शुक्रवार, 03 जुलाई, 2015 | 02:59 | IST
  RSS |    Site Image Loading Image Loading
Image Loading    रैना बोले कभी गलत कामों में शामिल नहीं रहा, ललित मोदी के खिलाफ करेंगे कानून कार्रवाई सात दिन बाद केदारनाथ यात्रा शुरू, बदरीनाथ अभी भी ठप एल्गिन चरसडी बंधे में दरार, 72 गांवों पर भयावह बाढ़ का खतरा किरण को पीएम ने किया सम्मानित, 5000 लोगों का बनाया डिजिटल लॉकर VIDEO: देखें रांची में अनूप चावला को कैसे मारी गई गोली  कमल किशोर भगत को हाईकोर्ट से मिली जमानत ब्रजघाट: गंगा में फंसे दिल्‍ली के परिवार को बचाया गया रिजिजू मामले को लेकर हरकत में आई सरकार, उड़ानों में देरी पर नागरिक उड्डयन मंत्रालय से मांगी रिपोर्ट 2 लाख करोड़ की अपनी जायदाद दान करने वाला है ये शख्स गांवों में हाईस्पीड ब्राडबैंड पहुंचाने की योजना को हाथोंहाथ ले रहे हैं राज्य
Total 580 search results found !
सावधान: खाने के बारे में सोचने से भी बढ़ता है मोटापा
किसी भी खाने की चीज को देखकर अगर आपके मुंह में पानी आ रहा है तो इससे सतर्क रहने की जरूरत है। आगे पढे
 
प्रकृति से जुड़िए निरोगी रहिए
प्रकृति से दूर होने का ही नतीजा है कि हम असमय रोगों की ओर कदम बढ़ा रहे हैं। प्राकृतिक चिकित्सा पद्धति सुरक्षित है, पर जागरुकता व संसाधनों का अभाव झेल रही है। आगे पढे
 
बिना खर्च पाएं सेहत और चुस्ती
विशेषज्ञों की मानें तो ताजी हवा व हरियाली के बीच किए जाने वाले पारंपरिक व्यायामों की कोई तुलना नहीं। बंद कमरे में घंटों पसीना बहाने की तुलना में खुले में दौड़ना या साइकिल चलाना ज्यादा फायदेमंद है। आगे पढे
 
अगर होना है स्लिम फिट तो खाएं काली मिर्च
बढ़ते वजन से आज के समय में हर तीसरा व्यक्ति परेशान है। महंगी दवाई, व्यायाम, डाइट का कड़ा पालन करने के बाद भी परिणाम शून्य रहता है। आगे पढे
 
60 फीसदी युवाओं में जंक फूड की लत
जंक फूड हमेशा से सेहत के लिए हानिकारक रहा है। इसके इस्तेमाल से युवा ऐसी बीमारियों का शिकार हो रहे हैं जो आमतौर पर बुढ़ापे में ही होती हैं। आगे पढे
 
मोटापा बना रहा कैंसर का मरीज
आने वाले एक दशक के अंदर मोटापा कैंसर का सबसे बड़ा कारण बन सकता है। विशेषज्ञों के मुताबिक फिलहाल धूम्रपान कैंसर का सबसे बड़ा कारण है जिसे मोटापा जल्द ही पीछे छोड़ देगा। आगे पढे
 
खुद के लिए खुद से कुछ वादे
आप जानती हैं, सेहत से बड़ी नेमत कुछ और नहीं है। तभी तो बच्चों के साथ-साथ अपने परिवार के अन्य सभी सदस्यों की सेहत का इतना ध्यान रखती हैं। पर अगर आप ही सेहतमंद नहीं रहेंगी तो इनका ध्यान भला कौन रखेगा? आगे पढे
 
मोटापे की छूत
मोटापा अपने आप में कोई बीमारी नहीं है, लेकिन कई बीमारियों की वजह जरूर है। मोटापा कम करना भी इस वक्त अरबों-खरबों का कारोबार है, जिससे लोगों का मोटापा कम होता हो या न होता हो, इस कारोबार में लगे लोगों का बैंक बैलेंस जरूर मोटा होता जा रहा है। आगे पढे
 
न ज्यादा न कम, रखें पानी का संतुलन
गर्मियों में प्यास बुझने का नाम नहीं लेती तो जरूरत से ज्यादा या बहुत ठंडा पानी पीना भी नुकसान पहुंचाता है। इससे पेट दर्द, पेट अफर जाना जैसी समस्याओं का सामना करना पड़ता है। दूसरी तरफ कम पानी पीने पर डीहाइड्रेशन का खतरा हो जाता है। आगे पढे
 
