Live Hindustan
  • दुनिया ने जिस दिन योग दिवस मनाया, उसी दिन भारत ने लखनऊ  में योग की मिट्टी पलीद कर दी। योग का पहला सबक है यम। यम का पहला सूत्र है किसी भी तरह की हिंसा का परित्याग। और लखनऊ में क्या हुआ? लखनऊ...

    22 जून, 2017 9:32 PM International Yoga Day Narendra Modi Democracy
  • जब पूरा देश अंतरराष्ट्रीय योग दिवस मनाने में जुटा रहा, तब योगसूत्र और महाभाष्य के प्रणेता महर्षि पतंजलि की जन्मभूमि का हाल पूछने वाला कोई न था। उत्तर प्रदेश के गोंडा जिले के कोंडर गांव स्थित...

    21 जून, 2017 11:57 PM International Yoga Day Maharshi Patanjali Janmabhoomi
  • मैंने पिछले हफ्ते क्या कहा था? यही न कि मुद्दा मैच जीतना नहीं, इंडिया या पाकिस्तान में से किसी एक को हराना है। वही हुआ। फर्ज करें, यही मैच पाकिस्तान की बजाय साउथ अफ्रीका जीतता, तो क्या कानपुर...

    20 जून, 2017 11:22 PM India Pakistan South Africa
  • बेहया के फूलों पर नजर तो सबकी ही पड़ती है, उन्हें ठहरकर देखता कोई नहीं। तालाबों, पोखरों, नदियों के किनारे और कीचड़ भरे गड्ढ़ों में इफरात से पाया जाने वाला गंधरहित, लेकिन खूबसूरत यह फूल हमारी...

    19 जून, 2017 9:43 PM Social Media Behavior Character
  • क्रिकेट देखते हुए कई बार मैं दार्शनिक हो उठता हूं। लगता है कि मेरी जीवन-व्यक्तिगतता या सभ्यता की सामूहिकता ही तो इस खेल में घटित हो रही है और हम ही दर्शक हैं। जीत-हार, हर्ष-विषाद के बीच मैंने एक...

    18 जून, 2017 10:38 PM Cricket philosophical life
  • महान संगीतकार सज्जाद हुसैन साहब का जन्म-शताब्दी वर्ष शुरू हो गया है। एक ऐसे समय में, जब संगीत को लेकर प्रयोगों और तकनीकी की सबसे समृद्ध दशा में हमारा हिंदी फिल्म संगीत पहुंच गया है, अपने दौर के...

    16 जून, 2017 9:59 PM Sajjad Hussain musician birth centenary
  • नेताजी दलित के घर भोजन करने गए। उन्होंने अपनी एक करोड़ की कार को दलित के घर के सामने रोक दिया। और फिर उनकी गाड़ी के पीछे जो 50-50 लाख की गाड़ियां थीं, वे भी रुक गईं। दलित घर के बाहर खड़ा था। उसके पैर कांप...

    15 जून, 2017 8:58 PM Dalit Dalit's home leader social media
  • आज अगर चे ग्वारा जिंदा होते, तो 89 साल के होते, लेकिन चे को जब नौ अक्तूबर, 1967 को मारा गया, तब उनकी उम्र महज 39 साल थी। यह कम ही लोगों की जानकारी में है कि चे ग्वारा ने भारत की भी यात्रा की थी। तब वह...

    14 जून, 2017 11:11 PM Che Guevara India
  • ब्रेख्त का एक नाटक है, जिसमें (कम्युनिस्ट) पार्टी ने अपने एक निष्ठावान युवा कार्यकर्ता को एक मिशन के तहत जरूरी संदेश के साथ उस इलाके में भेजा, जो दुश्मन का इलाका था। गंतव्य तक पहुंचने से पहले...

    13 जून, 2017 10:18 PM Social media true courage to say truth
  • किसी को ऐंवेई देश में जन-संस्कृति बचाने की जिम्मेदारी नहीं दी जाती। उसके लिए जीवन भर के त्याग और तपस्या की जरूरत होती है। पूरा जीवन जन-आंदोलन से जन-संस्कृति की तरफ बढ़ने में लगाना होता है। केवल...

    12 जून, 2017 9:25 PM Culture indian culture social media
  • मंटो जबरदस्त कहानीकार थे। मिस्टेक उन्हीं की लिखी हुई कहानी है। हिंदू- मुस्लिम दंगों के दौरान एक आदमी किसी की हत्या कर देता है। हत्या करने के बाद पता चलता है कि जिसकी हत्या की गई, उसका धर्म और...

    11 जून, 2017 11:15 PM Hindu-Muslim Riots Mistake Manto
  • दिल्ली के सरोजिनी नगर मार्केट में घूमते राहुल को पर्स, बेल्ट, चश्मा वगैरह बेचते एक खोमचे वाले ने टोका- बाबू, तुम रायबरेली के निसगर गांव से हो न। मुझे पहचाना? मैं छतौना का आदिल खान हूं।  राहुल...

    9 जून, 2017 10:55 PM Indian identity social media
  • दूर-दूर तक खेत। खेतों में कदंब के पेड़। हल्की हवा। दस दिनों से झुलसा देने वाली धूप के बाद आज सुबह से बादलों ने डेरा जमाया हुआ है, बरखा की आशा है। पूर्णिया के आस-पास बारिश हुई है। खेतों और सब्जियों...

    8 जून, 2017 11:45 PM Social media rain weather
  • 21 साल में दुनिया बहुत बदल गई। डेस्कटॉप की जगह लैपटॉप और पामटॉप ने ले ली। लेकिन दो चीजें हैं कि बदलती ही नहीं। एक दिल्ली टु बिहार या फिर बिहार टु दिल्ली का रेल टिकट कन्फर्म मिलना और दूसरा राज्य...

    8 जून, 2017 12:01 AM Bihar desktop Delhi
  • महानगर दिल्ली में आया था, तो उस चौराहे पर पीपल का एक बड़ा पेड़ था। उसी इलाके में रहता था, इसलिए आते-जाते उससे बात-मुलाकात हो जाती थी। दुआ-सलाम भी कर लेता था। इतने बड़े महानगर में, कंक्रीट के घने जंगल...

    7 जून, 2017 12:05 AM Environment trees environmental protection
  • 1
  • of
  • 17

पप्पू: सर लोग हिंदी या इंग्लिश में ही बात करते है...

पप्पू: सर लोग हिंदी या इंग्लिश में ही बात करते है। मैथ्स में क्यों नही..?

टीचर: ज्यादा 3-5 न कर, 9-2-11 हो जा, वरना 5-7 खीच के दूंगा,
6 के 36 नज़र आयेंगे और 32 के 32 बहार आ जायेंगे।

पप्पू: सर, हिंदी और इंग्लिश ही ठीक है। मैथ्स वाकई खोफनाक सब्जेक्ट है।