class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

अप्रैल-सितंबर के बीच 15.8 प्रतिशत बढ़ा प्रत्यक्ष कर संग्रह

चालू वित्त वर्ष की पहली छमाही में सितंबर तक देश का प्रत्यक्ष कर संग्रह 3.86 लाख करोड़ रुपये रहा। यह पिछले वित्त वर्ष की समान अवधि में संग्रहित कर की तुलना में 15.8 प्रतिशत अधिक है।
 
केंद्रीय प्रत्यक्ष कर बोर्ड (सीबीडीटी) के अनुसार, चालू वित्त वर्ष के बजट में प्रत्यक्ष कर से 9.8 लाख करोड़ रुपये संग्रहित करने का अनुमान जताया गया था। पहली छमाही तक संग्रहित कर बजट अनुमान का 39.4 प्रतिशत है।

अप्रैल से सितंबर तक छह महीने में सकल कर संग्रह 4.66 लाख करोड़ रुपये रहा जो पिछले वित्त वर्ष की समान अवधि में संग्रहित सकल कर की तुलना में 10.3 प्रतिशत अधिक है। पहले छह महीने में 79,660 करोड़ रुपये का रिफंड किया गया है। इस वर्ष 30 सितंबर तक 1.77 लाख करोड़ रुपये अग्रिम कर के रूप में संग्रहित हुए हैं। इस अवधि में अग्रिम कर संग्रह में 11.5 प्रतिशत की वृद्धि दर्ज की गई है। कॉर्पोरेट आयकर अग्रिम कर में 8.1 प्रतिशत और व्यक्तिगत आयकर अग्रिम कर में 30.1 प्रतिशत की बढ़ोतरी हुई है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: Direct tax collections jump 16 percent in April-September
पेटीएम गोल्ड की खरीद पर 3 फीसदी अतिरिक्त सोना का ऑफरसोने में मामूली गिरावट, चांदी हुई 41 हजारी