class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सीवान में बवाल के बाद फायरिंग, एसडीओ का सिर फटा

Siwan

1 / 2Siwan

Siwan

2 / 2Siwan

PreviousNext

शहर के कचहरी ढाला रेलवे स्टेशन के समीप अतिक्रमण हटाने गई पुलिस पर लोगों ने बुधवार को जमकर पथराव किया। इससे घटनास्थल पर अफरातफरी मच गई। पथराव में सदर एसडीओ श्यामबिहारी मीना व सदर सीओ श्यामाकांत प्रसाद समेत चार अन्य पुलिस कर्मी गंभीर रूप से घायल हो गये। एसडीओ समेत अन्य को इलाज के लिये सदर अस्पताल में भर्ती कराया गया।

पत्थरबाजी से गुस्साये पुलिस पदाधिकारी व पुलिस के जवानों ने दौड़ा-दौड़ा कर लोगों को पीटना शुरू कर दिया। इस दौरान पुलिस ने पथराव करने के आरोप में पंद्रह से बीस लोगों को पकड़ लिया। कहा गया कि सभी जेल भेजे जायेंगे। पथराव के बाद स्थिति को नियंत्रण में करने के लिये पुलिस द्वारा फायरिंग की गई। दूसरी ओर पत्थरबाजी करने वालों की धरपकड़ शुरू कर दी गई।

यह देख लोग कचहरी ढाला, ललित बस स्टैंड व श्रीनगर के रास्ते भागना शुरू कर दिये। हालांकि कचहरी ढाला के समीप पत्थरबाजी करने वालों की पहचान कर उन्हें श्रीकृष्णा मिष्ठान भंडार व श्रीकृष्णा प्लाई दुकान से पकड़ लिया गया। वहीं कुछ लोगों की गिरफ्तारी छिपने व भागने के क्रम में की गई।

इधर, घटना की सूचना मिलने पर डीएम महेन्द्र कुमार, एसपी सौरभ कुमार साह व एसपी कार्तिकेय शर्मा घटनास्थल पर पहुंचे। सदर अस्पताल में प्राथमिक इलाज के बाद एसडीओ समेत अन्य को छुट्टी दे दी गई। बहरहाल, शहर में पुलिस व प्रशासन द्वारा मंगलवार से अतिक्रमण हटाने का अभियान शुरू किया गया है। पहले दिन शहर के गोपालगंज मोड़ से कचहरी ढाला तक अतिक्रमण हटाया गया था। उस दिन भी कचहरी ढाला स्टेशन के समीप श्रीकृष्णा प्लाई दुकान द्वारा अतिक्रमण हटाने का विरोध किया गया था। हालांकि अतिक्रमण हटा दिया गया।

गुरुवार को एक बार फिर से अतिक्रमण हटाने का कार्य शुरू हुआ। अतिक्रमणकारियों द्वारा कचहरी रेलवे स्टेशन के समीप एक दुकान व अन्य दुकानदारों द्वारा फिर से अतिक्रमण करने की सूचना पर एसडीओ श्यामबिहारी मीना व एसपी कार्तिकेय शर्मा अतिक्रमण हटवाने दिन के साढ़े ग्यारह से बारह के बीच करीब पहुंचे।

बताया जाता है कि अतिक्रमण नहीं हटाने पर सख्त कार्रवाई व एफआईआर करने की चेतावनी भी दी। इस मामले में दुकानदार द्वारा सकारात्मक सहयोग का आश्वासन मिलने के बाद अधिकारी द्वय पुलिस फोर्स व अन्य के साथ गोपालगंज मोड़ की ओर रवाना हो गये। इधर पीछे-पीछे चल रहे पुलिस के जवान व अन्य को श्रीकृष्णा प्लाई दुकान के समीप ही घेर कर उन पर हमला कर दिया गया।

कुछ पुलिसकर्मियों की अतिक्रमणकारियों व अन्य लोगों द्वारा पिटाई कर दी गई। सूचना मिलते ही पीछे की ओर भागे एसडीओ मीना व सीओ श्यामाकांत पर भी हमला कर दिया गया। इसमें एसडीओ का सिर फट गया जबकि उनके हाथ में भी चोट आई।

घायल पुलिस कर्मियों में एसआई भोलाराम मांझी, होमगार्ड के जवान उमेश्वर सिंह, मुफस्सिल थाने के सिपाही राजेश कुमार यादव व हवलदार लालबाबू सिंह शामिल हैं। एसडीओ व एएसपी की गाड़ी के शीशे भी पत्थरबाजी में क्षतिग्रस्त हो गये।

एसपी सौरभ कुमार साह ने कहा कि अतिक्रमण हटाने गई पुलिस पर पथराव के क्रम में सदर एसडीओ व सदर सीओ समेत चार पुलिस कर्मी घायल हो गये हैं। पंद्रह से बीस लोगों की पहचान कर उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया है। अन्य की पहचान की जा रही है।

पटना हादसा :1 ही परिवार के 6 लोग गंगा में डूबे,CM नीतीश ने जताया शोक

जमीन विवाद ने लिया हिंसक रूप, भाभी को डंडे से पीट-पीटकर मार डाला

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: Firing after burning in Siwan, SDO's head cracked
सीवान में जस्टिस के भतीजे के पेट्रोल पंप से लूटसीवान में तीन बच्चों की डूबने से मौत