class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

नीतीश ने नेत्रदान करने की घोषणा की, सभी मेडिकल कॉलेजों में खुलेंगे आई बैंक

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने घोषणा की कि राज्य के सभी मेडिकल कॉलेजों और राजेंद्र नगर सुपर स्पेशियलिटी अस्पताल में इस साल के अंत तक आई बैंक की स्थापना की जाएगी। उन्होंने कहा कि आईजीआईएमएस में किडनी ट्रांसप्लांट की शुरुआत हो चुकी है। जल्द ही यहां लिवर ट्रांसप्लांटेशन भी शुरू होगा। पीएमसीएच में भी किडनी ट्रांसप्लांटेशन के लिए काम चल रहा है।
मुख्यमंत्री रविवार को दधीचि देहदान समिति की ओर से विद्याभवन में अंतरराष्ट्रीय अंगदान दिवस पर आयोजित कार्यक्रम में बोल रहे थे। उन्होंने कहा कि अभी आईजीआईएमएस में आई बैंक कार्य कर रहा है। इसके जरिए आंखों की कॉर्निया का प्रत्यारोपण किया जा रहा है। नेत्रदान करने वाले दूसरे लोगों की आंखों में रोशनी देकर जाते हैं। 
मुख्यमंत्री ने अपना नेत्रदान करने की भी घोषणा की। कहा कि अंगदान और नेत्रदान के लिए समिति द्वारा चलाया जा रहा अभियान एक बड़ा सामाजिक अभियान है। शराबबंदी, बाल विवाह और दहेजप्रथा के खिलाफ चलने वाले अभियान के साथ-साथ नेत्रदान और अंगदान के लिए भी लोगों को जागरूक किया जाएगा। राज्य सरकार इसमें हर संभव मदद करेगी। 
उन्होंने कहा कि अंगदान, नेत्रदान और देहदान के जरिये लोग उस समय भी याद किये जाएंगे, जब वे इस दुनिया में नहीं रहेंगे। यह मामूली बात नहीं है। उन्होंने कहा कि ब्रेनडेड घोषित करने की सारी व्यवस्था आईजीआईएमएस में की जा चुकी है। जल्द ही यह कार्य यहां होने लगेगा। गौरतलब हो कि दुर्घटनाग्रस्त लोगों के ब्रेन डेड घोषित होने के बाद ही उनके अंग का किसी दूसरे के शरीर में प्रत्यारोपण किया जा सकता है।  
 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Nitish announces to donate eye, Eye bank will be open in every medical college
15 अगस्त को बदली रहेगी शहर की यातायात व्यवस्थाकोई भ्रष्टाचारी नहीं बच सकता : राजीव रंजन