Live Hindustan
  • जिन नीतियों ने अपने जमाने में शतक जमाए हों उसे नीति शतक कहा जाता है। उनमें कहा गया है कि राजा भी तीन प्रकार के होते हैं। उत्तम, मध्यम और अधम। जो अपने शत्रुओं के साथ-साथ अपना निवास भी बढ़ाता रहे...

    23 जून, 2017 10:51 PM Spirituality human nature satire
  • मैं तलहटी में था। वह अपने फ्लेट की बालकनी में टंगी थीं। दोनों के बीच खासी दूरी थी। फिर भी वह दिख रही थीं। उनके चेहरे पर चिपकी मुस्कान वातावरण में बूंद-बूंद टपक रही थी, जैसे इधर एसी यूनिट का पानी...

    22 जून, 2017 9:37 PM International Yoga Day Yoga Day Narendra Modi
  • मैं पहले सोचता था कि आखिर तमाम मंत्री सरकारी खर्च पर बड़े-बडे़ विज्ञापन क्यों छपवाते हैं? लंबे वक्त तक अखबारों में नौकरी की है, इसलिए यह ठीक ही लगता था कि चलो, अखबार की कमाई हो रही है, इससे कुछ...

    22 जून, 2017 12:04 AM Minister government spending advertisement
  • अब बकरे की मां खैर मना सकती है। पहले तो स्थिति इतनी निराशाजनक थी कि कोई भी ऐरा-गैरा नत्थू-खैरा कह देता था कि बकरे की मां आखिर कब तक खैर मनाएगी? मगर अब उम्मीद की एक किरण दिखाई दी है। देखिए...

    20 जून, 2017 11:24 PM Cleaning campaign cow
  • शादी प्रधान इस देश में जैसे ही बेटा अपने पैरों पर खड़ा होता है, औसत भारतीय मां-बाप उसको घोड़ी पर बैठे देखना चाहते हैं। अपनी बेटी कैसी भी हो, पर कामना सर्वगुण-संपन्न बहू की ही होती है। भले ही शादी...

    19 जून, 2017 9:47 PM Marriage advertising for marriage online marriage
  • इस देश में किसानों की जातियों जैसी ही मान्यता है। सुमित्रानंदन पंत जी की पंक्ति भारत माता ग्रामवासिनी  इस तथ्य की साक्षी है। जहांंं तक राजनीतिक दलों का प्रश्न है, तो उनका सीमित लक्ष्य...

    18 जून, 2017 10:40 PM Farmer bank loan government
  • कहते हैं कि जो राजा बाल-बच्चेदार नहीं होता, वह घूमने में व्यस्त रहता है। यह एक आधुनिक सोच है कि मोह-माया से मुक्त संन्यासी भी शासन चला सकते हैं। संन्यास में कहा भी गया है कि यह त्याग भी एक तपस्या...

    16 जून, 2017 10:04 PM Satire article Hindi satire
  • भूत मुझे बेहद पसंद हैं। बचपन से आकर्षित करते रहे हैं। भूतिया फिल्में देखना। भूतों पर आधारित किस्से-कहानियां सुनना। भूतिया जगहों पर जाना।  अक्सर खुद को मैं इसलिए भी गरियाता हूं कि मैंने...

    15 जून, 2017 9:02 PM Ghost fear of ghost next birth
  • फिल्म संगीत में जरा भी दिलचस्पी रखने वाले लोग जानते हैं कि फिल्म संगीत में पिछले कुछ वर्षों से एक यंत्र आया है, जिसे ‘ऑटोट्यूनर’ कहते हैं। जैसे कि नाम से ही जाहिर है, यह यंत्र बेसुरे गाने को...

    14 जून, 2017 11:14 PM Film music unemployed actor
  • तेईस रेलवे स्टेशनों का पब्लिक-प्राइवेट पार्टनरशिप में मुनाफादायक इस्तेमाल होगा। प्लान धांसू है, पर नया नहीं। कुछ साल पहले पब्लिक-प्राइवेट पार्टनरशिप की एक योजना थी कि स्टेशनों के नाम के...

    13 जून, 2017 10:26 PM Indian Railways China Private Company
  • यह वैसा मामला नहीं था साहब कि यह लो दारू की बोतल और मुरगा, कल वोट डालने आ जाना। और हां, पता है न बटन कौन सा दबाना है? तमिलनाडु में तो सुना है कि लिफाफा चलता है। शादी-ब्याह के शगुन की तरह। पर यह तो...

    12 जून, 2017 9:38 PM Satire UP UP Government
  • हर देश अपनी सांस्कृतिक या सामरिक धरोहर को संजोकर रखता है, फिर भारत जैसा ऐतिहासिक मुुल्क ऐसा क्यों न करे? हमें अपने पांच हजार साल के ऊपर के अतीत पर गर्व है। कुछ कहते हैं कि तब यहां दूध-घी की...

    11 जून, 2017 11:20 PM Future present reservation
  • गरमियों में हमारे यहां अपराध के सरकारी आंकड़े काफी कम हो जाते हैं। सरकार खुश रहती है। अखबारों में उपलब्धियों का डंका पिटने लगता है। मगर अपराधों में कमी सरकारी प्रयासों से नहीं, भीषण गरमी के...

    9 जून, 2017 11:22 PM Pakistan Kashmir violence in Kashmir
  • आज के समय में अहा! ग्राम्य जीवन भी क्या है  जैसी कविताएं नहीं लिखी जातीं। किसान और भिखारी भी कोई कविता की चीज हैं? किसी दौर में मैथिली शरण गुप्त और सूर्यकांत त्रिपाठी निराला मुंह फटी पुरानी...

    8 जून, 2017 11:51 PM Farmer movement Mandsaur Mandsaur Kisan movement
  • सरकारों के लिए कोई नई चीज बनाने के मुकाबले किसी चलती हुई चीज पर रोक लगाना आसान होता है। हमारे देश में सरकार की किसी नई पहल में चाहे बरसों लग जाएं, पर यदि किसी चीज पर पाबंदी लगानी हो, तो वह...

    8 जून, 2017 12:04 AM Government democratic rights
  • 1
  • of
  • 16

पप्पू: सर लोग हिंदी या इंग्लिश में ही बात करते है...

पप्पू: सर लोग हिंदी या इंग्लिश में ही बात करते है। मैथ्स में क्यों नही..?

टीचर: ज्यादा 3-5 न कर, 9-2-11 हो जा, वरना 5-7 खीच के दूंगा,
6 के 36 नज़र आयेंगे और 32 के 32 बहार आ जायेंगे।

पप्पू: सर, हिंदी और इंग्लिश ही ठीक है। मैथ्स वाकई खोफनाक सब्जेक्ट है।