शनिवार, 20 दिसम्बर, 2014 | 12:45 | IST
  RSS |    Site Image Loading Image Loading
ब्रेकिंग
जम्मू के सोपोर में सरपंच की हत्या, संदिग्धों ने गोली मारकर सरपंच गुलाम अहमद भट्ट की हत्या की।झारखंड: पोडैयाहाट के बूथ नंबर 133 पर फर्जी़ वोटिंग को लेकर दो लोग गिरफ़तारयूपी: मुजफ्फरनगर के बुढ़ाना क्षेत्र के गांव परासौली के धार्मिक स्थल में देर रात असामाजिक तत्व ने जानवरों के कटे हुए सिर रखे, नंदी की मूर्ति भी चुराई, तनाव, एडीएम प्रशासन सहित कई आलाधिकारी मौके पर पहुंचे, पीएसएसी व पुलिस बल तैनातजम्मू में सुबह 10 बजे तक 12.09 प्रतिशत मतदान।ब्रिस्बेन टेस्ट : 4 विकेट से हारा भारतझारखंड: सुबह 11 बजे तक जामताड़ा-34, नाला-35, बोरियो-33, राजमहल-33, बरहेट-40, पाकुड़-41, लिट्टीपाड़ा-40, महेशपुर-39, दुमका-31, जामा-33, जरमुंडी-37, शिकारीपाड़ा-35, सारठ-39, पोड़ैयाहाट-37, गोड्डा-28, महगामा-35 प्रतिशत मतदान हुआझारखंड: गोड्डा के बूथ-315,316 पर भजपा प्रत्याशी के बेटा पर मारपीट करने का आरोप, आधे घंटे बाधित हुआ मतदानझारखंड: लिट्टीपाड़ा बूथ नं 32 धूप निकलने के साथ निकले मतदाता, मतदान केंद्र से सड़क तक लगी लंबी लाइनझारखंड: चित्र आदर्श बूथ पर विधानसभा अध्यक्ष शशांक शेखर के परिजनों ने डाला वोटझारखंड : भाजपा प्रत्याशी लुइस मरांडी ने दुमका में बूथ-68 पर झारखंड मुक्ति मोर्चा के कार्यकर्ताओं पर पैसा बांटने का आरोप लगाया, प्रशासन से की शिकायत, एसडीओ ने थानेदार को तत्काल जांच करने भेजाजम्मू-कश्मीर: राज्य की 87 सदस्यीय विधानसभा में नेकां के 28, पीडीपी के 21, कांग्रेस के 17 और भाजपा के 11 विधायक हैं।जम्मू-कश्मीर: पिछले चुनाव में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने इन 20 में से 11, कांग्रेस ने पांच और नेशनल कांफ्रेंस (नेकां) ने तीन सीटों पर जीत हासिल की थी। पीपल्स डेमोक्रेटिक पार्टी (पीडीपी) एक सीट पर ही सिमट कर रह गई थी।झारखंड : बोरियो विस क्षेत्र के बूथ नंबर 67 पर चुनाव को लेकर बढ़ी चौकसीझारखंड: लिट्टीपाड़ा के फतेहपुर गांव की महिलाओं को उम्मीद कि नई सरकार पेयजल की समस्या हल करेगीदुमका विधानसभा क्षेत्र के माहरो बूथ पर लगी लंबी कतार, दुमका सीट से मुख्‍यमंत्री हेमंत सोरेन लड़ रहे हैंसाहिबगंज जिले के उधवा में मौसम भी मेहरबान रहा, सुबह धूप निकली, मतदाताओं में उत्‍साहजम्मू के डिवीजनल कमिश्नर अजित कुमार साहू का कहना है कि मतदाताओं में जबरदस्त उत्साह देखने को मिल रहा है। ठंड के बावजूद बड़ी संख्या में लोग वोट डालने आ रहे हैं। साहू ने कहा कि हमने सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए हैं और कहीं से भी हिंसा की कोई खबर नहीं है।राजौरी में मतदान करने के बाद एक वोटर ने कहा कि लोगों में मतदान को लेकर उत्साह है और सभी जगह शांतिपूर्ण तरीके से मतदान चल रहा है।शुक्रवार की रात नौशेरा में पीडीपी कार्यकर्ताओं के हमले में घायल भाजपा प्रत्याशी रविंद्र रैना को जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है।यूपी: अमरोहा के चौधरपुर गांव में युवक की गला घोंट कर हत्या, सुबह घर के बाहर मिला शव, पुलिस पूछताछ में जुटीदुमका के कुछ वोटरों से हिन्दुस्तान ने बातचीत कर जानना चाहा कि उनकी वोटिंग का आधार क्या है? 35 साल के सत्येंद्र सिंह का कहना है स्थायी सरकार मुद्दा है, तो 42 साल के जवाहर लाल का कहना है कि शिक्षा के क्षेत्र में विकास है मुद्दा।झारखंड: सुबह 9 बजे तक जामताड़ा-13, नाला-11, बोरियो-20, राजमहल-18, बरहेट-11, पाकुड़-16, लिट्टीपाड़ा-16, महेशपुर-18,दुमका-11, जामा-14, जरमुंडी-12, शिकारीपाड़ा-14, सारठ-14, पोड़ैयाहाट-11, गोड्डा-12, महगामा-10 प्रतिशत मतदान हुआझारखंड: पाकुड़ जिले के लिट्टीपाड़ा विस क्षेत्र में बूथ-134 में बुनियादी सुविधाओं की मांग को लेकर हुआ बहिष्कार, 9 बजे फिर शुरू हुआ मतदानझारखंड : बोरियो के बूथ नं 208 में एक घंटे में 124 वोट पड़े
Total 543 search results found !
खेलकूद के अभाव में पिछड़ते बच्चे
बच्चों से जुड़े होमवर्क का सामाजिक मनोविज्ञान अब बदल रहा है। अध्ययन बताते हैं कि अगर बच्चों को कुछ पल खेलने के लिए नहीं मिलते हैं, तो उनके काम की गति मंद पड़ जाती है। आगे पढे
 
