Editorial, Blog, Articles, Taja Openion, Mail Box, Meri kahani and Jeena isi ka Naam – Hindustan Editorial Articles
shashi shekhar

शरण और सुरक्षा के बीच रोहिंग्या

दिल्ली से वाराणसी जाने वाले जहाज में अपनी सीट पर विराजते ही मैंने आदतन मोबाइल फोन की स्क्रीन को निहारा, उस पर पत्रकार मित्र निक यानी निकोलस डावेस का ट्वीट चमक रहा था। निक ने ‘ह्यूमन राइट्स...

फूफा जी: बेटा इंटर के बाद आगे क्या करोगे..

फूफा जी: बेटा इंटर के बाद आगे क्या करोगे..

भतीजा: बीटेक के लिए फॉर्म डाल रहे हैं, देखो क्या होता है..

फूफा जी: अगर रैंक अच्छी नहीं आई तो..

भतीजा: तो फिर कहीं से सिंपल ग्रेजुएशन कर लेंगे..

फूफा जी: अच्छा मान लो इंटर में बाई चांस लटक गए तो..?

भतीजा: तो फिर एक मर्डर करेंगे, एक रिश्तेदार का.. हमारी कुण्डली में लिखा है..