मोटापा घटाने को इन 15 फलों को आजमाएं
फलाहार से मोटापे पर रोक संभव है। हालिया अध्ययन में शोधकर्ताओं ने 15 फलों के बारे में बताया है, जो वजन कम करते हैं। ब्रिटेन की वेबसाइट फिटेनसरिपब्लिक ने एक इंफोग्रॉफिक्स बनाया है। आगे पढे
 
हथेलियां लाल होने का मतलब लीवर खराब
कहते हैं कि हथेली देखकर भविष्य जाना जा सकता है। पर हालिया शोध में पाया गया है कि हथेली से किसी की सेहत का हाल भी जाना जा सकता है क्योंकि कई तरह की बीमारियों का असर हथेली पर भी पड़ता है। आगे पढे
 
यूरोप के इन देशों में हर वयस्क होगा मोटापे की जद में
यूरोप अत्याधिक वजन और मोटापे की गंभीर समस्या से जूझ रहा है। एक अनुमान है कि वर्ष 2030 तक यूरोप के 15 मोटापाग्रस्त देशों में से कुछ में लगभग हर वयस्क मोटापे और अधिक वजन की जद में आ जाएगा। आगे पढे
 
सकारात्मक विचार रखते हैं जीवंत
शोध कहते हैं कि मन में आने वाले विचारों में नकारात्मक विचारों की संख्या अधिक होती है। यानी यह कहना गलत नहीं होगा कि हमारे अधिकतर कार्य नकारात्मक ऊर्जा से प्रेरित होते हैं, जो हमें खुशी व अच्छी सेहत से दूर करते हैं। खुशियां चाहिए तो विचारों को बदलना सीखें। आगे पढे
 
वजन घटाना है तो बुरी आदतों से करें तौबा
अक्सर लोग वजन घटाने के लिए डायटिंग का सहारा लेते हैं। पर इनमें से ज्यादातर लोगों पर डायटिंग नाकाम रहती है। फोर्ब्स में प्रकाशित रिपोर्ट में विशेषज्ञों ने इसका कारण बुरी आदतों को बताया है। आगे पढे
 
थाइरॉएड तो नहीं है ये!
थाइरॉएड शरीर का एक प्रमुख एंडोक्राइन ग्लैंड है। तितली के आकार का यह ग्लैंड गले में स्थित होता है। इसमें से थाइरॉएड हार्मोन का स्रव होता है, जो हमारे मेटाबॉलिज्म की दर को संतुलित करता है। आगे पढे
 
विटामिन डी, न करें अनदेखी
आज की जीवनशैली में विटामिन डी की कमी आम बात हो गई है, लेकिन यह ऐसी समस्या नहीं है, जिसे हल्के में लिया जाए। विटामिन डी की कमी से शरीर की कई चीजें बुरी तरह प्रभावित होती हैं और सेहत पर उसका नुकसान दिखने लगता है। आगे पढे
 
खाना ही नहीं लतों को भी सुधारें
खुद को फिट और सेहतमंद रखने के लिए हम स्वस्थ जीवनशैली अपनाने की पुरजोर कोशिश करते हैं। सबसे अच्छा खाना बनाते हैं और उसमें तमाम पोषक तत्वों को समेटने की कोशिश करते हैं। आगे पढे
 
आपका ब्लडप्रेशर घटाएगी ‘दिलवाले दुल्हनिया ले जाएंगे...’
कहते हैं कि फिल्मों का मन पर गहरा असर होता है। पर वैज्ञानिकों की मानें तो फिल्में शारीरिक और मानसिक सेहत पर भी अपनी छाप छोड़ जाती हैं। आगे पढे
 
ज्यादा खुश हैं फेसबुक युग के बच्चे
यदि आपका बच्चा फेसबुक को ज्यादा समय देता है तो आप उस पर गर्व कर सकते हैं। हाल ही में जारी एक अंतरराष्ट्रीय रिपोर्ट में ऐसा दावा किया गया है। रिपोर्ट के अनुसार पिछले एक दशक के मुकाबले आज की फेसबुक पीढ़ी ज्यादा खुशहाल और सेहतमंद है। आगे पढे
 
मोटापे की बदबू
क्या मोटापे की कोई गंध होती है? यह सवाल ही अजीब लग सकता है। तार्किक रूप से सोचने पर हम इस निष्कर्ष पर पहुंचेंगे कि मोटापे की कोई गंध नहीं हो सकती, जैसे दुबलेपन की या लंबे और छोटे होने की कोई गंध नहीं हो सकती। आगे पढे
 
<< 1 2 3 4 5 6 7 8 9 10 29 >> 
क्रिकेट स्कोरबोर्ड
लाइवहिन्दुस्तान पर अन्य ख़बरें
आज का मौसम
अपना शहर चुने  
शुक्रवार, 03 जुलाई, 2015
41°
अधिकतम 
 |  33°
न्यूनतम