class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

GST: IPL में लगेगा 28 फीसदी टैक्स, बूचड़खानों व पशु चिकित्सालयों को मिलेगी छूट

gst

वस्तु एवं सेवाकर (जीएसटी) की नई प्रणाली में पशु चिकित्साल सेवाओं व बूचड़खानों को कर से छूट होगी जबकि थीम पार्क व आईपीएल जैसे खेल आयोजनों पर 28 प्रतिशत की दर से टैक्स लगेगा। जीएसटी परिषद की यहां हुई दो दिवसीय बैठक में उक्त दरों को अंतिम रूप दिया गया। सरकार नई टैक्स प्रणाली को एक जुलाई से लागू करने का लक्ष्य लेकर चल रही है।

इसके तहत आउटडोर कैटरिंग में भोजन व पेय पदार्थों की आपूर्ति, सर्कस शो, क्लासिक डांस (लोक नृत्य, ड्रामा व थियेटर प्रस्तुतियों सहित) पर 18 प्रतिशत जीएसटी लगेगा। परिषद ने मौजूदा सेवा कर प्रणाली में दी जा रही ज्यादातर छूटों को जारी रखने का फैसला किया है।

इकोनामी क्लास में हवाई यात्रा करना पांच प्रतिशत जीएसटी के साथ सस्ता रहेगा जबकि क्षेत्रीय संपर्क योजना से जुड़े हवाई अड्डों से हवाई यात्रा भी इसी कर दर के कारण सस्ती रहेगी। बौद्धिक संपदा (आईपी) के इस्तेमाल की अस्थायी अनुमति या स्थानांतरण पर 12 प्रतिशत जीएसटी लगेगी जबकि आईपी के स्थायी स्थानांतरण भी इसी दर से कर लगेगा। 

टोल आपरेटरों की सेवाओं के साथ साथ बिजली वितरण व पारेषण तथा आवासीय मकान किराए पर देने को जीएसटी से छूट दी गई है। जिन सेवाओं को जीएसटी से छूट दी गई है उनमें पशु बूचड़खाने, बैंकों द्वारा ऋण व जमाएं देना तथा पशु चिकित्सालयों द्वारा उपलब्ध करवाई गई सेवाएं शामिल है।

किसी वरिष्ठ वकील द्वारा कारोबारी इकाई से इतर किसी व्यक्ति को दी जाने वाली विधि सेवाओं या किसी वित्त वर्ष में 20 लाख रुपये तक के कारोबार वाली कारोबारी इकाई को जीएसटी से छूट रहेगी। किताबें उधार देने की सेवाएं देने वाले सार्वजनिक पुस्तकालयों तथा फलों व सब्जियों की खुदरा पैकेजिंग व लेबलिंग को सशर्त छूट दी गई है।

इसी तरह बिना एसी वाले रेस्टोरेंट में भोजन बिल पर 12 प्रतिशत जीएसटी लगेगा। मदिरा लाइसेंस वाले एसी रेस्टोरेंट में कर की दर 18 प्रतिशत रहेगी। वहीं पांच सितारा होटलों में जीएसटी की दर 28 प्रतिशत रहेगी। इसी तरह 50 लाख रुपये या कम कारोबार वाले रेस्टोरेंट पर पांच प्रतिशत की दर से जीएसटी लगेगा। वहीं सफेदी (पुताई) जैसे ठेके पर किए जाने वाले काम पर 12 प्रतिशत जीएसटी लगेगा।

जीएसटी के तहत मनोरंजन कर को सेवा कर में मिला दिया जाएगा जबकि सिनेमा सेवाओं, घुड़दौड़ में बाजी लगाने या गेंबलिंग पर 28 प्रतिशत कर लगेगा। सिनेमा हॉल के लिए प्रस्तावित कर दरें मौजूदा दरों की तुलना में 40 से 55 प्रतिशत तक कम है। इससे जहां सिनेमा टिकटें सस्ती हो सकती हैं और उन पर शुल्क लगाने का अधिकार राज्यों के पस ही रहेगा। 

प्रति दिन 1000 रुपये का शुल्क लगाने वाले होटल व लॉज को जीएसटी में छूट रहेगी। वहीं 1000 से 2000 रुपये प्रति दिन शुल्क वाले होटल के लिए शुल्क दर 12 प्रतिशत रहेगी। इसी तरह 2500 से 5000 रुपये प्रति दिन शुल्क वाले होटल के लिए शुल्क दर 18 प्रतिशत रहेगी। इसी तरह 5000 रुपये से अधिक प्रतिदिन शुल्क वाले होटल के लिए शुल्क दर 28 प्रतिशत होगी।
   
बिना एसी वाली रेलगांडी में यात्रा, लोकल ट्रेन और मेट्रो ट्रेन में यात्रा जीएसटी से छूट होगी जबकि वातानुकूलित रेलगाड़ी में यात्रा पर पांच प्रतिशत सेवाकर जीएसटी लगेगा, इतनी ही दर से माल भाड़े पर भी जीएसटी लगेगा। ओला, उबर जैसी टैक्सी सेवाओं पर पांच प्रतिशत की दर से जीएसटी लगाया जाएगा। दूरसंचार और वित्तीय सेवाओं पर 18 प्रतिशत की दर से जीएसटी लगेगा। जीएसटी परिषद ने जीएसटी व्यवस्था के तहत विभिन्न प्रकार की सेवाओं के लिए 5, 12, 18 और 28 प्रतिशत की दर से सेवाकर लगाए जाने का फैसला किया है। 
 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Theme park visit to attract 28% GST, animal slaughtering, vet