गुरुवार, 31 जुलाई, 2014 | 06:49 | IST
  RSS |    Site Image Loading Image Loading
इस्लामिक स्टेट ऑफ इराक ऐंड सीरिया (आईएसआईएस) ने दुनिया को अपना पहला परिचय एक वीडियो फुटेज से दिया था। इस वीडियो में उसके आतंकी इराकी फौजियों की निर्ममतापूर्वक हत्या करते हुए दिखाई देते हैं। आगे पढे
 
आजकल बच्चे इतनी सारी किताबों का बोझ ढोते हैं कि एक बात समझने में दिक्कत होती है- क्यों हमें राष्ट्रमंडल खेलों में वेटलिफ्टिंग में कुछ ही मैडल मिले? आगे पढे
 
प्रेमचंद का नाम हिंदी के उन महबूब लेखकों में शुमार है, जिनकी पहुंच केवल साहित्य समाज तक महदूद नहीं है। वह हिंदी-उर्दू भाषी समाज के वृहत्तर दायरे में याद किए जाते हैं। हिंदी और उर्दू, दोनों के साहित्य में प्रेमचंद का योगदान युग- निर्माता जैसा है। आगे पढे
 
आषाढ़ बीता भी नहीं था कि लोगों ने हल्ला मचा दिया, ‘इस साल गरमी की हद हो गई है। न जाने भगवान ने क्या सोचा है? बादल आते हैं, लेकिन बिना बरसे चले जाते हैं।’ आगे पढे
 
मिस्टर मार्केट, तुम अपने टारगेट पूरा करने के चक्कर में हमें क्यों टारगेट बनाते हो? हम छोटे लोग हैं, लोअर मीडिल क्लास। लेकिन हमारी संवेदनाएं, प्यार की संभावनाएं बड़ी और अपार हैं। आगे पढे
 
 
अक्तूबर 1984 में मुझे कोलकाता के सेंटर फॉर स्टडीज इन सोशल साइंसेज में पहली अकादमिक नौकरी मिली। नौकरी शुरू करने के एक हफ्ते बाद चेन्नई के एक मित्र ने श्रीलंका के तमिलों की बुरी हालत पर एक पत्र भेजा। आगे पढे
 
दहेज विरोधी कानून के दुरुपयोग का मसला काफी समय से चर्चा में है, लेकिन अब सरकार इस कानून में संशोधन पर विचार कर रही है। आगे पढे
 
दस में से नौ शहरी नौजवान एप्पल का मतलब इन दिनों मोबाइल फोन या आईपॉड से लगाते हैं। एप्पल वो, जिसे अमेरिकी कंपनी बेचती है और उसकी स्टाइल पर चीनी कंपनी बेचती है। आगे पढे
 
पुणे में भूस्खलन अतिरिक्त जिलाधिकारी गणेश पाटिल ने बताया कि बचाव कार्य में एनडीआरएफ के करीब 300 कर्मचारी स्थानीय प्रशासन की   मदद कर रहे हैं। अतिरिक्त जिलाधिकारी गणेश पाटिल ने बताया कि बचाव कार्य में एनडीआरएफ के करीब 300 कर्मचारी स्थानीय प्रशासन की मदद कर रहे हैं। अन्य फोटो
टीवी पर एक फिल्म चल रही थी- रॉकी बालबोआ। सिल्वर स्टेलेन की इस फिल्म में बढ़ती उम्र के बावजूद एक युवा बॉक्सर से लड़ने को तैयार एक पात्र कहता है-‘जीवन में यह मायने नहीं रखता कि तुमने कितने वार किए, यह मायने रखता है कि तुमने कितना सहा। आगे पढे
 
हम घोर धार्मिक मनई हैं। नास्तिक की हद तक। कबीर, नानक, अब्राहम, यीशु वगैरह, सब हमारे पुरखे हैं, जो जिंदगी का सलीका बताते हैं। उसे अपनाने की कोशिश करता हूं। आगे पढे
 
इस साल मानसून का जो हाल है, वह बहुत डराने वाला है। इससे गुजरे छह हफ्ते से जो अनिश्चितता पैदा हुई है, वह एक बुरी आशंका की ओर इशारा कर रही है। आगे पढे
 
शूटिंग के खेल में लगातार अच्छी खबर आ रही है। पिछले एक दशक यानी 2004 से लेकर अब तक अगर सही मायने में देखा जाए, तो शूटिंग ने देश को गर्व के सबसे ज्यादा मौके दिए हैं। आगे पढे
 
लोग फोकट में परेशान हैं, जबकि सरकार महंगाई की चिंता में दुबली हो रही है। हालांकि बढ़ती महंगाई अब केवल चैनलों और अखबारों में है। आगे पढे
 
पंडित बिरजू महाराज, गिरिजा देवी, पंडित जसराज, अमिताभ बच्चन, स्वर साम्राज्ञी लता मंगेशकर जैसे कई कलाकार हैं, जो अपने जीवन के साठ से ज्यादा वसंत देख चुके हैं। आगे पढे
 
बुधवार को भारत ने रूस, ब्राजील, दक्षिण अफ्रीका और चीन के साथ मिलकर संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार परिषद में पेश फलस्तीनी प्रस्ताव के पक्ष में वोट दिया, जबकि यूरोपीय देशों ने वोट में हिस्सा नहीं लिया और अमेरिका ने खिलाफ में वोट डाला। आगे पढे
 
12 3 4 5 6 7 8 9 10

लाइवहिन्दुस्तान पर अन्य ख़बरें

आज का मौसम राशिफल
अपना शहर चुने  
धूपसूर्यादय
सूर्यास्त
नमी
 : 05:41 AM
 : 06:55 PM
 : 16 %
अधिकतम
तापमान
43°
.
|
न्यूनतम
तापमान
24°