class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

माइग्रेन से पीड़ित महिलाओं के लिए सुरक्षित है हार्मोन थेरेपी

migrane

हार्मोन थेरेपी रजोनिवृत्ति के लक्षणों का इलाज कराने वाली माइग्रेन से पीड़ित महिलाओं के लिए सुरक्षित है। माइग्रेन अलग-अलग तीव्रता का सिरदर्द होता है, जिससे पीड़ित व्यक्ति को अक्सर उल्टी, प्रकाश और ध्वनि के प्रति संवेदनशीलता की शिकायत रहती है।

एक्सोजीनस एस्ट्रोजन का एक साथ उपयोग और माइग्रेन पीड़ित महिलाओं में स्ट्रोक होने का खतरा बढ़ने के कारण माइग्रेन से ग्रस्त मरीजों को हार्मोन थेरेपी के सेवन की सलाह नहीं दी जाती है। 

अमेरिका में थॉमस जेफरसन यूनिवर्सिटी से पीटर एफ. शैंटैज के अनुसार यह अध्ययन हार्मोन थेरेपी के सुरक्षित उपयोग के बारे में जानकारी को स्पष्ट करता है, खासकर 60 साल की कम उम्र की महिलाओं में जो रजोनोनिवृत्ति के आसपास की उम्र की हैं।” 

न्यूयार्क के एल्बर्ट आइंस्टीन कॉलेज ऑफ मेडिसिन से जेलेना पावलोविक ने कहा कि चूंकि माइग्रेन प्रत्येक चार महिलाओं में से एक महिला को प्रभावित करता है और इन्हें अक्सर हार्मोन थेरेपी से बचने की सलाह दी जाती है, इसलिए यह नए निष्कर्ष सार्वजनिक स्वास्थ्य पर महत्वपूर्ण प्रभाव डाल सकते हैं। 

इस शोध के लिए अध्ययनकतार्ओं ने 67,903 प्रतिभागियों का आकलन किया था, जिनका माइग्रेन, हृदय रोग के लक्षणों के बीच संबंध और हार्मोन थेरेपी के इस्तेमाल का जुड़ाव रहा था। 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Hormone therapy is safe for women suffering from migraine
आपके स्वभाव के लिए जिम्मेदार हैं हार्मोंसमेडिटेशन के स्टाइल से तय होगा किस गेयर में दौड़ेगा दिमाग