class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

हिमाचल प्रदेश में रिकॉर्ड तोड़ वोटिंग: 74 प्रतिशत से अधिक मतदान, 18 दिसंबर को आएंगे नतीजे

himachal pradesh election 2017

1 / 7himachal pradesh election 2017

himachal pradesh election 2017

2 / 7himachal pradesh election 2017

veerbhadra singh and prem kumar dhumal

3 / 7veerbhadra singh and prem kumar dhumal

Prem kumar dhumal

4 / 7Prem kumar dhumal

himachal pradesh election 2017

5 / 7himachal pradesh election 2017

himachal pradesh election 2017

6 / 7himachal pradesh election 2017

himachahimachal pradesh election 2017l pradesh election 2017

7 / 7himachal pradesh election 2017

PreviousNext

हिमाचल प्रदेश की 68 विधानसभा सीटों पर गुरुवार को हुए मतदान में 74.45 फीसदी लोगों ने वोट डाले। चुनाव आयोग का कहना है कि ये आंकड़े शाम पांच बजे तक के हैं और अभी मतदान फीसद में बढ़ोतरी होगी। चुनाव आयोग का कहना है कि इस बार हुआ मतदान पिछले विधानसभा चुनाव और लोकसभा चुनाव में हुए मतदान से अधिक है।

उप चुनाव आयुक्त संदीप सक्सेना ने बताया कि हिमाचल प्रदेश की 68 सीटों पर सुबह आठ बजे से शाम पांच बजे तक हुआ मतदान पूरी तरह शांतिपूर्ण रहा। इसके बाद भी लगभग 500 मतदान केंद्रों पर मतदाताओं की कतारें लगी हुई थीं, इसलिए मतदान का प्रतिशत बढ़ना तय है। साल 2012 में हुए विधानसभा चुनाव में प्रदेश में 73.51 प्रतिशत मतदान हुआ था जबकि साल 2014 के लोकसभा चुनाव में 64.45 फीसदी वोट डाले गए थे। इस बार विधानसभा चुनाव में रिकॉर्ड वोटिंग के सवाल पर सक्सेना ने कहा कि इस बारे में आधिकारिक तौर पर मतदान संबंधी आंकड़ों का अंतिम विश्लेषण किए जाने के बाद ही कुछ कहा जा सकता है। मतदान के साथ ही 337 प्रत्याशियों का भविष्य इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीन (ईवीएम) में कैद हो गया है। 18 दिसंबर को हिमाचल के भविष्य का फैसला होगा। 

हिक्किम में 84 फीसदी मतदान
प्रदेश के लाहौल व स्फीति जिला स्थित विश्व के सबसे ऊंचे पोलिंग बूथ हिक्किम में 84 फीसदी वोट डाले गए। प्रदेश के चंबा जिले में सबसे ज्यादा 74 फीसद मतदान हुआ है। देश के प्रथम मतदाता किन्नौर जिला के कल्पा गांव निवासी श्याम सरन नेगी ने रेड कारपेट पर चलकर मतदान किया। इससे पूर्व उनका भव्य स्वागत किया गया। 

दिग्गजों ने डाले वोट
हमीरपुर में भाजपा के मुख्यमंत्री पद के उम्मीदवार प्रेम कुमार धूमल, उनके बेटे और हमीरपुर के भाजपा सांसद अनुराग ठाकुर ने वोट डाले। कांग्रेस के सीएम प्रत्याशी वीरभद्र सिंह और उनके पुत्र विक्रमादित्य ने शिमला में मतदान किया। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री जेपी नड्डा ने बिलासपुर में परिवार सहित मतदान किया।  

पहली बार वीवीपैट का इस्तेमाल
सुचारू मतदान के लिए प्रदेश भर में 7525 मतदान केंद्र बनाए गए थे। प्रदेश में पहली बार सभी सीटों पर वोटर वेरीफाइड पेपर ऑडिट ट्रोल (वीवीपैट) मशीनों का उपयोग हुआ। बावजूद इसके प्रदेश में कई जगहों पर ईवीएम खराबी की शिकायतें मिलीं। आयोग की जानकारी के अनुसार, मंडी, कसुम्पटी निर्वाचन क्षेत्र के अलावा चंबा, किन्नौर, सोलन, दून, कसौली आदि जगहों पर ईवीएम में खराबी आई।

लाइव अपडेट्स

06:50 PM: हिमाचल प्रदेश विधानसभा चुनावों में यह सबसे ज्यादा मतदान प्रतिशत है : निवार्चन आयोग

06:40 PM: 5 बजे तक 74 प्रतिशत मतदान दर्ज, आंकड़ा इससे ऊपर जा सकता है: चुनाव आयोग

04:00 PM:  हिमाचल में शाम 4 बजे तक 64% तक वोटिंग दर्ज की गई। 

2:00 PM: हिमाचल प्रदेश में दोपहर दो बजे तक 54.9% वोटिंग।

12.30PM: 12 बजे तक 28.6 फीसदी वोटिंग।

11.00AM; केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री जेपी नड्डा ने बिलासपुर में परिवार सहित मतदान किया। उनके मुताबिक, मतदान को लेकर भाजपा में भारी जोश है। जनता इस बार कांग्रेस को उखाड़ फेंकेगी, जनता को कुशासन से मुक्ति मिलेगी।

