बुधवार, 17 सितम्बर, 2014 | 23:04 | IST
  RSS |    Site Image Loading Image Loading
अर्जुन पुरस्कार के लिए अनदेखी किए जाने के बाद कानून की शरण लेने वाले मुक्केबाज मनोज कुमार को आखिरकार यह पुरस्कार दिया जायेगा चूंकि खेल मंत्रालय ने उनका नामांकन स्वीकार कर लिया है।  आगे पढे
 
इंचियोन एशियाई खेलों में ईरानी अधिकारी के बाद फिलिस्तीन के फुटबाल खिलाड़ी पर एक महिला कर्मचारी के साथ शारीरिक उत्पीड़न कामामला दर्ज कर देश छोड़ने पर भी प्रतिबंध लगा दिया गया है। आगे पढे
 
एशियाई खेलों में नये नियमों के लागू होने के बीच भारतीय उपकप्तान पी.आर. श्रीजेश ने कहा है कि प्रारूप में बदलाव उनके अनुकूल होगा क्योंकि उन्हें हॉकी इंडिया लीग में चार क्वार्टर में खेलने का अनुभव है।  आगे पढे
 
एशियाई खेलों की मशाल उद्घाटन समारोह से दो दिन पहले बुधवार को पहुंच गई जिसका 6000 किलोमीटर का आखिरी चरण का सफर शुक्रवार को खत्म होगा।  आगे पढे
 
 
भारतीय महिला निशानेबाजों ने स्पेन के ग्रेनाडा में चल रही 51वीं आईएसएसएफ विश्व निशानेबाजी प्रतियोगिता के आठवें दिन खासा निराश किया और क्वालीफिकेशन राउंड से आगे नहीं जा पायीं है।  आगे पढे
 
ज्ञान-विज्ञान से जुड़ी अनेक ऐसी वेबसाइटें हैं, जो तरह-तरह की पठनीय सामग्री को प्रेषित कर के अपनी ओर ध्यान खींचती हैं। आगे पढे
 
क्या आप एडवेंचर स्पोर्ट्स की चाहत में कुछ भी छोड़ सकते हैं? क्या आप प्रकृति के करीब रहना पसंद करते हैं? अगर इन सवालों का जवाब आपकी ओर से ‘हां’ है, तो आप एडवेंचर स्पोर्ट्स की दुनिया में अपने लिए बेहतर करियर तलाश सकते हैं।  आगे पढे
 
सन 1949 में नागपुर आने पर काफी अर्से तक मुक्तिबोध इलाहाबाद, बनारस और फिर जबलपुर के अपने अनुभवों के कारण बेहद आशंकाग्रस्त रहते थे। उन्हें हवा में तलवारें दिखाई देतीं।  आगे पढे
 
रिश्तों को नया आयाम गुजरात में एक औद्योगिक पार्क स्थापित करने के समझौते पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और चीन के राष्ट्रपति शी चिनफिंग की उपस्थिति में हस्ताक्षर हुए। गुजरात में एक औद्योगिक पार्क स्थापित करने के समझौते पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और चीन के राष्ट्रपति शी चिनफिंग की उपस्थिति में हस्ताक्षर हुए। अन्य फोटो
श्रीगणेश को दूर्वा (दूब) इतनी प्रिय क्यों है, इसके पीछे एक पौराणिक कथा है। पृथ्वी पर अनलासुर राक्षस के उत्पात से त्रस्त ऋषि-मुनियों ने इंद्र से रक्षा की प्रार्थना की।  आगे पढे
 
दालिया रवीन्द्रनाथ ठाकुर की स्मरणीय कहानी है। हृषीकेश सुलभ का यह नाटक उसी पर आधारित है। इतिहास में युद्ध और सत्ता संघर्ष जितना पुराना है, प्रेम, विश्वास और समर्पण भी उतना ही पुराना है।  आगे पढे
 
पत्नी: आज धोने के लिए कपड़े ज्यादा मत निकालना.. पति: क्यों? पत्नी: अपनी कामवाली बाई दो दिन नहीं आएगी..कह रही थी, त्योहार है, नाती से मिलने बेटी के यहां जा रही है.. आगे पढे
 
शंकर रोज ऑफिस से आने के बाद पत्नी से कहता था, वक्त बड़ी तेजी से बदल रहा है। पूरी दुनिया डिजिटल होती जा रही है। आने वाला दौर ई-कॉमर्स का है। आगे पढे
 
किसी भी कंपनी में मानव संसाधन विभाग द्वारा करियर मैनेजमेंट की दिशा में चलाए जाने वाले अभियान के कई पक्ष हो सकते हैं। आगे पढे
 
सफल प्रोफेशनल्स और एम्प्लॉयर्स के अनुसार फोकस जॉब पर नहीं, करियर पर करना चाहिए। इसके बावजूद सच यह है कि ‘करियर मैनेजमेंट’ अक्सर लोगों के लिए एक उलझाऊ वाक्य बन कर रह जाता है। आगे पढे
 
संत एकनाथ जी के पिता का श्राद्ध था। घर में श्रद्ध की रसोई बन रही थी। हलवा पकने लगा तो उसकी सुगंध दूर तक फैल गई। इसी समय कुछ गरीब परिवार उधर से जा रहे थे। आगे पढे
 
12 3 4 5 Image Loading

लाइवहिन्दुस्तान पर अन्य ख़बरें

आज का मौसम राशिफल
अपना शहर चुने  
धूपसूर्यादय
सूर्यास्त
नमी
 : 05:41 AM
 : 06:55 PM
 : 16 %
अधिकतम
तापमान
43°
.
|
न्यूनतम
तापमान
24°