class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

ईरान में उदारवादी रूहानी दोबारा राष्ट्रपति चुने गए

Hassan Rouhani

ईरान में हसन रूहानी ने दोबारा राष्ट्रपति चुनाव जीत लिया है। 68 साल के रूहानी उदारवादी नेता हैं, जिन्होंने अमेरिका और पश्चिमी देशों के साथ परमाणु करार कर देश को प्रतिबंधों के भंवर से बाहर निकाला था। 

रूहानी ने 57 फीसदी वोट हासिल किए, इससे दूसरे दौर का चुनाव कराने की जरूरत नहीं पड़ी। चुनाव जीतने के लिए किसी भी उम्मीदवार को कुल मतदान का 50 फीसदी हासिल करना आवश्यक था। गृह मंत्री अब्दुलरेजा रहमानी फाजिल ने कहा कि रूहानी को करीब चार करोड़ वोटों में दो करोड़ 35 लाख से ज्यादा मत मिले। उनके प्रतिद्वंद्वी इब्राहिम रईसी को डेढ़ करोड़ वोट ही हासिल कर सके। उन्होंने मध्यम वर्ग को रोजगार के नाम पर लुभाने की कोशिश की, लेकिन कामयाब नहीं हुए। 

देश में शुक्रवार को हुए मतदान में 73 प्रतिशत वोट पड़े थे। थिंक टैंक इंटरनेशनल क्राइसिस ग्रुप के विश्लेषक अली वाएज ने कहा कि जनता आर्थिक सुधार कायम रखने की पक्षधर है। वर्ष 2011 से रूहानी के हाथों में देश की कमान है।

महंगाई और बेरोजगारी को कम करना चुनौती
रूहानी ने जीत के बाद कहा कि महंगाई और बेरोजगारी को और कम करना उनकी प्राथमिक चुनौती होगी। उप राष्ट्रपति इशाक जहांगीरी ने कहा कि हम जनता की उम्मीदों पर खरा उतरने की कोशिश करेंगे। रूहानी के कार्यकाल में मुद्रास्फीति 40 से घटकर 9 फीसदी पर आई गई है, लेकिन बेरोजगारी दर 12 फीसदी पर बनी हुई है। 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Hassan Rouhani, Iran, Iran Presidential Election, Liberal Leader, President Hassan Rouhani