class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

फायरिंग: चौंकाने वाला खुलासा, अमेरिका में हर रोज गोली के शिकार होते हैं 19 बच्चे

kids

अमेरिका में एक सरकारी अध्ययन में सामने आया है कि रोजाना गोलीबारी में कम से कम 19 बच्चों की मौत हो जाती है या वे घायल हो जाते हैं। सबसे ज्यादा खतरा लड़कों, किशोर और अश्वेत लोगों को है। यह अध्ययन देश में हिंसा की भयावह तस्वीर को पेश करता है। 

साल 2002 और 2014 के बीच के अमेरिकी डेटा का विश्लेषण इस विषय पर अब तक सबसे व्यापक अध्ययन माना जाता है। यह इस बात को रेखांकित करता है कि अध्ययनकर्ता क्यों यह मानते हैं कि बूंदक से की गई हिंसा लोगों की सेहत के लिए खतरा है।

रोग नियंत्रण एवं रोकथाम केंद्र की रिपोर्ट में बच्चों और 17 साल तक के किशोरों को शामिल किया गया है। इसका संकलन मृत्यु प्रमाण पत्रों और आपातकालीन कक्षों की रिपोर्ट के आधार पर किया गया है।

वाषर्कि तौर पर 1,300 मौतें हुई हैं और तकरीबन 6,000 लोग गोलीबारी में जख्मी हुए हैं जिनमें अधिकतर लोग जानबूझकर की गई गोलीबारी में घायल हुए हैं। अधिकतर मौतें हत्या और खुदकुशी का नतीजा थीं, जबकि हमलों में ज्यादातर चोटें घातक नहीं थीं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Shootings kill or injure 19 US children each day says study
खौफनाक: खूंखार जीव से न करें खेल, दिल मजबूत है तो ही देखें यह VIDEOमून का संकल्पः अब कोई परमाणु रिएक्टर नहीं बनाएगा दक्षिण कोरिया