10.30AM: 8 बजे सुबह से वोटिंग जारी, पहले दो घंटे यानी 10 बजे तक 13.72 फीसदी मतदान हुआ।

 

10.10AM; कांग्रेस के मुख्यमंत्री पद के उम्मीदवार वीरभद्र सिंह और उनके बेटे विक्रमादित्य ने शिमला में पोलिंग बूथ पर वोट दिया। वीरभद्र सिंह बोले कांग्रेस पार्टी पूर्ण बहुमत में आएगी 

 

 

10.00AM:भाजपा के मुख्यमंत्री पद के उम्मीदवार प्रेम कुमार धूमल और हमीरपुर से भाजपा सांसद अनुराग ठाकुर ने वोट दिया

 

09.40AM: हिमाचल प्रदेश की 68 सीटों पर वोटिंग जारी, परिजनों संग घरों से बाहर निकल रहे हैं लोग

 

9.35AM: कांग्रेस के सीएम उम्मीदवार वीरभद्र सिंह ने किया बहुमत मिलने का दावा, बोले- फिर बनेगी कांग्रेस की सरकार

 

9.15AM: हमीरपुर से भाजपा सांसद अनुराग ठाकुर ने कहा कि, अब समय आ गया है। लोगों ने हिमाचल को लूटन वाली कांग्रेस पार्टी से छुटकारा पाने का मन बना लिया है। उन्होंने कहा कि 50 हजार करोड़ के कर्ज में डूबे प्रदेश को इससे निकालने के लिए प्रेम कुमार धूमल की तरह वरिष्ठ नेता की जरूरत है।  

 

 

9.00AM:भाजपा के सीएम उम्मीदवार प्रेम कुमार धूमल बोले, हमने 50 से ज्यादा सीटें जीतने का लक्ष्य रखा था। लेकिन समाज के हर वर्ग के लोगों का समर्थन देख कर ऐसा लग रहा है कि हम 60 से भी ज्यादा सीटें जीत लेंगे। 

 

8.30AM: रेकौंग पियो में ईवीएम में तकनीकी खराबी की वजह से अभी भी शुरू नहीं हो हुआ मतदान, बूथ पर मौजूद हैं सिर्फ महिला मतदान कर्मी ।

8.25 AM: किन्नौर के बूथ नंबर 55 पर कतार में लग अपनी बारी का इंतजार करते मतदाता 

हिमाचल चुनावः आज 32वीं बार मतदान करेंगे देश के पहले मतदाता श्याम नेगी, रेड कार्पेट पर होगा स्वागत

8.15AM: 68 सीटों पर वोटिंग शुरू, शिमला के रामपुर में वोटरों ने किया अपने मताधिकार का प्रयोग

8.10AM: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने हिमाचल प्रदेश के सभी मतदाताओं से मतदान में बढ़ चढ़कर शामिल होने के लिए कहा है। मोदी ने ट्वीट कर कहा 'आज देवभूमि हिमाचल प्रदेश में मतदान का दिन है। मेरी विनती है कि सभी मतदाता लोकतंत्र के महापर्व में भाग लें और भारी संख्या में मतदान करें'

 

8.05AM: समीरपुर के बूथ नंबर 7 पर वृद्ध महिला बर्फी देवी ने डाला अपना वोट। 

 

7525 बूथ, 50 लाख वोटर

चुनाव के लिए 7525 मतदान केंद्र बनाये गये हैं, जहां 50 लाख से अधिक मतदाता अपने मताधिकार का प्रयोग कर सकेंगे। स्वतंत्र एवं निष्पक्ष चुनाव संपन्न कराने के लिए 983 मतदान केंद्रो को अतिसंवेदनशील और 399 मतदान केंद्रों को संवेदनशील घोषित किया गया है। 
     
कांगड़ा जिले में सबसे अधिक 297 और किन्नौर जिले में सबसे कम दो मतदान केंद्र अतिसंवदेनशील हैं। चंबा जिले में 601, कांगड़ा जिले में 1559, लाहौल स्पीति जिले में 93, कुल्लू जिले में 520, मंडी जिले में 1092, हमीरपुर जिले में 525, उना जिले में 509, बिलासपुर जिले में 394, सोलन जिले में 538, सिरमोर जिले में 540, शिमला जिले में 1029 और किन्नौर जिले में 125 मतदान केंद्र बनाये गये हैं।
 
