बुधवार, 17 सितम्बर, 2014 | 21:05 | IST
  RSS |    Site Image Loading Image Loading
यह जनुल आबेदीन का जन्मशती-वर्ष है। आखिर उन्हें याद करना क्यों जरूरी है? जैनुल आबेदीन के चित्रों से दुनिया ने पहली बार 1943 के अकाल की विभीषिका को मानवीय अर्थों में समझ। आगे पढे
 
भारत-जापान कूटनीतिक वार्ता के लिए मैं टोक्यो में था। इसे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की जापान-यात्रा के साथ जोड़ा गया था। भारत-जापान संबंधों ने एक लंबा सफर तय किया है। आगे पढे
 
सरकार ने एक लाख करोड़ रुपये लागत की विभिन्न परियोजनाओं वाले डिजिटल इंडिया कार्यक्रम को मंजूरी दे दी है। आगे पढे
 
पीएम के साथ जापान यात्रा पर गए एक मित्र-पत्रकार ने अपने मोबाइल-कैमरे से सौ फोटू खेंचकर हर पांच मिनट पर एक फोंटू फेसबुक-ट्विटर पर ठोकी, इस उम्मीद में कि लोग उसे लाइक करेंगे। आगे पढे
 
विज्ञापन में हंसते चेहरे को देखना अच्छा लगता है। वहीं, पारिवारिक टीवी सीरियल, जिनमें तरह-तरह के तनाव भरे चेहरे देखना या तो आपको अच्छा नहीं लगता या आप उन्हें देखकर जल्दी ऊब जाते हैं। आगे पढे
 
 
इंटरनेट और उससे जुड़े माध्यमों और विधा रूपों के आने के बाद से संचार की दुनिया में मूलगामी बदलाव आया है। वैचारिक संघर्ष पहले की तुलना में ज्यादा जटिल और तीव्र हो गया है। आगे पढे
 
कश्मीर ही नहीं, उत्तर भारत, नेपाल और पाकिस्तान के कई हिस्सों में नदियों का जो रौद्र रूप इन दिनों दिख रहा है, उनमें से ज्यादातर हिमालय पर्वत की श्रेणियों से ही निकलती हैं। आगे पढे
 
उम्र साढ़े आठ साल, कक्षा तीन में पढ़ती है। चूंकि स्कूल सुबह पौने आठ से है, सो साढ़े छह बजे सोकर उठती है। स्कूल से घर आने में दो बज जाता है। आगे पढे
 
रिश्तों को नया आयाम गुजरात में एक औद्योगिक पार्क स्थापित करने के समझौते पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और चीन के राष्ट्रपति शी चिनफिंग की उपस्थिति में हस्ताक्षर हुए। गुजरात में एक औद्योगिक पार्क स्थापित करने के समझौते पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और चीन के राष्ट्रपति शी चिनफिंग की उपस्थिति में हस्ताक्षर हुए। अन्य फोटो
नैतिकता जी बड़ी तेजी से राजभवन की ओर भागी जा रही थीं। हम बड़ी मुश्किल से उनसे बचे, नहीं तो टकरा ही जाते। आगे पढे
 
यह दौड़ और होड़ का दौर है। हर कोई आगे से आगे भागने की कोशिश में है। पीछे कौन गिरा, कौन बेहोश हुआ, किसकी टांगों ने जवाब दे दिया, इसे देखने की फुरसत किसी के पास नहीं। आगे पढे
 
अमेरिका और चीन जैसे उन देशों में भारत भी शामिल है, जहां अब भी मौत की सजा दी जाती है। यूरोपीय संघ ने इस सजा को खत्म कर दिया है। आगे पढे
 
एक बोतल शराब के लिए चिलचिलाती धूप में सब्र के साथ खड़े लुंगीधारी पुरुषों की लंबी-सर्पिली कतारें केरल के आम नजारों में शामिल रही हैं। आगे पढे
 
प्रतिभा पलायन का रुख इस समय बदला हुआ दिख रहा है। हाल ही में केंद्रीय राज्य मंत्री जितेंद्र सिंह ने कहा कि दुनिया के कोने-कोने में बड़ी संख्या में काम कर रहे भारतीय उद्यमी और वैज्ञानिक स्वदेश में काम करने को लेकर उत्सुक हैं। आगे पढे
 
जैसे अंतरिक्ष की दुनिया है, वैसे ही आंकड़ों की भी है। एक में जीवन के अस्तित्व की तलाश जारी है, दूसरे में असलियत की। आगे पढे
 
अपने मन को समझना हो, तो उसके स्वभाव को समझना जरूरी है। जिंदगी में आपको कितना भी मिल जाए, कभी संतोष नहीं होता। मन कभी भरता नहीं, ‘और’ की मांग बनी ही रहती है। आगे पढे
 
1 2 34 5 6 7 8 9 10

लाइवहिन्दुस्तान पर अन्य ख़बरें

आज का मौसम राशिफल
अपना शहर चुने  
धूपसूर्यादय
सूर्यास्त
नमी
 : 05:41 AM
 : 06:55 PM
 : 16 %
अधिकतम
तापमान
43°
.
|
न्यूनतम
तापमान
24°