22 प्रतिशत कम बीमार होते हैं शाकाहारी
मांसाहारी की तुलना शाकाहारी लोग कम बीमार पड़ते हैं। ये लोग 22 प्रतिशत कम अस्पताल जाते हैं। आगे पढे
 
बीमारी से रखे दूर लहसुन
लहसुन हमारे मसाले का एक प्रमुख हिस्सा है, क्योंकि यह हमारी सेहत के लिए बेहद जरूरी है। हमारे भोजन का स्वाद बढ़ाने वाले लहसुन के अनेक औषधीय गुण भी हैं, जो हमें अनेक बीमारियों से राहत दिलाते हैं। आगे पढे
 
हर उम्र के लोगों में तेजी से बढ़ रही है डायबिटीज
डायबिटीज की बीमारी ने लोगों को झकझोर कर रख दिया है। एक दौर था जब वृद्धावस्था में लोग इसके बारे में सोचते थे, मगर आज डायबिटीज हर उम्र के लोगों को गिरफ्त में ले रही है। आगे पढे
 
शराब पीने से मोटापे और डायबिटीज का खतरा
जाम छलकाते वक्त उसमें मौजूद कैलोरी को नजरअंदाज करना शरीर के लिए घातक हो सकता है। आप लिवर और किडनी संबंधी बीमारियों के साथ-साथ मोटापे, टाइप-2 डायबिटीज और हृदयरोगों के भी शिकार हो सकते हैं। आगे पढे
 
बच्चों को भी अपनी गिरफ्त में ले रहा मोटापा
मोटापे की बीमारी बड़ों के साथ बच्चों को भी तेजी से अपनी चपेट में ले रही है। आलम यह है कि देश में दस में से हर तीसरा बच्चा मोटापे से जूझ रहा है। शहरी क्षेत्र के बच्चों के साथ यह समस्या ज्यादा ही है। आगे पढे
 
मौसम के लिहाज से बदलें खान-पान
बदलते मौसम में सेहत की देखभाल सबसे ज्यादा जरूरी हो जाती है, क्योंकि मौसम के साथ हमारे शरीर में भी कई बदलाव होते हैं। लंबे दिन छोटे होने लगते हैं, छोटी-छोटी रातें लंबी हो जाती हैं। आगे पढे
 
ब्रेन स्ट्रोक लगा न दे जिंदगी पर ब्रेक
ब्रेन स्ट्रोक मौत और विकलांगता का तीसरा सबसे बड़ा कारण है। सर्दियों के मौसम में इसकी आशंका 53 प्रतिशत तक बढ़ जाती है। वर्ल्ड स्ट्रोक डे (29 अक्तूबर) के मौके पर इससे बचाव के उपाय बता रही हैं शमीम खान आगे पढे
 
