए कहा कि रघुवर सरकार स्थानीय नीति लाकर यहां के आदिवासियों का शोषण कर रही है। देश में वंदे मातरम और भारत माता की जय बोलकर भारतीय होने का परिचय देने पर मजबूर किया जा रहा है। उन्होंने संविधान के पांचवी अनुसूची, पेशा कानून, बंधुआ मजदूर मुक्ति मोर्चा के कार्यों से अवगत कराया। स्वामी अग्निवेश ने लोगों को शराब छोड़ने की अपील की। इस अवसर पर हॉकी, फुटबॉल प्रतियोगिता व सांस्कृतिक कार्यक्रम भी आयोजित हुए। मौके पर हेरेंज पड़हा राजा संध्या हेरेंज, अध्यक्ष बिरसा होरो, जिला परिषद उपाध्यक्ष श्याम सुंदर कच्छप, प्रमुख रोयल बाखला, विजय आईंद, अलबर्ट होरो सहित अन्य उपस्थित थे। नगर भवन में विश्व आदिवासी मना सरना जागृति विकास समिति और सरना धर्म सोतो समिति के द्वारा बुधवार को नगर भवन में विश्व आदिवासी दिवस मनाया गया। इस अवसर पर धर्म अगुवा छुनकू मुंडा ने कहा कि आदिवासी समाज के लिए तीन संस्कार जरूरी है। जिनमें प्रथम जाति संस्कार, द्वितीय धार्मिक संस्कार और तृतीय समाजिक संस्कार शामिल हैं। जिसका पालन करने वाला ही आदिवासी है। कार्यक्रम में मुख्य रूप से जयमंगल सिंह मुंडा, अजय टोप्पो, भीमसेन कैथा, जोनसन होरो आदि उपस्थित थे।
  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Tribal society is backward even after independence: Swami Agnivesh
सरकार आदिवासियों को नहीं दे रही अधिकार: मिनाक्षीकंटेनर के इंजन में लगी आग, एक जेस्ट और दो हेक्सा कार खाक