class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

अड़ियल रुखः पाक के गृह मंत्री ने कहा- जाधव पर फैसला कानून के मुताबिक

jadhav

पाकिस्तान के गृह मंत्री चौधरी निसार अली खान ने शनिवार को कहा कि कुलभूषण जाधव के मामले को पाकिस्तान के कानून के मुताबिक तार्किक
परिणति तक पहुंचाया जाएगा। फ्रांटियर कॉर्प की पासिंग आउट परेड के मौके पर खान ने कहा कि कुछ तत्व पाकिस्तान में अराजकता और अशांति पैदा करने के लिए हमारे दुश्मनों से पैसे ले रहे हैं। 

मंत्री ने कहा कि जाधव एक भारतीय जासूस है जो पाकिस्तान के खिलाफ घणित अपराधों में शामिल था और देश के कानून के तहत उसे दोषी
ठहराया गया। उन्होंने कहा कि देश के कानून और संविधान के अनुसार जाधव के मामले को तार्किक निष्कर्ष तक पहुंचाया जाएगा। उनका यह
बयान उस वक्त आया है जब अंतरराष्ट्रीय न्यायालय ने जाधव की मौत की सजा पर रोक लगा दी है और राजनयिक मदद के लिए भारतीय आग्रह
का समर्थन किया है। खान ने दावा किया कि जाधव की गिरफ्तारी से और आतंकी गतिविधियां रूक गईं जिनकी योजना उसके नेटवर्क ने बनाई
थी।

पाक का दुष्प्रचार: सरताज अजीज बोले- ICJ में नहीं हारा Pak, जाधव को नहीं मिला काउंसलर एक्सेस
पाकिस्तानी प्रधानमंत्री के विदेश मामलों के सलाहकार सरताज अजीज ने शनिवार को कहा कि अंतरराष्ट्रीय न्यायालय ने भारतीय नागरिक कुलभूषण जाधव के लिए राजनयिक मदद के संदर्भ में कोई आदेश नहीं दिया है। अजीज ने संवाददाताओं से कहा, आईसीजे ने सिर्फ पाकिस्तान से यह कहा है कि उसके किसी फैसले तक पहुंचने तक जाधव की फांसी पर रोक लगाई जाए।

उन्होंने कहा कि जब मौत की सजा वाले मामले आते हैं तो अंतरराष्ट्रीय अदालत ने हमेशा स्थगन आदेश दिया है। अजीज ने कहा कि आईसीजे ने
राजनयिक मदद पर कोई फैसला नहीं किया और यह कहा है कि मामले पर चर्चा होगी।

उन्होंने दावा किया कि जाधव कोई आम भारतीय नागरिक नहीं है, बल्कि वह भारतीय नौसेना में अधिकारी रह चुका है जिसने पाकिस्तान में
जासूसी गतिविधियों की बात स्वीकारी है। शीर्ष राजनयिक ने कहा कि फर्जी पासपोर्ट पर पाकिस्तान में दाखिल होने और आतंकी गतिविधियों में
संलिप्तता की बात स्वीकार करने के बाद जाधव को पाकिस्तान के कानूनों के मुताबिक सजा सुनाई गई। 

पाकिस्तान की पैरवी करने वाली कानूनी टीम के बारे में पूछे गए सवालों पर अजीज ने कहा कि उनके पास उपस्थित होने की तैयारी करने के लिए
सिर्फ पांच दिन का समय था। खावर कुरैशी को भेजने का फैसला सर्वसम्मति का था। बहरहाल, उन्होंने कहा कि पाकिस्तान आगे कानूनी टीम को
मजबूत करेगा और वह पूरी तैयारी के साथ इस मामले में आगे बढ़ेगा। अजीज ने कहा कि अगली सुनवाई पर हम मजबूत टीम के साथ जाएंगे।
गौरतलब है कि हेग स्थित अंतरराष्ट्रीय अदालत ने कुलभूषण जाधव की फांसी पर मामले में अंतिम फैसला सुनाए जाने तक 18 मई  को रोक लगा
दी थी। जाधव को पाकिस्तान जासूस मानता है। संयुक्त राष्ट्र के सर्वोच्च न्यायिक निकाय ने पाकिस्तान से इस बात को सुनिश्चित करने के लिए वो
सारे कदम उठाने को कहा था कि जाधव को तब तक फांसी नहीं दी जाए जब तक कि वह इस मुद्दे पर अपना अंतिम फैसला नहीं सुना देता।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Jadhav case to be taken to logical conclusion as per law: Khan
IS की करतूत: इराक में आत्मघाती हमले, 35 लोगों की मौतपाक का दुष्प्रचार: सरताज अजीज बोले- ICJ में नहीं हारा Pak, जाधव को नहीं मिला काउंसलर एक्सेस