एक प्रत्याशी के निधन के बाद अब चुनाव में 337 उम्मीदवार मैदान में हैं जिनमें 19 महिलाएं शामिल हैं। राज्य में मतदाताओं की कुल संख्या पचास लाख पच्चीस हजार 941 हैं, जिनमें 25 लाख 68 हजार 761 पुरुष मतदाता और 24 लाख 57 हजार 166 महिला मतदाता एवं 14 किन्नर मतदाता हैं।   

भाजपा-कांग्रेस के 68 सीटों पर उम्मीदवार

भाजपा और कांग्रेस ने सभी 68 सीटों पर अपने-अपने उम्मीदवार उतारे हैं। बहुजन समाज पार्टी ने 42, मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पाटीर् ने 14, भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी ने तीन और राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी और समाजवादी पार्टी ने दो- दो सीटों पर प्रत्याशी खड़े किये हैं। इसके अलावा 112 निर्दलीय उम्मीदवार भी अपनी किस्मत आजमा रहे हैं। कुछ अन्य पंजीकृत दलों ने 27 उम्मीदवार उतारे हैं। इस चुनाव में इलेक्ट्रानिक वोटिंग मशीनों के साथ 11 हजार 50 वीवीपैट का भी इस्तेमाल होगा।   

धर्मशाला में सबसे ज्यादा उम्मीदवार

राज्य में सर्वाधिक 12 उम्मीदवार धर्मशाला सीट से अपनी चुनावी किस्मत आजमा रहे हैं जबकि सबसे कम दो उम्मीदवार झंटुता (सुरक्षित) सीट से हैं। मंडी सीट से सर्वाधिक दो महिला उम्मीदवार चुनाव मैदान में हैं। क्षेत्रफल की दृष्टि से सबसे बड़ा निर्वाचन क्षेत्र लाहुल स्पीति है लेकिन वहां सबसे कम मतदाता हैं जबकि मतदाताओं की दृष्टि से सबसे बड़ा निवार्चन क्षेत्र सुल्ला है। केवल झंडुता सुरक्षित सीट पर ही सीधी टक्कर है बाकी सीटों पर त्रिकोणीय और चतुष्कोणीय मुकाबला है।
  
कांग्रेस मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह के नेतृत्व में चुनाव लड़ रही है। दूसरी तरफ भाजपा ने घोषणा की है कि पार्टी को बहुमत प्राप्त होने पर पूर्व मुख्यमंत्री प्रेम कुमार धूमल राज्य के अगले मुख्यमंत्री होंगे।

शांति के लिए 80 फीसदी केंद्रीय अर्ध सैनिक बलों की तैनाती

आपात स्थिति में इसकी मदद से कर्मचारियों के अलावा सुरक्षा और स्वास्थ्य टीमों को मौके पर रवाना किया जाएगा। चुनाव के दौरान शांति व्यवस्था बनाए रखने के लिए 80 फीसदी केंद्रीय अर्ध सैनिक बलों की तैनाती की गई है।

होमगार्ड व हिमाचल पुलिस के जवानों को भी लगाया गया है। चुनाव प्रबंधन के लिए पहले ही करीब 37 हजार कर्मचारियों को मतदान केंद्रों पर भेजा जा चुका है। इसके अलावा दूसरे राज्यों की सीमा से लगते क्षेत्रों में शत प्रतिशत अर्ध सैनिक बलों की तैनाती की गई है। संवेदनशील व अति संवेदनशील मतदान केंद्रों पर अर्धसैनिक बलों की तैनाती की गई है। साथ ही सेक्टर मजिस्ट्रेट व ऑब्जर्वर चुनाव गतिविधियों पर नजर बनाए हुए हैं।

 मतदान  के लिए इन बातों का रखें ध्यान 
अगर आप वोट देने वाले हैं तो इन बातों का जरूर ख्याल रखें। मतदान केंद्र पर वोट देने के लिए आप 12 तरह के दस्तावेजों से वोट दे सकते हैं। इसमें पासपोर्ट, ड्राइविंग लाइसेंस, सरकारी अर्द्ध सरकारी, सार्वजनिक उपक्रम, पब्लिक लिमिटेड कंपनियों द्वारा कर्मचारियों को जारी किए जाने वाले सेवा पहचान पत्र, बैंकों, डाकघरों से जारी की गई पासबुक, पैन कार्ड, आरजीआई और एनपीआर द्वारा जारी स्मार्ट कार्ड, मनरेगा जॉब कार्ड, स्वास्थ्य बीमा स्मार्ट कार्ड, पेंशन दस्तावेज, निर्वाचन तंत्र की ओर से जारी प्रमाणित फोटो मतदाता पर्ची, सांसदों और विधायकों को जारी किए गए सरकारी पहचान पत्र और आधार कार्ड शामिल हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:live updates of himachal pradesh assembly election 2017 voting fight between bjp and congress
हिमाचल चुनावः 32वीं बार देश के पहले मतदाता श्याम नेगी ने मतदान किया, VIDEOहिमाचल विधान सभा के लिए मतदान कल, 337 प्रत्याशी मैदान में