मीठी दिवाली की कड़वी सच्चाई
अगर दिवाली की रात हाथ आने वाली मिठाइयों की मिठास की कल्पना कर आपके मुंह में पानी आने लगा है तो थोड़ा सब्र कीजिए और अपने स्वास्थ्य के बारे में भी सोचिए। आगे पढे
 
अखबारों की सेहत और सेल का सैलाब
पिछले कुछ दिनों से राजधानी के अखबारों (विशेषकर अंग्रेजी) का जो वजन दिख रहा है, उसे उठाने में लखनवी नजाकत वाली बालाओं की कलाइयां लचक जाएं। आगे पढे
 
मेटा हेल्थ स्वस्थ तन-मन का नया तरीका
आमतौर पर बीमारी को उसके लक्षणों और अंग विशेष के सीमित दायरे में रखकर समझा जाता है। पर धीरे-धीरे इस नजरिए में बदलाव आया है। आगे पढे
 
बच्चों के खान-पान का रखें ख्याल
आजकल बच्चों में खान-पान की रुचि बदलती जा रही है। उन्हें घर के बने खाने की बजाय बाजार में उपलब्ध जंक फूड आदि ज्यादा पसंद आ रहे हैं, जिससे उनमें मोटापा जैसी बीमारियां पैदा हो रही हैं। आगे पढे
 
53 बीमारियों की वजह बन सकता है मोटापा
दुनियाभर में लगभग 2 अरब 10 करोड़ लोग मोटापे के शिकार हैं, जो चिंता का विषय है। मोटापे के प्रकोप और खतरे को देखते हुए 15 से 19 अक्तूबर तक विश्व मोटापा जागरूकता सप्ताह मनाया जाता है। आगे पढे
 
हृतिक की जिंदगी में इंटरवल
सन् 2001 की बात है। फरवरी की धूप में दिल्ली का मौसम गुनगुना-गुलाबी सा हो चला था। माह के मध्य में दैनिक हिन्दुस्तान के पेज 1 पर एक एंकर स्टोरी छपी थी। शीर्षक था-‘कहो ना आग है...’ लेख की शुरुआत कुछ इस तरह थी। आगे पढे
 
बीमारियां जो अकेले नहीं आतीं
माइग्रेन केंद्रीय तंत्रिका तंत्र की गड़बड़ी के कारण होता है, जिससे न्यूरोट्रांसमीटरों का संचरण प्रभावित होता है। आगे पढे
 
महिलाओं का सप्ताह में पांच घंटे रहता है मूड खराब
पति के घरेलू कामों में हाथ न बंटाने, वजन बढ़ने, मनपसंद ड्रेस चुस्त होने और ऑफिस में काम का बोझ बढ़ने पर पत्नी का मूड बिगड़ना आम बात है। आगे पढे
 
नींद आए तो चैन आ जाए
मां की लोरी सुनकर सो जाने वाली आंखें अब रात-रात भर जागती हैं। नींद मुश्किल से आती है और जरा-सी बात पर रूठकर चली जाती है। आगे पढे
 
स्वीटनर से बढ़ जाता है मधुमेह का खतरा
मधुमेह के रोगी एवं मोटापा से जूझ रहे अथवा इससे कोसों दूर रहने के इरादे से अपने खान पान में स्वीटनर का उपयोग करने वाले लोगों को मायूस करने वाली खबर है कि यह चीनी से कहीं अधिक खतरनाक है। आगे पढे
 
सेहत नहीं करेगा परेशान!
ऑफिस में अपना 100 प्रतिशत देना है और साथ ही घर-परिवार से जुड़ी अपनी जिम्मेदारी से भी पीछे नहीं हटना है। ऐसे में सबसे जरूरी है 24 घंटे ऊर्जा की सप्लाई। आगे पढे
 
थायरॉइड: समय रहते उपचार जरूरी
थायरॉइड मानव शरीर का एक प्रमुख एंडोक्राइन ग्लैंड यानी अंत:स्रावी ग्रंथि है। यह गर्दन के निचले हिस्से में होती है। छोटी-सी यह ग्रंथि शरीर में हार्मोन का निर्माण करती है और मेटाबॉलिज्म को नियंत्रित रखती है। आगे पढे
 
<< 1 2 3 4 5 6 7 8 9 10 28 >> 
क्रिकेट स्कोरबोर्ड
आज का मौसम राशिफल
अपना शहर चुने  
धूप
सूर्यादय
सूर्यास्त
नमी
 : 07:08 AM
 : 05:28 PM
 : 94 %
अधिकतम
तापमान
21°
.
|
न्यूनतम
तापमान